Home  »  Live Well   »   जानिए किन कारणों की वजह से महिलाओं के चेहरे पर बढ़ने लगते हैं अनचाहे बाल

जानिए किन कारणों की वजह से महिलाओं के चेहरे पर बढ़ने लगते हैं अनचाहे बाल

जानिए किन कारणों की वजह से महिलाओं के चेहरे पर बढ़ने लगते हैं अनचाहे बाल

पुरुषों के चेहरे पर बालों का उगना पूरी तरह सामान्य बात है लेकिन यही बाल जब किसी महिला के चेहरे पर उगने लगते हैं तो यह एक समस्या बन जाती है। आमतौर देखा जाए तो महिलाओं के चेहरे पर पुरुषों की तरह दाढ़ी नहीं उगती है लेकिन कुछ महिलाओं के चेहरे पर ज़रूरत से ज्यादा बाल उगने लगते हैं। इस समस्या को हिर्सुटिज़्म (Hirsutism) कहा जाता है। इससे पीड़ित महिलाओं के चेहरे, बांह, पीठ और सीने पर अनचाहे बाल उगने लगते हैं जिससे उनकी खूबसूरती बिगड़ने लगती है।

महिलाओं में यह अवस्था एण्ड्रोजन का लेवल सामान्य से ज्यादा बढ़ जाने के कारण होती है। कुछ बीमारियों के कारण महिलाओं के शरीर में एण्ड्रोजन का स्त्राव ज्यादा होने लगता है जिसके कारण उनके शरीर में पुरुषों जैसे बाल उगने लगते हैं। कुछ मामलों में तो उनकी आवाज भी पुरुषों की तरह भारी हो जाती है। आइये जानते हैं कि किन कारणों की वजह से महिलाओं के शरीर में हार्मोन असंतुलन बढ़ जाता है।

पालीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम (पीसीओएस) : यह हिर्सुटिज़्म होने का सबसे प्रमुख कारण है। पीसीओएस के कारण महिलाओं में बहुत तेजी से एण्ड्रोजन लेवल बढ़ने लगता है जिसकी वजह से बाल तेजी से बढ़ने लगते हैं। पीसीओएस से पीड़ित महिलाओं का मासिक चक्र भी बिगड़ जाता है और वजन कम करना भी काफी मुश्किल हो जाता है।

PCOS affects every 1 in 10 women..!! Start your Treatment now. Click here.
एड्रेनल ग्रंथि से जुड़ी समस्याएं : शरीर में एड्रेनल ग्रंथि किडनी के ठीक ऊपर स्थित होती है और इसका मुख्य काम हार्मोन का स्त्राव करना होता है। जो महिलाएं कंजेनिटल एड्रेनल हाइपरप्लासिया से पीड़ित होती हैं उनमें हार्मोन का उत्पादन करने वाले एंजाइम की कमी होने लगती है जिससे उनके गालों पर बाल बहुत अधिक मात्रा में उगने लगते हैं।

कुशिंग सिंड्रोम : महिलाओं में कोर्टिसोल हार्मोन ज्यादा होने की वजह से वे कुशिंग सिंड्रोम से पीड़ित हो जाती हैं और इसकी वजह से उनके चेहरे और शरीर के बाकि हिस्सों पर अनचाहे बाल उगने लगते हैं।

ओवेरियन ट्यूमर : कई बार गर्भाशय में ट्यूमर होने की वजह से भी शरीर में एण्ड्रोजन लेवल बढ़ने लगता है जिसके परिणामस्वरूप चेहरे पर अनचाहे बाल उगने लगते हैं।

दवाइयां : कुछ दवाइयां जैसे कि एनाबोलिक स्टेरॉयड, टेस्टोस्टेरोन, प्रेड्नीसोन, मिनोक्सिडिल इत्यादि, हार्मोन पर बुरा असर डालती हैं जिसकी वजह से चेहरे पर बाल ज्यादा बढ़ने लगते हैं।

आनुवांशिक कारण : यह एक आनुवांशिक रोग भी है। अगर आपके परिवार में मां या बहन को पहले से ही हिर्सुटिज़्म की समस्या है तो आपमें भी यह समस्या होने की सम्भावना काफी बढ़ जाती है।

गर्भावस्था और मेनोपॉज : गर्भावस्था और मेनोपॉज के दौरान भी महिलाओं के शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव होते हैं जिनकी वजह से चेहरे पर बाल बढ़ जाते हैं।

Facebook Comments

Related Articles