Categories: घरेलू नुस्खे

आंखों के दर्द से राहत दिलाते हैं ये घरेलू उपचार : Home Remedies for Eye Pain

आँखे हमारे शरीर के सबसे नाजुक एवं संवेदनशील अंगों में से एक है इसलिए इन पर किसी भी चीज का प्रभाव बहुत जल्दी पड़ता है, आँखों में कोई भी समस्या होने पर आँखों में दर्द महसूस होने लगता है। आजकल दिन भर कंप्यूटर के सामने बैठकर काम करने या मोबाइल पर आँखें गढ़ाये रखने के कारण भी सिरदर्द के साथ आँखों में दर्द होने लगता है। लेकिन इसके बारे में विस्तृत जानकारी होना भी जरूरी होता है। इसलिए आगे इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

Contents

आँखों का दर्द ( What is Eye pain)

आयुर्वेद के अनुसार हमारे शरीर में तीन दोष होते है वात, पित्त, कफ। यह संतुलित अवस्था में रहते है तो शरीर स्वस्थ एवं निरोगी रहता है। अनुचित आहार एवं जीवनशैली से यह असंतुलित होकर रोगों को जन्म देते है। शरीर में दर्द का कारण वात दोष को बताया गया है अत जीवनशैली एवं खानपान में गड़बड़ी के कारण तीनो दोष विकृत अवस्था में होकर आँखों के दर्द का कारण बनते है। इसमें मुख्यत वात दोष की वृद्धि होती है, यदि दर्द के साथ जलन और लालिमा है तो वह पित्त दोष के कारण होता है। आयुर्वेदीय उपचार द्वारा बढ़े हुए दोष घटाकर और कम करते हुए दोषों को बढ़ाकर दोषों को समान अवस्था में लाया जाता है और रोग को शान्त किया जाता है।

आँखों में दर्द भी कई तरह के होते हैं-

  • आँखों के भीतरी भाग में दर्द होना, इससे आँखों में एक तरह का स्पन्दन और किरकिरी महसूस होती है।
  • धूल-मिट्टी के सम्पर्क में आने के कारण से होने वाला दर्द। इसमें आँखों में खुजली एवं लालिमा आ जाती है।
  • चोट लगने के कारण होने वाला दर्द। यह दर्द बहुत तेज एवं जलन के साथ उठता है।
  • अंजनामिका (Sty) होना, यह आमतौर पर आँखों के अन्दरुनी भाग के किनारों पर होता है। इस स्थिति में आँखों में लगातार दर्द होता है तथा आँख खोलने और बन्द करने में भी बहुत परेशानी होती है।
  • कान्टेक्ट लेन्स के कारण होने वाला दर्द, लम्बे समय तक लगातार कान्टेक्ट लेन्स पहनने से कभी-कभी आँखों में दर्द एवं जलन होने लगती है।
  • ग्लूकोमा यानी काला मोतिया एक गंभीर नेत्र रोग है। इसके कारण भी आँख में दर्द होता है।

आँखों में दर्द के कारण (Causes of Eye Pain in Hindi)

आँखों में दर्द के जितने प्रकार होते हैं उतने ही कारण भी होते हैं। चलिये देखते हैं कि वह कौन-कौन से हैं-

  • आँखों के भीतरी भाग में दर्द होना, इससे आँखों में एक तरह का स्पन्दन और किरकिरी महसूस होती है।
  • धूल-मिट्टी के सम्पर्क में आने के कारण से होने वाला दर्द। इसमें आँखों में खुजली एवं लालिमा आ जाती है।
  • चोट लगने के कारण होने वाला दर्द। यह दर्द बहुत तेज एवं जलन के साथ उठता है।
  • अंजनामिका होना, यह आमतौर पर आँखों के अन्दरुनी भाग के किनारों पर होता है। इस स्थिति में आँखों में लगातार दर्द होता है तथा आँख खोलने और बन्द करने में भी बहुत परेशानी होती है।
  • कान्टेक्ट लेन्स के कारण होने वाला दर्द, लम्बे समय तक लगातार कान्टेक्ट लेन्स पहनने से कभी-कभी आँखों में दर्द एवं जलन होने लगती है।
  • ग्लूकोमा यानी काला मोतिया एक गंभीर नेत्र रोग है। इसके कारण भी आँख में दर्द होता है।
  • ऐसा नहीं है कि केवल आँख का पॉवर बढ़ने पर ही आँखों में दर्द होता है। यह भी आँख में दर्द का एक कारण है परंतु कई बार अन्य कारण जैसे आँखों में किसी प्रकार का संक्रमण या चोट लगना, धूल-मिट्टी का सम्पर्क होने के कारण भी आँखों में दर्द होता है।

