एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप

डॉक्टर की पर्ची ज़रूरी है
दवा के घटक
स्टोरेज के निर्देश
रूम टेम्परेचर पर स्टोर करें (10-30°C)

परिचय

एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप का उपयोग ऑक्यूलर हाइपरटेंशन (आंख में दबाव) और ग्लूकोमा के इलाज में किया जाता है. यह आंख में उच्च दबाव को कम करने में मदद करता है और दृष्टि खोने के जोखिम को कम करता है. इस दवा का उपयोग अकेले या किसी अन्य आई ड्रॉप के साथ किया जा सकता है जो आंखों में दबाव को कम करता हो.

एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप केवल बाहरी अंगों के लिए है. डॉक्टर द्वारा निर्धारित खुराक और अवधि में इसका इस्तेमाल करें. अगर आप कॉन्टैक्ट लेंस पहनते हैं, तो दवा का इस्तेमाल करने से पहले उन्हें हटाएं. ड्रॉपर की टिप को किसी भी सतह पर छूने से बचें क्योंकि इससे आई ड्रॉप संदूषित हो सकती है. सबसे बेहतर नतीजों के लिए, हर रोज़ इसे शाम या रात में इस्तेमाल करें.

सामान्य साइड इफेक्ट में एलर्जिक कंजक्टीवाइटिस , जलन का अहसास, कंजक्टीवल सूजन, कंजक्टीवल हाइपरइमिया , आंखों में खुजली, हाई ब्लड प्रेशर , आंखों में एलर्जिक रिएक्शन, मुंह सूखना और विजुअल डिस्‍टर्बेंस (दृश्यात्मक बाधा) शामिल हैं.. अगर वे ठीक नहीं होते हैं या स्थिति खराब हो जाती है, तो डॉक्टर को सूचित करें अगर यह साइड इफेक्ट लंबे समय तक बने रहते हैं, तो कृपया अपने डॉक्टर को सूचित करें. अगर आपकी आंखें ध्यान केंद्रित करने और प्रतिक्रिया करने में सक्षम नहीं हैं, तो इस इंजेक्शन को लेने के बाद ड्राइविंग में सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है.

Uses of Apbidin P Eye Drop

Benefits of Apbidin P Eye Drop

ऑक्यूलर हाइपरटेंशन में

ऑक्यूलर हाइपरटेंशन एक ऐसी स्थिति है जहां आंख के अंदर का दबाव सामान्य आंखों के दबाव से अधिक होता है. इससे चोट, कुछ बीमारियों या कुछ दवाओं के प्रतिकूल प्रभाव के कारण हो सकता है. Apbidin P 0.15% Eye Drop reduces the fluid accumulation of the eye and facilitates draining of the fluid from the eyes. यह ऑक्यूलर हाइपरटेंशन के इलाज में मदद करता है और आंखों की रोशनी में परिवर्तन या रोशनी जाने जैसी जटिलताओं से बचाता है.

ग्लूकोमा में

ग्लूकोमा आंख संबंधी समस्याओं का एक समूह है जो ऑप्टिक तंत्रिका को नुकसान पहुंचाता है, जिसका स्वास्थ्य अच्छी दृष्टि के लिए महत्वपूर्ण है. यह नुकसान अक्सर आपकी आंखों में असामान्य रूप से उच्च दबाव के कारण होता है. ग्लूकोमा 60 या उससे अधिक आयु के लोगों में ब्लाइंडनेस का अग्रणी कारण है. एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप का उपयोग आंख के अंदर दबाव व सूजन को कम करने के लिए किया जाता है. यह अंधापन जैसे ग्लूकोमा की जटिलताओं को रोकने में मदद करता है और आंखों की रोशनी में सुधार करता है.

Side effects of Apbidin P Eye Drop

इस दवा से होने वाले अधिकांश साइड इफेक्ट में डॉक्टर की सलाह लेने की ज़रूरत नहीं पड़ती है और नियमित रूप से दवा का सेवन करने से साइट इफेक्ट अपने आप समाप्त हो जाते हैं. अगर साइड इफ़ेक्ट बने रहते हैं या लक्षण बिगड़ने लगते हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह लें

एपीबीआईडीआईएन पी के सामान्य साइड इफेक्ट

  • आंखों में खुजली
  • आंखों में एलर्जिक रिएक्शन
  • कंजक्टीवल हाइपरइमिया
  • फॉलीकुलर कंजक्टीवाइटिस
  • मुंह में सूखापन
  • एलर्जिक कंजक्टीवाइटिस
  • जलन का अहसास
  • हाई ब्लड प्रेशर

How to use Apbidin P Eye Drop

यह दवाई केवल बाहरी इस्तेमाल के लिए है. इसे डॉक्टर द्वारा बताई गई खुराक और अवधि के अनुसार लें. इस्तेमाल करने के पहले लेवल की जांच कर लें. इसे छूए बिना ड्रॉपर को आंखों के पास रखें. ड्रॉपर को हल्के से दबाएं और दवा को निचली पलक के अंदर डालें. Wipe off the extra liquid.

How Apbidin P Eye Drop works

एपबिडिन पी 0.15% आई ड्रॉप एक सिम्पैथोमिमेटिक है. यह क्वियस ह्यूमर (आंखों में द्रव) के उत्पादन को कम करके काम करता है, जिससे आंखों का बढ़ा हुआ दबाव कम हो जाता है.

सुरक्षा संबंधी सलाह

अल्कोहल
किसी प्रभाव की जानकारी प्राप्त/उपलब्ध नहीं है
गर्भावस्था
डॉक्टर की सलाह पर सुरक्षित
एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप को आमतौर पर गर्भावस्था के दौरान इस्तेमाल करने लिए सुरक्षि‍त माना जाता है. जानवरों पर किए अध्ययनों में पाया गया कि विकसित हो रहे शिशु पर इसका कम या कोई प्रभाव नहीं पड़ता है ; हालाँकि इससे संबंधित अध्ययन सीमित हैं.
स्तनपान
डॉक्टर की सलाह पर सुरक्षित
स्तनपान के दौरान एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप का इस्तेमाल संभवतः सुरक्षित है. मानव पर किए गए सीमित शोध से यह पता चलता है कि दवा से बच्चे को कोई गंभीर जोखिम नहीं पहुंचता है.
ब्रेस्टमिल्क में एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप की मात्रा को कम करने के लिए, आंख के कोने पर 1 मिनट या उससे अधिक समय तक दबाव डालें, फिर एब्जॉर्बेंट टिश्यू से अतिरिक्त सॉल्यूशन हटा लें.
ड्राइविंग
असुरक्षित
एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप के इस्तेमाल से ऐसे साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं जिससे आपकी गाड़ी चलाने की क्षमता प्रभावित हो सकती है.
एपबिडिन पी 0.15% आई ड्रॉप से नज़र धुंधली या असामान्य हो सकती है. इसके प्रभाव रात में या कम प्रकाश में अधिक खराब हो सकते हैं और इससे आपके गाड़ी चलाने की क्षमता पर असर पड़ सकता है.
किडनी
किसी प्रभाव की जानकारी प्राप्त/उपलब्ध नहीं है
लिवर
किसी प्रभाव की जानकारी प्राप्त/उपलब्ध नहीं है

What if you forget to take Apbidin P Eye Drop

अगर आप एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप निर्धारित समय पर लेना भूल गए हैं तो जितनी जल्दी हो सके इसे ले लें. हालांकि, अगर अगली खुराक का समय हो गया है तो छूटी हुई खुराक को छोड़ दें और नियमित समय पर अगली खुराक लें. खुराक को डबल न करें.

वैकल्पिक ब्रांड्स

यह जानकारी सिर्फ सूचना के उद्देश्य से है. कृपया कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लें.
एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप
₹116.18/Eye Drop
ग्लोब्रिम 0.15% आई ड्रॉप
टॉरेंट फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड
₹120/Eye Drop
3% costlier
रिमोनिड 0.15% आई ड्रॉप
माइक्रो लैब्स लिमिटेड
₹160/Eye Drop
38% costlier
ब्राइमोडिन पी आई ड्रॉप
सिप्ला लिमिटेड
₹169/Eye Drop
45% costlier
राइमोफ्लो आई ड्रॉप
आईपीसीए लैबोरेटरीज लिमिटेड
₹205/Eye Drop
76% costlier
ब्रिमोचेक आई ड्रॉप
इंडोको रेमेडीज़ लिमिटेड
₹275/Eye Drop
137% costlier

ख़ास टिप्स

  • एपबिडिन पी 0.15% आई ड्रॉप आंखों में उच्च दबाव को कम करने और अंधेपन के खतरे को कम करने में मदद करता है.
  • सबसे बेहतर नतीजों के लिए, प्रभावित आंख (आंखों) में हर रोज़ 2-3 बार एक ड्रॉप डालें.
  • ड्रॉप डालने के तुरंत बाद लगभग 1 मिनट के लिए आंख के कोने (नाक के करीब) पर दबाव डालें.
  • एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप का उपयोग करने से पहले कॉन्टैक्ट लेंस हटाएं और उन्हें दोबारा लगाने से पहले कम से कम 15 मिनट रुकें.
  • आई ड्रॉप को संदूषण से बचाने के लिए ड्रॉपर के टिप को किसी भी सतह से या अपनी आंखों से स्पर्श न होने दें.
  • डाइल्यूशन से बचने के लिए उसी आंख में अगली दवा डालने से पहले कम से कम 5-10 मिनट तक प्रतीक्षा करें.
  • इस दवा को पहली बार लेने पर थोड़े समय के लिए नजर में धुंधलापन हो सकता है. ड्राइविंग करते समय या मशीनों का इस्तेमाल करते समय सावधानी बरतें.
  • इससे आंखों में अस्थायी जलन या खुजली हो सकती है. अगर यह परेशानी जल्दी खत्म नहीं होती है तो अपने डॉक्टर से सम्पर्क करें.
  • बोतल खोलने के1 सप्ताह के भीतर ही इस्तेमाल करें.

फैक्ट बॉक्स

रासायनिक वर्ग
Quinoxaline Derivative
लत लगने की संभावना
नहीं
चिकित्सीय वर्ग
OPHTHAL
एक्शन क्लास
Sympathomimetics- Ocular

पेशेंट कंसर्न

arrow
Doctor advised for medication for glaucoma suspect only because eye pressure is 22 but all other tests are normal.medicine , 9 pm drops is prescribed. Please advice
Dr. Vishal Arora
Ophthalmology
Ocular hypertension can lead to glaucoma eventually. Continue the drops
I have been taking Timolet OD drops everyday for the last three months to help with high ocular pressure. Lately I have been feeling opaqueness in vision.
Dr. Richa Jain
Ophthalmology
Visit glaucoma specialist for eye examination
arrow
क्या आप एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप से संबंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं?

यूजर का फीडबैक


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्र. क्या एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप बीटा ब्लॉकर है?

नहीं, एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप बीटा ब्लॉकर नहीं है. यह एक अल्फा एड्रेनर्जिक अगोनिस्ट है जिसका मतलब यह आंख में मौजूद अल्फा एड्रेनर्जिक रिसेप्टर पर कार्य करता है. यह दवा आंखों में तरल की राशि को कम करके आंखों में उच्च दबाव को कम करती है. यह हृदय और फेफड़ों पर न्यूनतम प्रभाव पड़ता है.

प्र. क्या एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप से आपको नींद आती है?

हां, एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप से बेहोशी हो सकती है और थकान भी हो सकती है जिससे मशीनरी चलाने या उपयोग करने की क्षमता प्रभावित हो सकती है. इससे धुंधलापन या असामान्य दृष्टि भी हो सकती है जिससे मशीनरी चलाने या उसका उपयोग करने में कठिनाई हो सकती है, विशेष रूप से रात में या कम लाइटिंग में. जब तक इन लक्षणों की सब्सिड नहीं होती है, तब तक आपको ड्राइविंग या मशीनरी का उपयोग करने से बचना चाहिए.

प्र. क्या एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप ब्लड प्रेशर कम करता है?

एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप के कारण कम या हाई ब्लड प्रेशर हो सकता है. एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप लेने से पहले, अगर आप पहले से ही रक्तचाप कम करने में कोई दवा ले रहे हैं तो डॉक्टर को सूचित करें. इसके अलावा, आप एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप ले रहे समय अपने ब्लड प्रेशर पर नियमित जांच करते रहें.

प्र. क्या एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप से प्यूपिल डाइलेशन होता है?

