रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन

डॉक्टर की पर्ची ज़रूरी है
निर्माता
स्टोरेज के निर्देश
रूम टेम्परेचर पर स्टोर करें (10-30°C)

परिचय

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक दर्दनिवारक दवा है. इसका इस्तेमाल मध्यम से गंभीर दर्द के इलाज में किया जाता है. यह जोड़ों और मांसपेशियों से संबंधित विभिन्न परिस्थितियों में दर्द और सूजन से राहत दिलाने में मदद करता है. इसे आमतौर पर ऐसे मामलों में लगाया जाता है जहां पर मुंह से दवा देना संभव नहीं होता है.

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को आमतौर पर हेल्थकेयर प्रोफेशनल द्वारा एडमिनिस्‍टर किया जाता है. आपको घर पर यह दवा खुद से नहीं लेनी चाहिए. डोज़ और इलाज का समय इस बात पर निर्भर करते हैं कि आप इसे किस लिए ले रहे हैं और यह आपके लक्षणों में आपकी कितनी बेहतर तरह से मदद कर रही है. दवा लेना जारी रखें और जब तक आपका डॉक्टर नहीं कहता तब तक इसका सेवन बंद न करें.

The most common side effects of this medicine include injection site reactions (such as pain, redness, and swelling), vomiting, stomach pain, indigestion, diarrhea, headache, and dizziness. अगर इनमें से कोई भी साइड इफेक्ट ठीक नहीं होते हैं या स्थिति अधिक खराब हो जाती है, तो अपने डॉक्टर को बताएं. आपका डॉक्टर लक्षणों की रोकथाम या इन्हें कम करने के तरीके बता सकता है.

इसका उपयोग करने से पहले, अगर आपको पेट में अल्सर, हृदय रोग, उच्च ब्लड प्रेशर और लिवर या किडनी रोग था तो आपको अपने डॉक्टर को बताना चाहिए. अपने डॉक्टर को आपके द्वारा ली जाने वाली अन्य सभी दवाओं के बारे में भी बता दें क्योंकि वे इस दवा को प्रभावित या इससे प्रभावित हो सकती हैं.

यह दवा गर्भवती या स्तनपान करने वाले महिलाओं के लिए नहीं है. यह बहुत आवश्यक है कि गर्भवती और स्तनपान करने वाली माताएं, दवा का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टरों से सलाह लें. अगर आप लंबे समय तक इलाज के लिए इस दवा को ले रहे हैं, तो आपका डॉक्टर नियमित रूप से आपके किडनी फंक्शन, लिवर फंक्शन और ब्लड कॉम्पोनेन्ट के लेवल की निगरानी कर सकता है.

रुकैप्रोक्स इन्जेक्शन के मुख्य इस्तेमाल

रुकैप्रोक्स इन्जेक्शन के लाभ

दर्द से राहत

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन, जोड़ों और मांसपेशियों को प्रभावित करने वाले दर्द और सूजन से राहत देने में मदद करता है. यह मस्तिष्क में कुछ ऐसे रसायनों को ब्लॉक करती है, जिनसे दर्द और बुखार उत्पन्न होते हैं. यह रूमेटॉइड आर्थराइटिस और ऑस्टियोआर्थराइटिस जैसी स्थितियों में दर्द से आराम दिलाने में मदद कर सकता है.
इसे डॉक्टर या नर्स द्वारा इन्जेक्शन के रूप में दिया जाता है और खुद नहीं लगाना चाहिए. डोज़ और इलाज का समय, आपकी कंडीशन के आधार पर, जिसके लिए आपका इलाज किया जा रहा है, आपके डॉक्टर द्वारा बताए जाएंगे. यह आपको रोजमर्रा के कामों को आसानी से करने में और एक बेहतर जीवन जीने में मदद करेगा.

