Home  »  Health A-Z   »   दाँतों को सड़ने से रोकें

दाँतों को सड़ने से रोकें

ORAL CARE

By Dr. Varun Gupta

दाँतों की बीमारी क्या है?

दाँतों की सड़न और कॅविटीस दुनिया की सबसे बड़ी परेशानियों मे से एक हैं| ये परेशानी सामान्य तौर पे बच्चो, किशोरों और पचास वर्ष से अधिक उम्रके व्यक्तियों मे पाई जाती है| दाँतों की सड़न उनके सफेद हिस्से के टूटने या बॅक्टीरिया द्वारा संक्रमण के कारण होती है
मुख्य लक्षण:
  • दाँतों मे दर्द या संवेदनशीलता
  • खाते या पीते समय दांतो मे टीस होना
  • दाँतों मे छेद या गड्ढे होना
  • दाँतों पर काले या भूरे दाग होना
दाँत साफ रखने के उपाय:
  • दिन में दो बार कम से कम दो मिनिट के लिए दाँतों को ब्रश करें
  • दाँतों के बीच की जगह को फ्लॉस से साफ करें
  • फास्ट फुड और कोका-कोला और पेप्सी जैसी सॉफ्ट ड्रिंक्स का सेवन मत करें
  • नियमित रूप से दांतो के डॉक्टर के पास जाकर दाँतों का निरीक्षण करवाएँ
छोटी-छोटी मगर मोटी बातें:
  • फ्लॉराइड वाले टूथ-पेस्ट का ही इस्तेमाल करें
  • नमक के पानी से कुल्ला करें| नामक प्राकृतिक कीटाणु नाशक है
  • लिस्टेरीनजैसे किसी माउत-वॉश का प्रयोग करें
  • दाँतों के दर्द से आराम पाने के लिए दर्द वाले स्थान पर लौंग के तेल, हल्दी, तुलसी या नींम का प्रयोग करें
  • कच्चे लहसुनऔर आँवला को चबाने से भी दर्द मे राहत मिलती है
  • खाने के बाद चीनी-मुक्त चूयिंग-गम चबाने से आप दांतो को सड़ने से बचा सकते हैं
दिल्ली क्षेत्र के दंत चिकित्सक खोजें
Facebook Comments

Related Articles

20 thoughts on “दाँतों को सड़ने से रोकें

  1. Pingback: How to prevent tooth decay | 1mg Capsules

  2. Dr.Rajesh Vaidya

    बहोत अच्छी सलाह है। बहोत बहोत धन्यवाद्।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *