Home  »  Health A-ZHindi   »   महिलाओं में मुहांसे निकलने के कारण और लक्षण

महिलाओं में मुहांसे निकलने के कारण और लक्षण

Pimples in Hindi

किशोरावस्था में जब लड़कियां फिल्मों और पत्रिकाओं में हीरोइनों के बेदाग़ चेहरों की तस्वीरें देखती हैं तो वे खुद भी वैसा ही बनने की सोचती हैं। दरअसल हमारे समाज में लोगों ने बेदाग़ चेहरे को ही सुंदरता का पैमाना बना दिया है जो कि गलत है और यही वजह है कि जब लड़कियां किशोरावस्था में पहुँचती हैं तो एक मुहांसा निकलने पर भी टेंशन में आ जाती हैं। जबकि इस उम्र में मुहांसे निकलना एकदम सामान्य बात है।

अधिकतर लड़कियां 20 की उम्र के बाद सोचती हैं कि चलो अब इन मुंहासो से मुक्ति मिली। लेकिन क्या सच में ऐसा है? जी नहीं… इस उम्र के बाद भी आपको मुंहासे निकल सकते हैं, यहां तक की 30 की उम्र के बाद भी मुहांसों की समस्या होती है। महिलाओं में निकलने वाले मुहांसे मुख्य रुप से हार्मोन असुंतलन के कारण होते हैं। इन्हें एडल्ट एक्ने कहा जाता है। चेहरे पर कील-मुहांसे निकलने से महिलाओं को लगने लगता है कि इससे उनकी खूबसूरती बिगड़ रही है और मुहासों से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय अपनाने लगती हैं। मुहांसों के कारण महिलाओं का आत्मविश्वास कमजोर होने लगता है और कई महिलायें तो लोगों से मिलना जुलना या ऑफिस जाना कम कर देती हैं।

मुहांसे निकलते ही अगर आप बिना कुछ सोचे समझें क्रीम और टूथपेस्ट लगाने जैसे घरेलू उपाय अपना रही हैं तो जान लें कि बिना कारण जानें इन सब चीजों के उपयोग से कुछ भी फायदा नहीं होगा। बेहतर होगा कि आप पहले मुहांसों का कारण जानें और फिर उसी के अनुसार इलाज अपनाएं। इस लेख में हम आपको महिलाओं में होने वाले मुहांसों के कारणों के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

मुहांसे क्यों होते हैं?

वैसे देखा जाए तो किसी भी उम्र में मुहांसे निकलने के पीछे दो कारण हैं, पहला त्वचा का अधिक तैलीय होना और दूसरा बैक्टीरिया।  तनाव, गंदगी या रोम छिद्रों के भर जाने की वजह से भी मुहांसे हो सकते हैं। इसके अलावा अधिकांश महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन के स्तर में परिवर्तन या हार्मोन असुंतलन भी मुहांसे निकलने का मुख्य कारण है।  

मुहांसों के लक्षण :

महिलाओं में निकलने वाले मुहांसे दिखने में किशोरावस्था वाले मुहांसों से थोड़े अलग होते हैं। इस उम्र में निकलने वाले मुहांसे शुरुआत में छोटे लाल रंग के दानों जैसे दिखते हैं और फिर धीरे धीरे ये बड़े हो जाते हैं। कुछ महिलाओं में ये मुहांसे छोटी गाँठ के रुप में निकलते हैं और बाद में इनमें कील बन जाती है। ये कील मुहांसे काफी दिनों तक चेहरे पर मौजूद रहते हैं और इन्हें खुजलाने या ठीक इलाज ना करने पर ये दाग छोड़ जाते हैं। कभी कभी चेहरे पर मौजूद वाइटहेड्स और ब्लैकहेड्स भी आगे चलकर मुहांसे बन जाते हैं। कुछ महिलाओं में मुहांसे गाल की बजाय ठोढ़ी पर ज्यादा निकलते हैं।   

बार-बार मुहांसे निकलने से हैं परेशान…! अब 1mg से बेहद आकर्षक दामों में खरीदें मुहांसों की क्रीम एवं फेसवाश और पाएं बेदाग निखार

मुहांसो के कारण :