रुकैप्रोक्स इन्जेक्शन के साइड इफेक्ट

इस दवा से होने वाले अधिकांश साइड इफेक्ट में डॉक्टर की सलाह लेने की ज़रूरत नहीं पड़ती है और नियमित रूप से दवा का सेवन करने से साइट इफेक्ट अपने आप समाप्त हो जाते हैं. अगर साइड इफ़ेक्ट बने रहते हैं या लक्षण बिगड़ने लगते हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह लें

रुकैप्रोक्स के सामान्य साइड इफेक्ट

  • इंजेक्शन वाली जगह पर रिएक्शन (दर्द, सूजन, लालिमा)
  • उल्टी
  • पेट में दर्द
  • अपच
  • डायरिया (दस्त)
  • सिर दर्द
  • चक्कर आना

रुकैप्रोक्स इन्जेक्शन का इस्तेमाल कैसे करें

आपका डॉक्टर या नर्स आपको यह दवा देगा. कृपया स्वयं उपयोग ना करें.

रुकैप्रोक्स इन्जेक्शन किस प्रकार काम करता है

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक नॉन-स्टेरायडल एंटी-इंफ्लामेटोरी दवा (एनएसएआईडी) है. यह दर्द और सूजन का कारण बनने वाले कुछ रासायनिक मैसेंजर के स्राव को अवरुद्ध करके काम करता है.

सुरक्षा संबंधी सलाह

अल्कोहल
सावधान
रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के साथ शराब का सेवन करते समय सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
गर्भावस्था
डॉक्टर की सलाह लें
गर्भावस्था के दौरान रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल असुरक्षित है क्योंकि इससे बच्चे को खतरा होने के निश्चित साक्ष्य मिले हैं. कुछ जानलेवा परिस्थितियों में डॉक्टर इस दवा के सेवन की सलाह तब देते हैं, जब इससे होने वाले लाभ जोखिम की तुलना में अधिक हो. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
स्तनपान
डॉक्टर की सलाह पर सुरक्षित
स्तनपान के दौरान रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल सुरक्षित है. अध्ययन से पता चला है की यह दवा ज्यादा मात्रा मैं ब्रेस्टमिल्क में नहीं जाती है और बच्चे के लिए हानिकारक नहीं है.
ड्राइविंग
असुरक्षित
रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के इस्‍तेमाल से सजगता में कमी आ सकती है, आपकी दृष्टि प्रभावित हो सकती है या आपको नींद और चक्कर आने की शिकायत हो सकती है.. इन लक्षणों के महसूस होने पर वाहन न चलाएं.
किडनी
सावधान
गंभीर गुर्दे की बीमारी से पीड़ित मरीज सावधानी के साथ रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल करें. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन की खुराक में बदलाव की आवश्यकता हो सकती है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
किडनी की हल्की से मध्यम बीमारी से पीड़ित मरीजों में खुराक एडजस्ट करने की सलाह नहीं दी जाती है. इस दवा का सेवन करते समय किडनी फंक्शन टेस्ट की नियमित निगरानी की सलाह दी जाती है.
लिवर
सावधान
लिवर की बीमारियों से पीड़ित मरीजों में रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल सावधानी से किया जाना चाहिए. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन की खुराक में बदलाव की आवश्यकता हो सकती है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.

अगर आप रुकैप्रोक्स इन्जेक्शन लेना भूल जाएं तो?

अगर आप रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन निर्धारित समय पर लेना भूल गए हैं तो जितनी जल्दी हो सके इसे ले लें. हालांकि, अगर अगली खुराक का समय हो गया है तो छूटी हुई खुराक को छोड़ दें और नियमित समय पर अगली खुराक लें. खुराक को डबल न करें.

वैकल्पिक ब्रांड्स

यह जानकारी सिर्फ सूचना के उद्देश्य से है. कृपया कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लें.
रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन
₹35.64/Injection
₹12/Injection
66% cheaper
नेक्सीकैम 40mg इन्जेक्शन
ब्रुक्स फार्मास्युटिकल्स
₹14/Injection
61% cheaper
₹18/Injection
49% cheaper
कैम्रोक्स 40mg इन्जेक्शन
एक्टिव हेल्थकेयर
₹20/Injection
44% cheaper

ख़ास टिप्स

  • रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन विभिन्न जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द और सूजन से राहत दिलाने में मदद करती है.
  • इसके कारण चक्कर और थकान हो सकती है. जब तक आप यह नहीं जानते कि यह आपको कैसे प्रभावित करता है, तब तक गाड़ी चलाने या एकाग्रता की आवश्यकता के लिए कुछ न करें.
  • यह दवा लेते समय शराब का सेवन न करें क्योंकि इससे बहुत अधिक सुस्ती आ सकती है. 
  • अगर आप गर्भवती हैं या गर्भ धारण की योजना बना रही हैं या स्तनपान कराती हैं तो अपने डॉक्टर को सूचित करें.