आँखों में दर्द के लक्षण (Symptoms of Eye Pain in Hindi)

आँखों में दर्द होना बहुत कष्टकारक होता है तथा इसके कारण व्यक्ति कोई भी काम नहीं कर पाता। आँख में दर्द के साथ अन्य लक्षण भी देखे जाते है जैसे- प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता, आँखों में लाली, जलन, पानी बहना और सिर में दर्द। हालांकि यह दर्द ज्यादातर उन लोगों में होता है जो ज्यादा पावर का चश्मा पहनते है पर कई बार सामान्य रूप से भी आँखों पर ज्यादा जोर देने से या कईं घंटो तक टी.वी. और कम्प्यूटर के सामने बैठे रहने से भी आँखों में दर्द हो जाता है। आँखों में होने वाला दर्द कई बार सिर दर्द के साथ होता है तथा कभी-कभी आँखों के साथ सिर के अगले हिस्से एवं माथे में भी दर्द होता है।

आँखों के दर्द से बचाव के तरीके (How to prevent Eye pain in Hindi)

आम तौर पर असंतुलित भोजन और जीवनशैली के असर के कारण भी आँखों में दर्द होता है। इसके लिए आहार और जीवनशैली में थोड़ा बदलाव लाने की जरूरत होती है। जैसे-

  • ताजा फल, सब्जियाँ, साबुत अनाज और नट्स जिनमें ओमेगा-3 फैटी एसिड्स होते है। इनका सेवन करें।
  • विटामिन सी से युक्त फलों का सेवन अधिक करें जैसे- खट्टे फल यह आँखों के लिए लाभदायक होते हैं।
  • अधिक देर तक कम्प्यूटर के सामने न बैठें।
  • लगातार बहुत अधिक देर तक नहीं पढ़ना चाहिये, बीच-बीच में आँखों को आराम देना चाहिये।
  • नियमित रूप से प्राणायाम एवं योगासन करें।
  • दिन में 23 बार आँखों को ठंडे पानी से धोएं।

और पढेंआँख के बीमारी में हरीतकी के फायदे

आंखों का दर्द कम करने के लिए घरेलू उपाय (Home remedies for Eye pain in Hindi)

आम तौर पर आँखों के दर्द से राहत पाने के लिए लोग पहले घरेलू नुस्खें आजमाते हैं। चलिये जानते हैं कि ऐसे कौन-कौन-से घरेलू उपाय हैं जो आँखों का दर्द दूर करने में सहायता करते हैं-

आलू के स्लाइस से आँखों को मिलता है आराम (Potato slice helps to relieve from Eye pain)

आँखों में दर्द और जलन होने पर आलू का प्रयोग अच्छा है। एक आलू छील कर इसकी स्लाइस को आँखों में कुछ देर के लिए रखें, कुछ ही देर में दर्द कम होने लगेगा।

और पढ़ें : आलू के फायदे और औषधीय गुण

ठंडे पानी से भिगोया कपड़ा आँखों पर रखने से मिलता है आराम (Cold compress helps to ease Eye pain)

एक साफ सूती कपड़े को ठंडे पानी में भिगा कर आँखों के ऊपर रखें। इससे आँखों को ठंडक मिलती है और दर्द कम होता है। यदि आँखों में सूजन और लालिमा आ रही हो तो भी इस उपाय से फायदा मिलता है।

गुलाब जल से मिले आँखों को ठंडक (Rose water help to get relief from Eye pain)

