ऑथर डीटेल्स
लेखक
MMST, MBBS
समीक्षक
MD (Pharmacology), MBBS
लास्ट अपडेटेड:
21 फर 2020 | 12:19 पीएम (इस्ट)
क्या आप अधिक जानना चाहते हैं?
हमारी संपादकीय नीति पढ़ें
Have issue with the content?
Report Problem

टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन

डॉक्टर की पर्ची ज़रूरी है
निर्माता
दवा के घटक
स्टोरेज के निर्देश
Store in a refrigerator (2 - 8°C). फ्रीज़ न करें.

परिचय

टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन का इस्तेमाल क्रोनिक हेपेटाइटिस सी वायरस इन्फेक्शन के इलाज में किया जाता है.

Titaferon 100mcg Injection is given as an injection by a qualified medical professional.. You should continue to take it as long as your doctor advises it. The duration of treatment varies according to your need and response to treatment. You should take it exactly as your doctor has advised. Taking it in the wrong way or taking too much can cause very serious side effects. It may take several weeks or months for you to see or feel the benefits but do not stop taking it unless your doctor tells you to.

Some common side effects of this medicine include headache, dizziness, insomnia, vomiting, and nausea. This medicine may reduce the number of blood cells in your blood, thereby, increasing the susceptibility to infections. Hence, inform your doctor if you notice fever, chills, rash, trouble breathing, unusual bleeding or bruising, and dark colored urine. Regular blood tests are required to check your blood cells along with thyroid, liver, kidney and serum electrolytes levels.

Before taking it, tell your doctor if have liver, or kidney problems or have mental illness. You must inform your doctor about mental illness, mood changes, depression, vision change, and suicidal thoughts as this medicine can worsen the situation. Many other medicines can affect, or be affected by, this medicine so let your healthcare team know all medications you are using. This medicine is not recommended during pregnancy or while breastfeeding. The use of effective contraception by both males and females during treatment is important to avoid pregnancy.

टिटैफेरोन इन्जेक्शन के मुख्य इस्तेमाल

  • क्रोनिक हेपेटाइटिस सी वायरस इन्फेक्शन

टिटैफेरोन इन्जेक्शन के साइड इफेक्ट

इस दवा से होने वाले अधिकांश साइड इफेक्ट में डॉक्टर की सलाह लेने की ज़रूरत नहीं पड़ती है और नियमित रूप से दवा का सेवन करने से साइट इफेक्ट अपने आप समाप्त हो जाते हैं. अगर साइड इफ़ेक्ट बने रहते हैं या लक्षण बिगड़ने लगते हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह लें

टिटैफेरोन के सामान्य साइड इफेक्ट

  • पेट में दर्द
  • आवेश
  • चिंता
  • धुंधली नज़र
  • खांसी
  • भूख में कमी
  • सफेद रक्त कोशिकाओं ( वाइट ब्लड सेल्स ) की संख्या में कमी
  • डिप्रेशन
  • चक्कर आना
  • मुंह में सूखापन
  • थकान
  • सिर दर्द
  • ख़राब एकाग्रता
  • अपच
  • अनिद्रा (नींद में कठिनाई)
  • मिचली आना
  • घबराहट
  • गले में खराश
  • स्टोमेटाइटिस (मुंह की सूजन)
  • वायरल संक्रमण
  • उल्टी

टिटैफेरोन इन्जेक्शन का इस्तेमाल कैसे करें

Your doctor or nurse will give you this medicine. Kindly do not self administer.

टिटैफेरोन इन्जेक्शन कैसे काम करता है

टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन शरीर के इम्यून सिस्टम को नियंत्रित करता है.