फैक्ट बॉक्स

रासायनिक वर्ग
Enolic acid Derivatives
लत लगने की संभावना
नहीं
चिकित्सीय वर्ग
दर्द निवारक

अन्य दवाओं के साथ दुष्प्रभाव

रुकैप्रोक्स को निम्नलिखित में से किसी भी दवा के साथ लेने पर उनमें से किसी का प्रभाव बदल सकता है और इससे कुछ अनचाहे साइड इफेक्ट हो सकते हैं
Brand(s): Nimsun, Neil, Renex
LIFE-THREATENING
LIFE-THREATENING
Brand(s): Pyregin, Alpagin, Novalgin RC
LIFE-THREATENING

पेशेंट कंसर्न

arrow
One of my teeth is sensitive. It some times pains
Dr. Abhijit Gambhir
Dental Surgery
sensitivity has many causative factors for relief of pain you can take pain killers it will give temporary relief
fever and 2 months pregnant can take combiflan
Dr. Sonu Balhara Ahlawat
Obstetrics and Gynaecology
No take Crocin for pain relief
arrow
क्या आप रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन से संबंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं?

यूजर का फीडबैक


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्र. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और डिक्लोफेनक के बीच क्या अंतर है?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और डिक्लोफिनैक दोनों ही दर्द निवारक हैं. हालांकि, पिरोक्सीकैम एक गैर-चयनित कॉक्स (साइक्लोऑक्सीजनेज - सूजन और दर्द के लिए जिम्मेदार एंजाइम) को रोकता है जबकि डाइक्लोफेनैक में कॉक्स-2 एंजाइम से थोड़ी अधिक सेलेक्टिविटी होती है. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन की तुलना में डाइक्लोफीनेक की सलेक्टिविटि के कारण साइड इफेक्ट में कमी आती है.

प्र. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और नैप्रोक्सेन के बीच क्या अंतर है?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और नेप्रोक्सिन दोनों ही दर्द नाशक हैं. दोनों ही गैर-चयनित सीओएक्स (साइक्लोक्सीजनेस - सूजन और दर्द के लिए जिम्मेदार एंजाइम) हैं. अनुसंधान अध्ययन दोनों ही समान रूप से प्रभावी हैं. हालांकि, रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन की तुलना में नैप्रोक्सेन के गैस्ट्रिक साइड इफेक्ट कम होते हैं.

प्र. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और मेलोक्सिकैम के बीच क्या अंतर है?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और मेलॉक्सिकम दोनों ही दर्द नाशक हैं. दोनों ही गैर-चयनित सीओएक्स (साइक्लोक्सीजनेस - सूजन और दर्द के लिए जिम्मेदार एंजाइम) हैं. अनुसंधान अध्ययन दोनों ही समान रूप से प्रभावी हैं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन की तुलना में मेलॉक्सिकैम के साथ गैस्ट्रिक के गंभीर साइड इफेक्ट कम होते हैं.

प्र. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और केटोप्रोफेन के बीच क्या अंतर है?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और केटोप्रोफेन दोनों दर्द निवारक हैं. दोनों ही गैर-चयनित सीओएक्स (साइक्लोक्सीजनेस - सूजन और दर्द के लिए जिम्मेदार एंजाइम) हैं. अनुसंधानिक अध्ययनों से पता चला है कि रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन की तुलना में केटोप्रोफेन टॉपिकल जेल बेहतर और प्रभावी है. कीटोप्रोफेन जेल ने भी बेहतरीन सहनशीलता दिखाई दी.

प्र. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और ट्रामाडोल के बीच क्या अंतर है?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक कॉक्स (साइक्लोऑक्सीजनेज - -एक एंजाइम है जो सूजन और दर्द के लिए जिम्मेदार है) है जबकि ट्रामाडोल एक मादक दर्द निवारक की तरह है. ट्रामाडोल एक आदत बनाने वाली दवा है.