आँखों में 22 बूंद गुलाब जल डालकर कुछ देर के लिए आँखों को बंद रखें। ऐसा करने से दर्द में आराम मिलता है।

टीबैग से मिले आँख के दर्द से मिले राहत (Tea bag help to heal Eye pain and sore)

इस्तेमाल किए हुए टी बैग को फ्रिज में रखें। आँखों में दर्द होने पर इसे फ्रिज से निकालकर कुछ दे ऐसे ही रखें और फिर आँखों पर रखें।

और पढ़ें : चाय के फायदे और नुकसान

सुबह खाली पैर घास पर चलने से आँखों की रोशनी होती है तेज (Bare foot morning walk beneficial for Eye health)

प्रतिदिन सुबह-सुबह नंगे पाँव हरी घास पर चलने से आँखों से संबंधित समस्याएँ नहीं होती और आँखों की रोशनी तेज होती है।

और पढ़ेंड्राई आई सिंड्रोम में एलोवेरा जेल फायदेमंद

तुलसी के पानी से आँखों को दर्द से मिलती है राहत (Tulsi water help to get relief from Eye pain)

यदि संक्रमण के कारण आँखों में दर्द हो रहा हो तो रात को साफ पानी में तुलसी के पत्ते भिगा कर रखें और अगली सुबह इस पानी से आँखों को धोएं।

और पढ़ें : तुलसी के फायदे और औषधीय गुण

आँखों के लिए नैचुरल क्लींजर शहद (Honey act as a cleanser in Eye pain)

शहद में जीवाणुरोधी गुण होते है और यह एक प्राकृतिक क्लींजर है। आँख में दर्द होने पर प्रभावित आँख में शहद की एक बूंद डाले, इससे शुरु में थोड़ी जलन होगी पर इससे आराम मिलेगा।

और पढ़ें : शहद के फायदे और नुकसान

घी आँखों के दर्द से मिले राहत (Ghee help to ease Eye Pain)

रुई के फाहे को ठंडे पानी में भिगाएँ और शुद्ध घी लगाकर आँखों पर रखने से आँखों के दर्द में लाभ मिलता है।

और पढ़ें : घी के फायदे और नुकसान

हरी दूब का पेस्ट आँखों के दर्द को करे कम (Durba grass help to ease Eye pain)

हरी दूब पीसकर उसका रस आँखों के ऊपर लेप करने से आँखों का दर्द ठीक होता है।

गर्म पानी की सिकाई से आँखों को मिलता है आराम (Hot water compress helps to get relieve from Eye pain)

गरम पानी में नमक खोलकर उसके अंदर कपड़े को भिगाकर रोज 23 बार थोड़ी-थोड़ी देर आँखों की सिकाई करने से आँखों को आराम मिलता है।

आँवला पाउडर से आँखों का दर्द होता है कम (Amla powder wash help to relieve from Eye pain)

आँवला का चूर्ण रात भर पानी में भिगा दें, सुबह इस पानी से आँखों को धोएँ।

और पढ़ें : आंवला के फायदे और नुकसान

चीनी और धनिया पाउडर का मिश्रण आँखों के लिए फायदेमंद (Sugar and dhaniya powder mixture wash good for Eye pain)

एक चम्मच शक्कर तथा तीन चम्मच धनिया का बारीक चूर्ण उबलते हुए पानी में डालकर एक घंटे के लिए ढक कर रख दें। फिर इसे कपड़े से छानकर एक साफ बोतल में भर लें। इसमें से दो-दो बूंद सुबह-शाम आँखों में डालने से आँखों का दर्द 23 दिन में ठीक हो जाता है।

पीपल का दूध आँखों के दर्द से राहत दिलाने में  लाभकारी (Peepal milk help to cure Eye pain)

पीपल के पत्तों की जड़ से जो दूध निकलता है, उसको आँखों में लगाने से आँखों का दर्द मिट जाता है।

अनार के पत्तों का पेस्ट आँखों के लिए फायदेमंद (Pomegranate paste help to ease Eye pain)