हर किसी के चेहरे पर निकलने वाले मुहांसे अलग कारणों की वजह से निकलते हैं। यह जरुरी नहीं कि जिस वजह से आपको मुहांसे निकल रहे हैं ठीक उसी वजह से आपके पार्टनर या दोस्त को भी मुहांसे निकल आएं। जैसे कि उमस भरे माहौल में कुछ महिलाओं के चेहरे पर मुहांसे निकल आते हैं जबकि उनके साथ रहने वालों पर मौसम का कोई असर नहीं होता है। इसलिए पहले मुहांसे के सही कारण जानिए और फिर उसके बाद उसका इलाज करें। आमतौर पर निम्न कारणों की वजह से वयस्कों में मुहांसे निकलते हैं।

1- हार्मोनल बदलाव : आमतौर पर माहवारी, गर्भावस्था, बच्चे के जन्म के कुछ हफ़्तों बाद और स्तनपान के दौरान महिलाओं के शरीर में हार्मोन तेजी से बदलते हैं और यही वजह है कि इस दौरान महिलाओं में मुहांसों की समस्या बढ़ जाती है। दरअसल हार्मोन में बदलाव होने के कारण त्वचा का पीएच संतुलन बिगड़ जाता है और त्वचा में तेल का उत्पादन बढ़ जाता है जिसके फलस्वरूप मुहांसे निकलने लगते हैं। अगर हार्मोन असुंतलन की वजह से आपको मुहांसे निकल रहे हैं तो ऐसे में मुहांसों पर क्रीम या कोई घरेलू उपाय लगाने से वे ठीक नहीं होंगे. ऐसे हालात में आप डर्मेटोलॉजिस्ट से संपर्क करें.

2- पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम (पीसीओएस)  : ऐसा नहीं है कि सिर्फ माहवारी या गर्भावस्था के दौरान ही महिलाओं के शरीर में हार्मोन के स्तर बिगड़ते हैं बल्कि अगर आप पीसीओएस  से पीड़ित हैं तो भी आपके शरीर में हार्मोन असंतुलन की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। आज के समय में अधिकांश महिलायें पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम से पीड़ित हैं। इस बीमारी के कारण महिलाओं के शरीर में पुरुषों वाले हार्मोन बढ़ जाते हैं जो त्वचा में तेल का उत्पादन बढ़ा देते हैं और त्वचा के तैलीय होने की वजह से मुहांसे निकलने लगते हैं।[2]

3- तनाव : क्या आप जानती हैं कि तनाव की वजह से भी शरीर में कई तरह के हार्मोन का चक्र बिगड़ जाता है? जब आप बहुत ज्यादा तनाव में या डरी हुई होती हैं उस दौरान एड्रेनल ग्रंथि से स्ट्रेस हार्मोन (कोर्टिसोल) अधिक मात्रा में बनने लगता है और इससे त्वचा में हुए असंतुलन से मुहांसों निकलने लगते हैं। वयस्कों में मुहांसे होने का यह भी एक मुख्य कारण है। इसलिए योग और ध्यान की मदद से तनाव को कम करें और खुश रहें।

4- धूम्रपान : सिगरेट पीना सेहत के लिए बहुत हानिकारक है और आपको जानकर आश्चर्य होगा कि धूम्रपान की वजह से भी मुहांसे निकलने लगते हैं। एक रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है कि एलर्जी और माइग्रेन से पीड़ित लोगों और धूम्रपान करने वाले लोगों में मुहांसे निकलने की संभावना काफी बढ़ जाती है।[1] इसलिए धूम्रपान से परहेज करें।

5- वायु प्रदूषण : आप जहाँ रह रहे हैं वहां का मौसम अचानक बदल जाए, या बहुत उमस और गर्मी वाले माहौल में रहने के कारण भी मुहांसे निकलने लगते हैं। असल में हमारे वातावरण में मौजूद हवा में कई तरह के हानिकारक केमिकल मिले हुए होते हैं और जब ये आपकी त्वचा के संपर्क में आते हैं तो इसकी वजह से जलन और खुजली होने लगती है साथ ही इन केमिकल की वजह से त्वचा संक्रमित हो जाती है और कील -मुहांसे निकल आते हैं। इसलिए बेहद प्रदूषित जगहों पर जाने से बचें और अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है तो त्वचा को रुमाल से ढंककर बाहर निकलें।