प्र. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और निमेसुलाइड के बीच क्या अंतर है?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और निमुसुलाइड दोनों ही दर्द नाशक हैं. हालांकि, रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक गैर-चयनात्मक कॉक्स (सूजन और दर्द के लिए जिम्मेदार साइक्लोऑक्सीजनेज एंजाइम) अवरोधक है, जबकि निमेसुलाइड, कॉक्स -2 एंजाइम का विकल्प है. निमेसुलाइड की यह सलेक्टिविटी पिरोक्सीकैम की तुलना में कम साइड इफेक्ट होने का कारण मानी जाती है. इसका इस्तेमाल 12 वर्ष से कम आयु के बच्चों में नहीं किया जाना चाहिए.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल चिकनगुनिया के इलाज में किया जा सकता है?

आमतौर पर, चिकनगुनिया के मामलों में प्लेटलेट्स की संख्या में कमी नहीं आती है और पिरोक्सीकैम जैसे दर्दनिवारक ब्लीडिंग होने के जोखिम को बढ़ा देते हैं. इसलिए बुखार के साथ जोड़ों का दर्द होने पर रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन या कोई भी दर्दनिवारक लेने से बचें. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और एस्पिरिन समान हैं?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन और एस्पिरिन समान नहीं हैं. वे सीओएक्स (साइक्लोक्सीजनेस) के निर्वाचकों के रूप में जाने वाले दवाओं के समान वर्ग से संबंधित हैं. वे दोनों एंटी-इन्फ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक हैं.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल डेक्सामीथाज़ोन के साथ किया जा सकता है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को डेक्सामेथासोन के साथ इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए. वे दोनों एक दूसरे के विषाक्तता को बढ़ाते हैं. GI अल्सरेशन का खतरा बढ़ जाता है.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल मेथोकार्बामोल के साथ किया जा सकता है?

हां. मेथोकार्बमोल का इस्तेमाल रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के साथ किया जा सकता है क्योंकि इसका कोई गंभीर साइड इफेक्ट ज्ञात नहीं है. किसी भी दवा शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल पैरासिटामोल के साथ किया जा सकता है?

हां. पैरासिटामोल का इस्तेमाल रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के साथ किया जा सकता है क्योंकि इसका कोई गंभीर साइड इफेक्ट ज्ञात नहीं है. किसी भी दवा शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एनएसएआईडी है?

हां. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक नॉन-स्टेरॉयडल एंटी-इंफ्लेमेटरी दवा (एनएसएआईडी) है.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक सल्फा ड्रग है?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक सल्फर युक्त यौगिक है. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन, संवेदनशील व्यक्तियों में गंभीर प्रतिकूल समस्या पैदा कर सकता है. इससे स्टीवन जॉनसन सिंड्रोम जैसी गंभीर त्वचा प्रतिक्रियाएं हो सकती हैं. अगर आपके पास कोई एलर्जी है, तो अपने डॉक्टर को सूचित करें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन ब्लड थिनर है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन ब्लड थिनर नहीं है. यह एक दर्द की हत्या है. रक्तस्राव संबंधी विकार वाले रोगी में इसे बचाना चाहिए.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक मांसपेशियों में शिथिल है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन मांसपेशियों को आराम पहुंचाने के लिए नहीं है. यह एक दर्द वाला हत्या है जो कॉक्स (साइक्लोक्सीजनेस - सूजन और दर्द के लिए जिम्मेदार एंजाइम) पर काम करता है.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक नार्कोटिक है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन नार्कोटिक नहीं है. यह दर्द और सूजन को कम करने के लिए कॉक्स (साइक्लोक्सीजनेस - सूजन और दर्द के लिए जिम्मेदार एंजाइम) पर काम करता है.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल हाइपरटेंशन में किया जा सकता है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन हाइपरटेंशन को नियंत्रित करने के लिए नहीं है. यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक साथ दिए जाने पर एंटीहाइपरटेंसिव दवा की प्रभावशीलता को कम करता है. अगर आप रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन शुरू करने से पहले एंटीहाइपरटेंसिव दवाएं ले रहे हैं तो अपने डॉक्टर को सूचित करें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल लोसर्टन के साथ किया जा सकता है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को लोसार्टन के साथ नहीं लिया जाना चाहिए. यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एक साथ दिए जाने पर लोसर्टन जैसी एंटीहाइपरटेंसिव दवाओं की प्रभाविकता को कम करता है जिससे एंटीहाइपरटेंसिव चिकित्सा विफल हो सकती है. अगर आप रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन शुरू करने से पहले एंटीहाइपरटेंसिव दवाएं ले रहे हैं तो अपने डॉक्टर को सूचित करें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल लिसिनोप्रिल के साथ किया जा सकता है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को लिसिनोप्रिल के साथ नहीं लेना चाहिए. यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि पिरोक्सीकैम एक साथ दिए जाने पर लिसिनोप्रिल जैसी एंटीहाइपरटेंसिव दवाओं की प्रभाविकता को कम करता है जिससे एंटीहाइपरटेंसिव चिकित्सा विफल हो सकती है. अगर आप रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन शुरू करने से पहले एंटीहाइपरटेंसिव दवाएं ले रहे हैं तो अपने डॉक्टर को सूचित करें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल कैल्शियम चैनल ब्लॉकर के साथ किया जा सकता है?