नहीं, एपीबीआईडीआईएन पी 0.15% आई ड्रॉप के कारण पुपल डाइलेशन नहीं होता है. इसके विपरीत, बहुत ही दुर्लभ मामलों में, इसे मायोसिस भी कहा जा सकता है. अगर आपको मियोसिस का अनुभव होता है, तो आपको नाइट विजन कठिनाई, हैलोस और ग्लेयर हो सकते हैं. अगर आप इन लक्षणों का अनुभव करते हैं, तो डॉक्टर से संपर्क करें.

संबंधित प्रोडक्ट

जानकारी साझा करना चाहते हैं?

Disclaimer:

1mg का एक मात्र आशय उपभोक्ताओं तक विशेषज्ञों द्वारा परखी गई, सटीक और विश्वसनीय जानकारी को पहुंचाना है।. यहां उपलब्ध जानकारी को चिकित्सकीय परामर्श के विकल्प के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए. यहां दिए गए विवरण सिर्फ़ आपकी जानकारी के लिए हैं. यह संभव है कि इसमें दवाओं के दुष्प्रभाव, पारस्परिक प्रभाव और उनसे जुड़ी सावधानियां एवं चेतावनियों की सारी जानकारी सम्मिलित ना हो. किसी भी दवा या बीमारी से जुड़े अपने सभी सवालों के लिए डॉक्टर से संपर्क करें. हमारा उद्देश्य डॉक्टर और मरीज के बीच के संबंध को मजबूत बनाना है, उसका विकल्प बनना नहीं.

रिफरेंस

  1. Westfall TC, WestfallIn DP. Adrenergic Agonists and Antagonists. In: Brunton LL, Chabner BA, Knollmann BC, editors. Goodman & Gilman’s: The Pharmacological Basis of Therapeutics. 12th ed. New York, New York: McGraw-Hill Medical; 2011. p. 297.
  2. Biaggioni I, Robertson D. Adrenoreceptor Agonists & Sympathomimetic Drugs. In: Katzung BG, Masters SB, Trevor AJ, editors. Basic and Clinical Pharmacology. 11th ed. New Delhi, India: Tata McGraw Hill Education Private Limited; 2009. p. 144.
  3. Brimonidine tartrate. Fareham, Hampshire: FDC International Ltd.; 2010 [revised 24 Jun. 2014]. [Accessed 25 Jan. 2019] (online) Available from:External Link
  4. Brimonidine. Irvine, California: Allergan, Inc.; 1996 [revised May 2010]. [Accessed 04 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  5. Central Drugs Standard Control Organisation (CDSCO). [Accessed 04 Apr. 2019] (online) Available from:External Link

निर्माता/मार्केटर का एड्रेस

अजंता हाउस, चारकोप, कांदिवली वेस्ट, मुंबई 400 067, इंडिया
मूल देश: भारत

MRP
116.18
सभी कर शामिल
1 पैकेट में 5 एमएल
बिक चुके हैं

INDIA’S LARGEST HEALTHCARE PLATFORM

160M+
Visitors
27M+
Orders Delivered
1800+
Cities
Get the link to download App
Reliable

All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies. All labs listed on the platform are accredited

Secure

1mg uses Secure Sockets Layer (SSL) 128-bit encryption and is Payment Card Industry Data Security Standard (PCI DSS) compliant

Affordable

Find affordable medicine substitutes, save up to 50% on health products, up to 80% off on lab tests and free doctor consultations.

India's only LegitScript and ISO/IEC 27001 certified online healthcare platform

Know More About 1mgdownArrow

Access medical and health information

1mg provides you with medical information which is curated, written and verified by experts, accurate and trustworthy. Our experts create high-quality content about medicines, diseases, lab investigations, Over-The-Counter (OTC) health products, Ayurvedic herbs/ingredients, and alternative remedies.

Order medicines online

Get free medicine home delivery in over 1800 cities across India. You can also order Ayurvedic, Homeopathic and other Over-The-Counter (OTC) health products. Your safety is our top priority. All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies.

Book lab tests

Book any lab tests and preventive health packages from certified labs and get tested from the comfort of your home. Enjoy free home sample collection, view reports online and consult a doctor online for free.

Consult a doctor online

Got a health query? Consult doctors online from the comfort of your home for free. Chat privately with our registered medical specialists to connect directly with verified doctors. Your privacy is guaranteed.