Home  »  HindiLive Well   »   अंडरआर्म्स के कालेपन को दूर करने और देखभाल के लिए अपनाएं ये 6 उपाय

अंडरआर्म्स के कालेपन को दूर करने और देखभाल के लिए अपनाएं ये 6 उपाय

अंडरआर्म्स के कालेपन को दूर करने और देखभाल के लिए अपनाएं ये 6 उपाय

जब लोग बहुत खुश होते हैं तो वे अपने दोनों हाथो को ऊपर की तरफ उठाकर अपनी ख़ुशी का इजहार करते हैं। यह ख़ुशी का संकेत माना जाता है लेकिन एक रिसर्च के अनुसार लगभग 90% महिलाएं अपनी ख़ुशी को व्यक्त करने के लिए बाहों को इस तरह ऊपर नहीं उठाती हैं। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि महिलाएं अंडरआर्म्स या बगल की त्वचा का रंग काला होने की वजह से ऐसा नहीं करती हैं।

वास्तव में देखा जाए तो अंडरआर्म्स या बगल वाला हिस्सा शरीर का बहुत ही संवेदनशील हिस्सा होता है लेकिन अधिकांश लोग इसे हिस्से की साफ़ सफाई पर उतना ध्यान नहीं देते हैं। इस हिस्से से ज्यादा पसीना निकलता है जिसकी वजह से शरीर से बदबू आने लगती है इसके अलावा बाकि अंगों की तुलना में इसका रंग ज्यादा काला होता है और बैक्टीरिया ज्यादा होने की वजह से इसमें खुजली भी होती है। इन्ही समस्याओं की वजह से कई महिलाएं स्लीवलेस ड्रेस भी नहीं पहनती हैं क्योंकि उनका मानना है कि शरीर का यह हिस्सा उनकी खूबसूरती को कम करता है। 

अब स्किन केयर प्रोडक्ट पर पाएं 30% तक की छूट 

कुछ उपायों को अपनाकर आप अंडरआर्म्स से जुड़े इन समस्याओं से छुटकारा पा सकती हैं। अगर स्थिति ज्यादा गंभीर है तो बेहतर होगा कि आप किसी डॉक्टर से अपनी जांच करवाएं। अंडरआर्म्स या कांख को स्वस्थ और तरोताजा रखने के लिए निम्न उपाय अपनाएं। 

1- एंटी पर्सपिरेंट (Antiperspirants) का इस्तेमाल ना करें : पसीना आना बिल्कुल ही सामान्य बात है और बगल के हिस्से में रोमछिद्र ज्यादा बड़े होते हैं जिससे ज्यादा पसीना निकलता है। पसीने निकलने की इस प्रक्रिया से शरीर से टॉक्सिक बाहर निकल जाते हैं। एंटी पर्सपिरेंट का इस्तेमाल करने से यह पसीना बाहर निकालने वाली स्वेद ग्रंथियों को बंद कर देता है जिससे उस हिस्से में खुजली होने लगती है। इसलिए इसका इस्तेमाल ना करें।

हालांकि अंडरआर्म्स को सूखा रखना भी उतना ही ज़रूरी है। इसके लिए आप टी-ट्री एसेंशियल ऑयल, सेब का सिरका, बेकिंग सोडा, नींबू जैसे प्राकृतिक डियोड्रेंट का इस्तेमाल करें। इनका इस्तेमाल करने से बगल में होने वाली खुजली भी मिट जाती है।

2- ज्यादा देखभाल करें : अंडरआर्म्स को साफ़ सुथरा रखने के लिए चेहरे पर लगाये जाने वाले ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें क्योंकि इनमें केमिकल की मात्रा कम होती है और ये बगल की नरम त्वचा को ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचाते हैं। नियमित रूप से इस हिस्से को क्लींजर और स्क्रबर से साफ़ करें और माश्चराइजर लगाएं।

3- बालों से छुटकारा : बगल की नाजुक त्वचा को साफ़ रखने के लिए यह ज़रूरी है कि आप उस हिस्से में उगे बालों को नियमित रूप से साफ़ करती रहें। इसके लिए आप शेविंग, वैक्सिंग या लेजर ट्रीटमेंट की मदद ले सकती हैं। नियमित रूप से बाल हटाने से यह हिस्सा कोमल और मुलायम बना रहता है और खुजली की सम्भावना भी कम होती है।

4- दुर्गन्ध से मुक्ति : कुछ डियोड्रेंट ऐसे होते हैं जिनका इस्तेमाल करने से बगल में तेज खुजली और जलन होने लगती है, ऐसे डियोड्रेंट का इस्तेमाल बिल्कुल ना करें। इसकी बजाय ऐसे डियोड्रेंट का इस्तेमाल करें जिसमें अलसी का तेल मौजूद हो। इससे बदबू भी मिट जाती है और खुजली भी नहीं होती है। इसके अलावा आप नींबू के रस या सेब के सिरके का इस्तेमाल करके भी बगल से आने वाली दुर्गन्ध से छुटकारा पा सकती हैं।

5- त्वचा का रंग काला पड़ने से रोकें : अधिकांश महिलाएं अंडरआर्म्स का रंग काला होने की वजह से परेशान रहती हैं। आपको बता दें कि बहुत अधिक मात्रा में डियोड्रेंट का इस्तेमाल करने से, शरीर में हार्मोनल बदलाव होने से और यूवी किरणों के संपर्क में ज्यादा देर तक रहने से शरीर का यह हिस्सा काला पड़ जाता है। इससे निजात पाने के लिए हल्दी, चारकोल और शहद से तैयार मास्क को इस हिस्से पर लगाएं।

6- त्वचा को सांस लेने दें : अपने शरीर को भरपूर आराम देने से और पौष्टिक आहार का सेवन करने से भी त्वचा में निखार आता है। इसलिए इन अच्छी आदतों को अपनाएं। इसके अलावा हवादार कपड़े पहनें जिससे बगल वाले हिस्से में ज्यादा पसीना ना निकले।

शरीर के बाकी सभी अंगों की तरह अंडरआर्म्स की देखरेख पर भी उतना ही ध्यान दें। ऊपर बताये गये सभी उपायों को अपनाकर आप भी अपने अंडरआर्म्स को स्वस्थ और खूबसूरत बना सकती है और बेझिझक होकर जीवन के हर पलों का भरपूर आनंद ले सकती हैं।  

क्या आप डर्मेटोलॉजिस्ट से मिलना चाहते हैं? अब 1mg पर हर तरह के विशेषज्ञ डॉक्टरों से मुफ्त में सलाह लें।  

 

Facebook Comments

Related Articles