हां. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन कैल्शियम चैनल ब्लॉकर के साथ लिया जा सकता है. कैल्शियम चैनल ब्लॉकर (संदर्भ: सफेद 2007) को छोड़कर सभी एंटीहाइपरटेंसिव दवाओं के प्रभाव को कम करने के लिए NSAIDs देखा गया है

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल टाइज़ैनिडाइन के साथ किया जा सकता है?

हां, रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को टाइज़ानिडिन के साथ दिया जा सकता है. पिरोक्सीकैम दर्द निवारक है और तिजानिडाइन एक स्केलेटल मांसपेशियों के लिए आरामदायक है. इसका इस्तेमाल बैकचे की तरह की स्थिति में किया जाता है.

प्र. बीटा साइक्लोडेक्सट्रिन को रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन में क्यों जोड़ा जाता है?

हां. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को बीटा-साइक्लोडेक्सट्रिन के साथ दिया जा सकता है. अनुसंधान से पता चला है कि रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को बीटा-साइक्लोडेक्सट्रिन के साथ मिश्रित करने से पिरोक्सीकैम की क्रिया तेज हो जाती है और गैस्ट्रिक साइड इफेक्ट कम हो जाते हैं.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के कोई विकल्प हैं?

हां. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के विकल्प हैं. बीमारी की स्थिति के अनुसार दर्द के हत्यारे निर्धारित किए जाते हैं. पिरोक्सीकैम शुरू करने से पहले या इसे अन्य दवाओं में बदलने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें.

प्र. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के लिए क्या प्रतिबंध हैं?

पिरोक्सीकैम के साइड इफेक्ट हैं एलर्जी, ब्लीडिंग, ड्यूडेनल/गैस्ट्रिक/पेप्टिक अल्सर, स्टोमेटाइटिस, सिस्टमिक लूपस एरिथेमेटोसस (एसएलई), अल्सरेटिव कोलाइटिस, अपर जीआई रोग, देर से गर्भावस्था, हृदय रोग, हेपेटिक इम्पेयरमेंट (लिवर की खराबी), रीनल इम्पेयरमेंट (किडनी की खराबी).

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल एलर्जी के इलाज में किया जा सकता है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन एलर्जी का इलाज करने के लिए नहीं है. यह एक दर्द की हत्या है.

प्र. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन कितने समय तक काम करता है?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन, लंबे समय तक काम करने वाली दवा है. दर्द से राहत के लिए दैनिक खुराक पर्याप्त होती है लेकिन यह अलग-अलग व्यक्ति पर निर्भर करती है क्योंकि कुछ हफ़्तों तक देने से पिरोक्सीकैम का असर बढ़ जाता है.

प्र. क्या आप रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का उपयोग करके अधिक प्राप्त कर सकते हैं?

नहीं रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन से नशा होने की कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है. यह एक नॉन-नार्कोटिक पेंकिलर है.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल मासिक धर्म के इलाज के लिए किया जा सकता है?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन माहवारी के दौरान होने वाली ऐंठन के इलाज के लिए स्वीकृत नहीं है. अनुसंधानिक अध्ययनों से पता चला है कि पिरोक्सीकैम महावारी के दर्द को कम करने में काफी प्रभावी है.