अनार के पत्तों को पीसकर आँखों के ऊपर लेप करने से आँखों का दर्द ठीक होता है।

और पढ़ें : अनार के फायदे और उपयोग विधि

बबूल के पत्तों की टिकिया आँखों का दर्द करे कम (Babul good for Eye pain)

बबूल की पत्तियों को पीसकर टिकिया बनाकर रात को सोते समय आँखों पर बांध ले और सुबह उठने पर खोल दें। इससे आँखों का दर्द और लाली ठीक हो जाते है।

और पढ़ें : बबूल के फायदे और औषधीय गुण

महात्रिफलाघृत का सेवन आँखों के स्वास्थ्य के लिए लाभकारी (Mahatriphalagriht help to ease Eye pain)

35 ग्राम. महात्रिफलाघृत को सुबह-शाम बराबर मात्रा में मिश्री मिलाकर दूध के साथ सेवन करें।

डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए (When to see a Doctor)

आँखों को आराम न देने एवं ज्यादा देर तक कम्प्यूटर में काम करना या बहुत देर तक लगातार पढ़ना आदि इन सब कारणों से आँखों में दर्द होना सामान्य बात है ऐसे में उचित देखरेख और घरेलु उपचारों से यह दर्द ठीक हो जाता है लेकिन यदि दर्द बहुत अधिक और लगातार हो तथा आँखों के भीतरी भाग में हो रहा हो तो यह किसी अंदरुनी चोट या बीमारी की ओर संकेत करता है। यह दर्द घरेलु उपचारों के द्वारा भी ठीक नहीं होता है। ऐसी स्थिति में तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करें।

आचार्य श्री बालकृष्ण

आचार्य बालकृष्ण, स्वामी रामदेव जी के साथी और पतंजलि योगपीठ और दिव्य योग मंदिर (ट्रस्ट) के एक संस्थापक स्तंभ है। उन्होंने प्राचीन संतों की आध्यात्मिक परंपरा को ऊँचा किया है। आचार्य बालकृष्ण जी एक प्रसिद्ध विद्वान और एक महान गुरु है, जिनके मार्गदर्शन और नेतृत्व में आयुर्वेदिक उपचार और अनुसंधान ने नए आयामों को छूआ है।

Share
Published by
आचार्य श्री बालकृष्ण

Recent Posts

गले की खराश और दर्द से राहत पाने के लिए आजमाएं ये आयुर्वेदिक घरेलू उपाय

मौसम बदलने पर अक्सर देखा जाता है कि कई लोगों के गले में खराश की समस्या हो जाती है. हालाँकि…

9 months ago

कोरोना से ठीक होने के बाद होने वाली समस्याएं और उनसे बचाव के उपाय

अभी भी पूरा विश्व कोरोना वायरस के संक्रमण से पूरी तरह उबर नहीं पाया है. कुछ महीनों के अंतराल पर…

10 months ago

डेंगू बुखार के लक्षण, कारण, घरेलू उपचार और परहेज (Home Remedies for Dengue Fever)

डेंगू एक गंभीर बीमारी है, जो एडीस एजिप्टी (Aedes egypti) नामक प्रजाति के मच्छरों से फैलता है। इसके कारण हर…

10 months ago

वायु प्रदूषण से होने वाली समस्याएं और इनसे बचने के घरेलू उपाय

वायु प्रदूषण का स्तर दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है और सर्दियों के मौसम में इसका प्रभाव हमें साफ़ महसूस…

11 months ago

Todari: तोदरी के हैं ढेर सारे फायदे- Acharya Balkrishan Ji (Patanjali)

तोदरी का परिचय (Introduction of Todari) आयुर्वेद में तोदरी का इस्तेमाल बहुत तरह के औषधी बनाने के लिए किया जाता…

2 years ago

Pudina : पुदीना के फायदे, उपयोग और औषधीय गुण | Benefits of Pudina

पुदीना का परिचय (Introduction of Pudina) पुदीना (Pudina) सबसे ज्यादा अपने अनोखे स्वाद के लिए ही जाना जाता है। पुदीने…

2 years ago