6- रोमछिद्रों के बंद होने पर : त्वचा के रोम छिद्रों का खुला रहना बहुत जरुरी है क्योंकि इन्ही रोमछिद्रों की मदद से आपकी त्वचा सांस लेती है। वातावरण में मौजूद धूल, गंदगी और त्वचा की मृत कोशिकाएं इन रोम छिद्रों को बंद कर देती हैं और हवा में मौजूद बैक्टीरिया द्वारा ये संक्रमित हो जाती हैं। संक्रमण की वजह से इनके ऊपर एक परत बन जाती है और आगे चलकर ये कील मुहांसों में तब्दील हो जाते हैं। रोमछिद्रों को बंद होने से रोकने के लिए हफ्ते में एक बार चेहरे को स्क्रब करें।

7- गलत खानपान : स्ट्रेस और हार्मोनल बदलाव के अलावा आपका गलत खानपान भी मुहांसे निकलने के लिए जिम्मेदार है। कुछ लोग हद से ज्यादा तली-भुनी और मसालेदार चीजें खाते हैं। ऐसी चीजें शरीर की गर्मी बढ़ाती है और फिर इनकी वजह से मुहांसे निकलने लगते हैं। इससे बचने का सीधा उपाय यह है कि डाइट में पौष्टिक चीजों जैसे कि फलों, हरी सब्जियों आदि का सेवन बढ़ा दें।

8- ब्यूटी प्रोडक्ट : चेहरे की खूबसूरती हर किसी को अच्छी लगती है और इसका ख्याल रखना अच्छी बात है। कई बार ऐसा होता है कि महिलायें अपने दोस्त द्वारा इस्तेमाल किये जाने वाले ब्यूटी प्रोडक्ट से प्रभावित होकर खुद भी उसका प्रयोग करने लगती है और फिर उन्हें मुहांसे निकल जाते हैं। असल में हर महिला के त्वचा का प्रकार अलग होता है और ये बिल्कुल भी जरुरी नहीं कि जो प्रोडक्ट आपके दोस्त के लिए अच्छा हो वो आपके लिए भी अच्छा होगा। कुछ प्रोडक्ट में ऐसे केमिकल हो सकते हैं जिनसे आपको एलर्जी हो और उन्हें लगाने से मुहांसे निकल सकते हैं। इसलिए अपने लिए गलत प्रोडक्ट न चुनें बल्कि इस्तेमाल से पहले एक बार पैच टेस्ट कर लें और फिर उसका उपयोग करें।

मुहांसों से छुटकारा :

मुहांसे निकलने के बाद अधिकांश लड़कियां ‘मुहांसे से छुटकारा कैसे पाएं’ या ‘मुहांसे की दवा’ इंटरनेट पर सर्च करने लगती हैं। ऐसा जरुरी नहीं कि इंटरनेट पर दी गई हर जानकारी सही ही हो। वैसे तो मुहांसे से छुटकारा पाने के लिए आप घरेलू उपायों का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन अगर बार बार मुहांसे निकल रहे हैं तो बेहतर होगा कि आप किसी डर्मेटोलॉजिस्ट के पास जाएं और अपना इलाज करायें।

(डॉ. शिल्पा चुग गर्चा, जनरल फिजिशियन ने इस लेख की समीक्षा की है।)

सन्दर्भ :

[1]-  Tanghetti EA, Kawata AK, Daniels SR, Yeomans K, Burk CT, Callender VD.
Understanding the burden of adult female acne. J Clin Aesthet Dermatol. 2014
Feb;7(2):22-30. PubMed

[2] – Rocha MA, Bagatin E. Adult-onset acne: prevalence, impact, and management
challenges. Clin Cosmet Investig Dermatol. 2018 Feb 1;11:59-69. doi:
10.2147/CCID.S137794. eCollection 2018. Review. PubMed

Frequent searches leading to this page:-
Pimples in Hindi, Pimples Symptoms in Hindi, Pimples Causes in Hindi

Facebook Comments

Related Articles