प्र. क्या मैं माइग्रेन के लिए रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल कर सकता/सकती हूं?

रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन माइग्रेन के इलाज के लिए स्वीकृत नहीं है. अनुसंधानिक अध्ययनों से पता चला है कि रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन बिना ऑरा के माइग्रेन से जुड़े दर्द को कम करने में काफी प्रभावी है.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन बैक पेन मैनेजमेंट में प्रभावी है?

हां. इसे पीछे दर्द को कम करने के लिए दिया जा सकता है. हालांकि, आपको अपने पीछे दर्द के सटीक कारण के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए और फिर उपचार शुरू करना चाहिए. अपने आपसे रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन ना लें, क्योंकि इससे अलग-अलग लोगों में कमर दर्द हो सकता है, जिसका कारण अलग-अलग हो सकता है.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन गाउट मैनेजमेंट में प्रभावी है?

हां. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को एक्यूट गाउट के इलाज के लिए दिया जा सकता है. अनुसंधानिक अध्ययनों से पता चला है कि रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन तीव्र गठिया के इलाज में अत्यधिक प्रभावी है.

प्र. क्या आप रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के साथ दवा पर रक्त दान कर सकते हैं?

हां. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन लेने के दौरान आप रक्तदान कर सकते हैं. खून दान करने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें.

प्र. अगर मैं डायबिटिक हूं तो क्या मैं रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल कर सकता/सकती हूं?

डायबिटिक मरीजों में रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को केवल डॉक्टर से परामर्श करके ही लिया जा सकता है, क्योंकि इन दवाओं को लंबे समय तक लेने से किडनी के फेल होने की संभावना रहती है. डायबिटीज के कारण किडनी रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन होता है इसलिए पिरोक्सीकैम लेने से किडनी की विफलता का खतरा कई गुना बढ़ सकता है.

प्र. क्या मैं रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल कर सकता/सकती हूं, अगर मेरे पास किडनी का कार्य है?

नहीं. अगर बहुत लम्बे समय तक नॉन-स्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग लेने के कारण रेनल पैपिलरी नेक्रॉसिस और गुर्दे में कोई अन्य समस्या के कारण आपके गुर्दे सामान्य तरह से कार्य नहीं कर रहे हैं, तो रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन नहीं लिया जाना चाहिए.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन से त्वचा की प्रतिक्रिया हो सकती है?

हां. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के कारण त्वचा की रिएक्शन हो सकती हैं, ये रिएक्शन एक्सफोलिएटिव डर्मेटाइटिस, स्टीवेंस-जॉनसन सिंड्रोम (एसजेएस), और टॉक्सिक एपिडर्मल नेक्रोलाइसिस (टीईन) जैसी गंभीर और जानलेवा स्थितियां भी हो सकती हैं. ये गंभीर घटनाएं चेतावनी के बिना हो सकती हैं. अगर आपको लगता है कि आपकी हालत में रैश है और दवा तुरंत बंद कर दें, तो आपको डॉक्टर को सूचित करना चाहिए.

प्र. अगर मैं गर्भवती हूं तो क्या मैं रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल कर सकता/सकती हूं?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को गर्भावस्था में नहीं लेना चाहिए. इससे डक्टस आर्टेरियोसस को समय से पहले बंद करने का कारण होता है जो शिशु के हृदय की विफलता और मृत्यु का कारण बन सकता है.

प्र. अगर मेरे पास पेप्टिक अल्सर की बीमारी है तो क्या मैं रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल कर सकता/सकती हूं?

नहीं. सक्रिय पेप्टिक अल्सर रोग के मामले में रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को न देने की सलाह दी जाती है. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के कारण गैस्ट्रिक अल्सरेशन और ब्लीडिंग होती है.

प्र. अगर मेरे पास अस्थमा है तो क्या मैं रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल कर सकता/सकती हूं?