सुरक्षा संबंधी सलाह

अल्कोहल
सावधानी बरतें
Caution is advised when consuming alcohol with Titaferon 100mcg Injection.. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
गर्भावस्था
डॉक्टर की सलाह लें
गर्भावस्था के दौरान टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन का इस्तेमाल करना असुरक्षित हो सकता है. हालांकि, इंसानों से जुड़े शोध सीमित हैं लेकिन जानवरों पर किए शोधों से पता चलता है कि ये विकसित हो रहे शिशु पर हानिकारक प्रभाव डालता है. आपके डॉक्टर पहले इससे होने वाले लाभ और संभावित जोखिमों की तुलना करेंगें और उसके बाद ही इसे लेने की सलाह देंगें. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
स्तनपान
डॉक्टर की सलाह पर सुरक्षित
स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन का इस्तेमाल संभवतः सुरक्षित है. मानव पर किए गए सीमित शोध से यह पता चलता है कि दवा से बच्चे को कोई गंभीर जोखिम नहीं पहुंचता है.
ड्राइविंग
असुरक्षित
टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन के साइड इफेक्ट के रूप में गाड़ी चलाने की आपकी क्षमता प्रभावित हो सकती है.
मरीज़ों को टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन लेते समय चक्कर, दुविधा, नींद और थकान हो सकती है और उन्हें गाड़ी चलाने से परहेज़ की चेतावनी देनी चाहिए.
किडनी
असुरक्षित
गुर्दे की बीमारी से पीड़ित मरीजों के लिए टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन का इस्तेमाल संभवतः असुरक्षित हो सकता है अतः इसके सेवन से परहेज करें. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
Caution should be used in patients with renal impairment.
लिवर
डॉक्टर की सलाह लें
लीवर की बीमारी से पीड़ित मरीजों में टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन के उपयोग से जुड़ी सीमित जानकारी उपलब्ध है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.

अगर आप टिटैफेरोन इन्जेक्शन लेना भूल जाएं तो?

अगर आप टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन निर्धारित समय पर लेना भूल गए हैं तो जितनी जल्दी हो सके ले लें. हालांकि, अगर अगली खुराक का समय हो गया है तो छूटी हुई खुराक को छोड़ दें और नियमित समय पर अगली खुराक लें. खुराक को डबल न करें.

वैकल्पिक ब्रांड्स

यह जानकारी सिर्फ सूचना के उद्देश्य से है. कृपया कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लें.
टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन
₹10495.75/Injection
पेजिनट्रोक्सील 100mcg इन्जेक्शन
ताज फार्मा इंडिया लिमिटेड
₹11044/ml of Injection
5% costlier
पेग्विर 100mcg इन्जेक्शन
सिप्ला लिमिटेड
₹15000/ml of Injection
43% costlier
₹16470/Injection
57% costlier
विरैफेरोनपेग 100mcg इन्जेक्शन
फुलफोर्ड इंडिया लिमिटेड
₹16470/ml of Injection
57% costlier

ख़ास टिप्स

  • टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन वयस्कों में क्रोनिक हेपेटाइटिस सी के इलाज में मदद करती है.
  • जब तक आप यह नहीं जानते कि आपको किस तरह से प्रभावित करता है, तब तक ड्राइव न करें या ऐसा कोई काम न करें जिसमें मानसिक एकाग्रता की आवश्यकता होती है.
  • Use a reliable contraceptive method to prevent pregnancy while you are taking this medicine and 4 months after stopping the treatment.
  • Your doctor may get regular blood tests done to monitor your blood cells, liver and thyroid function, and lipid levels during treatment with this medicine.
  • Inform your doctor immediately if you notice any signs of infection such as fever, sore throat or rash.
  • Inform your doctor if you notice any changes in your behavior, mood or vision.