अस्थमा वाले कुछ रोगी ऐस्पिरिन जैसे नॉन-स्टेरॉयडल एंटी-इंफ्लेमेटरी (एनएसएआईडी) दवाओं से अधिक संवेदनशील हैं जो अस्थमा के तीव्र हमलों का कारण बन सकते हैं. इस दवा शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श लें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन से संकल्पना में कठिनाई हो सकती है?

हां. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन कभी-कभार वापस ठीक होने योग्य इन्फर्टिलिटी का कारण बन सकता है. पिरोक्सीकैम की कार्यप्रणाली के द्वारा ओवेरियन फॉलिकल्स के टूटने में देरी हो सकती या इसकी रोकथाम हो सकती है, जो कुछ महिलाओं में प्रतिवर्ती बांझपन के साथ जुड़ा हुआ है. इस दवा शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श लें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल डायरेटिक्स के साथ किया जा सकता है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल डाययूरेटिक्स के साथ नहीं किया जाना चाहिए. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन कुछ रोगियों में फ्यूरोसेमाइड और थियाजाइड डाइयूरेटिक्स के नैट्रियूरेटिक प्रभाव को कम करता है.. यह प्रतिक्रिया किडनी प्रोस्टाग्लैंडिन संश्लेषण के प्रतिबंध के लिए दिया गया है.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल लिथियम के साथ किया जा सकता है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल लिथियम के साथ नहीं किया जाना चाहिए. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन प्लाज्मा लिथियम के स्तर को बढ़ाता है और रेनल लिथियम क्लीयरेंस में कमी करता है. यह एनएसएआईडी द्वारा किडनी प्रोस्टाग्लैंडिन संश्लेषण के प्रतिबंध के कारण है. इस दवा शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श लें और सूचित करें.

प्र. क्या रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन का इस्तेमाल वारफेरिन के साथ किया जा सकता है?

नहीं. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन को वारफेरिन के साथ नहीं लिया जाना चाहिए क्योंकि दोनों में रक्तस्राव को बढ़ा देने की प्रवृत्ति होती है. अगर आप दवाओं में से कोई भी ले रहे हैं तो डॉक्टर को सूचित करें. अगर एक साथ दिया गया है, तो चिकित्सा की निकटता से निगरानी की जानी चाहिए.

प्र. जब मैं पहले ही रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन ले रहा हूं तो गैस्ट्रिक अल्सर प्राप्त करने की संभावना क्या बढ़ती है?

अगर आप कोर्टिकोस्टेरॉयड्स और एंटीकोऐग्युलेंट्स जैसी दवाएं लेते हैं, तो गैस्ट्रिक अल्सरेशन की संभावना बढ़ जाती है. दीर्घकालिक उपयोग, शराब, धूम्रपान और पुरानी आयु कुछ अन्य कारक हैं जो अल्सरेशन की संभावना बढ़ा सकते हैं.

प्र. नॉन-स्टेरॉयडल एंटी-इन्फ्लेमेटरी ड्रग (NSAID)/ रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन किसे नहीं लेना चाहिए?

जिन रोगियों के पास अस्थमा हमला, हाइव्स या एस्पिरिन या किसी अन्य एलर्जिक प्रतिक्रिया या हार्ट बायपास सर्जरी से पहले या बाद में दर्द के लिए.

प्र. रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन के गंभीर साइड इफेक्ट क्या हैं?

जीआई के असुविधा और दुर्लभ, गंभीर जीआई के साइड इफेक्ट, जैसे अल्सर और ब्लीडिंग, त्वचा के साइड इफेक्ट जैसे एक्सफोलिएटिव, स्टीवन-जॉन्सन सिंड्रोम (एसजेएस), और टॉक्सिक एपिडर्मल नेक्रोलाइसिस, लिवर फेल्योर, रीनल डैमेज.

संबंधित प्रोडक्ट

जानकारी साझा करना चाहते हैं?

Disclaimer:

1mg's sole intention is to ensure that its consumers get information that is expert-reviewed, accurate and trustworthy. However, the information contained herein should NOT be used as a substitute for the advice of a qualified physician. The information provided here is for informational purposes only. This may not cover all possible side effects, drug interactions or warnings or alerts. Please consult your doctor and discuss all your queries related to any disease or medicine. We intend to support, not replace, the doctor-patient relationship.

रिफरेंस

  1. Furst DE, Ulrich RW, Varkey-Altamirano C. Nonsteroidal Anti-Inflammatory Drugs, Disease Modifying Antirheumatic Drugs, Nonopioids Analgesics, & Drugs Used in Gout. In: Katzung BG, Masters SB, Trevor AJ, editors. Basic and Clinical Pharmacology. 11th ed. New Delhi, India: Tata McGraw Hill Education Private Limited; 2009. p. 628.
  2. Grosser T, Smyth E, FitzGerald GA. Anti-Inflammatory, Antipyretic, and Analgesic Agents; Pharmacotherapy of Gout. In: Brunton LL, Chabner BA, Knollmann BC, editors. Goodman & Gilman’s: The Pharmacological Basis of Therapeutics. 12th ed. New York, New York: McGraw-Hill Medical; 2011. p. 989-90.
  3. Briggs GG, Freeman RK, editors. A Reference Guide to Fetal and Neonatal Risk: Drugs in Pregnancy and Lactation. 10th ed. Philadelphia, PA: Wolters Kluwer Health; 2015. pp. 1127-28.
  4. Pubchem. Piroxicam. [Accessed 02 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  5. ScienceDirect. Piroxicam. [Accessed 02 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  6. Chaves RG, Lamounier JA. Breastfeeding and maternal medications. J Pediatr (Rio J). 2004;80(5 Suppl):S189-S198. [Accessed 02 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  7. Central Drugs Standard Control Organisation (CDSCO). [Accessed 02 Apr. 2019] (online) Available from:External Link

निर्माता/मार्केटर का एड्रेस

एड्रेस : 62, विजय नगर, बटाला रोड, अमृतसर - 143036, पंजाब
मूल देश: भारत

एक्सपायरी डेट: मई, 2021

A लाइसेंस वेंडर पार्टनर आपकी सबसे नज़दीकी लोकेशन से रुकैप्रोक्स 40mg इन्जेक्शन डिलीवर करेगा. जैसे ही फार्मेसी आपका ऑर्डर स्वीकार कर लेती है, फार्मेसी का विवरण आपके साथ शेयर किया जाएगा. आपके ऑर्डर की स्वीकृति आपके डॉक्टर की ℞ की वैधता और इस दवा की उपलब्धता पर आधारित है.
MRP35.64  15% की छूट पाएं
Best Price
₹30.29
सभी कर शामिल
₹499 से अधिक के ऑर्डर पर सर्वश्रेष्ठ मान्य कीमत है
1 शीशी में 2 मिली
कार्ट में जोड़ें
Price for Care Plan Members:
₹29.58 + Earn ₹5.9 1mgCash
arrow

अतिरिक्त ऑफर

पेटीएम: Valid till 28th February 2021
Show more show_more

INDIA’S LARGEST HEALTHCARE PLATFORM

150M+
Visitors
25M+
Orders Delivered
1000+
Cities
Get the link to download App
Reliable

All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies. All labs listed on the platform are accredited

Secure

1mg uses Secure Sockets Layer (SSL) 128-bit encryption and is Payment Card Industry Data Security Standard (PCI DSS) compliant

Affordable

Find affordable medicine substitutes, save up to 50% on health products, up to 80% off on lab tests and free doctor consultations.

India's only LegitScript and ISO/IEC 27001 certified online healthcare platform

Know More About 1mgdownArrow

Access medical and health information

1mg provides you with medical information which is curated, written and verified by experts, accurate and trustworthy. Our experts create high-quality content about medicines, diseases, lab investigations, Over-The-Counter (OTC) health products, Ayurvedic herbs/ingredients, and alternative remedies.

Order medicines online

Get free medicine home delivery in over 1000 cities across India. You can also order Ayurvedic, Homeopathic and other Over-The-Counter (OTC) health products. Your safety is our top priority. All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies.

Book lab tests

Book any lab tests and preventive health packages from certified labs and get tested from the comfort of your home. Enjoy free home sample collection, view reports online and consult a doctor online for free.

Consult a doctor online

Got a health query? Consult doctors online from the comfort of your home for free. Chat privately with our registered medical specialists to connect directly with verified doctors. Your privacy is guaranteed.