फैक्ट बॉक्स

रासायनिक वर्ग
Interferons
लत लगने की संभावना
नहीं
चिकित्सीय वर्ग
ANTI NEOPLASTICS

समस्या समाधान

arrow
How to treatment of HEPATITIS C VIRUS
Dr. Deepak Kumar Soni
Ayurveda
https://www.1mg.com/otc/himalaya-liv.-52-ds-tablet-otc135545One ?one tablet morning & evening after taking food , use at least 1-2 monthsUse this medicine along with your treatment
I am affected from hepatitis c virus diagnosed with confirmed genotype. Meanwhile i am pregnant will hepatitis virus pass on my baby. Or i should abort
Dr. Kunal Parasar
Surgical Gastroenterology
Your reports are of february with no ongoin liver damage. You havnt got the quantitative analysis. Most probably you wont need to abort. But be in constant follow up of good gastroenterologist near you.
arrow
क्या आप टिटैफेरोन 100mcg इन्जेक्शन से संबंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं?

संबंधित प्रोडक्ट

Want to share the information?

Disclaimer:

1mg का एक मात्र आशय उपभोक्ताओं तक विशेषज्ञों द्वारा परखी गई, सटीक और विश्वसनीय जानकारी को पहुंचाना है।. यहां उपलब्ध जानकारी को चिकित्सकीय परामर्श के विकल्प के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए।. यहां दिए गए विवरण सिर्फ़ आपकी जानकारी के लिए हैं।. यह संभव है कि इसमें दवाओं के दुष्प्रभाव, पारस्परिक प्रभाव और उनसे जुड़ी सावधानियां एवं चेतावनियों की सारी जानकारी सम्मिलित ना हो।. किसी भी दवा या बीमारी से जुड़े अपने सभी सवालों के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।. हमारा उद्देश्य डॉक्टर और मरीज के बीच के संबंध को मजबूत बनाना है, उसका विकल्प बनना नहीं.

संदर्भ

  1. Peginterferon alfa-2b. Kenilworth, New Jersey: Schering Corporation; 2011. [Accessed 25 Jun. 2019] (online) Available from:External Link
  2. Medscape. Peginterferon alfa 2b. [Accessed 26 Jun. 2019] (online) Available from:External Link
  3. MedlinePlus. Peginterferon Alfa-2b. [Accessed 26 Jun. 2019] (online) Available from:External Link
  4. Drugs and Lactation Database (LactMed) [Internet]. Bethesda (MD): National Library of Medicine (US); 2006. Peginterferon Alfa. [Updated 2018 Dec 3]. [Accessed 18 Feb. 2020] (online) Available from:External Link

निर्माता/विक्रेता का पता

16th फ्लोर, गोदरेज बीकेसी, प्लॉट – सी, “g” ब्लॉक, बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स, बांद्रा (ईस्ट), मुंबई – 400 051, इंडिया
DISCONTINUED
We do not facilitate sale of this product at present--test

INDIA’S LARGEST HEALTHCARE PLATFORM

150M+
Visitors
25M+
Orders Delivered
1000+
Cities
Get the link to download App
Reliable

All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies. All labs listed on the platform are accredited

Secure

1mg uses Secure Sockets Layer (SSL) 128-bit encryption and is Payment Card Industry Data Security Standard (PCI DSS) compliant

Affordable

Find affordable medicine substitutes, save up to 50% on health products, up to 80% off on lab tests and free doctor consultations.

India's only LegitScript and ISO/IEC 27001 certified online healthcare platform
Know More About 1mgdownArrow
Access medical and health information

1mg provides you with medical information which is curated, written and verified by experts, accurate and trustworthy. Our experts create high-quality content about medicines, diseases, lab investigations, Over-The-Counter (OTC) health products, Ayurvedic herbs/ingredients, and alternative remedies.

Order medicines online

Get free medicine home delivery in over 1000 cities across India. You can also order Ayurvedic, Homeopathic and other Over-The-Counter (OTC) health products. Your safety is our top priority. All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies.

Book lab tests

Book any lab tests and preventive health packages from certified labs and get tested from the comfort of your home. Enjoy free home sample collection, view reports online and consult a doctor online for free.

Consult a doctor online

Got a health query? Consult doctors online from the comfort of your home for free. Chat privately with our registered medical specialists to connect directly with verified doctors. Your privacy is guaranteed.