स्पिरोपिर्फ टैबलेट

डॉक्टर की पर्ची ज़रूरी है
स्टोरेज के निर्देश
रूम टेम्परेचर पर स्टोर करें (10-30°C)

परिचय

स्पिरोपिर्फ टैबलेट एक डॉक्टर के पर्चे की दवा है जिसे इडियोपैथिक पल्मनेरी फाइब्रोसिस के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है. It reduces scarring and swelling in the lungs and helps to breathe better.

It may be taken with food. But, It is better to take it at the same time every day to get the most benefits. The dose and how often you take it depends on what you are taking it for. Your doctor will decide how much you need to improve your symptoms. You should take this medicine for as long as it is prescribed for you.

The most common side effects of this medicine include insomnia, headache, and dizziness. To overcome dizziness, avoid driving or attention-seeking activity. Some people may experience weight loss, hence monitor your weight regularly or ask for doctor consultation. Some side effects, which means you must inform your doctor include abdominal pain, loss of appetite, darkened urine or yellowing of the eyes. Your doctor may perform a liver function test while on treatment.

Before taking this medicine, let your doctor know if you have liver or kidney disease. Your doctor should also know about all other medicines you are taking as many of these may make this medicine less effective or change the way it works. It makes your skin sun-sensitive, wear protective clothing or apply sunscreen while in direct contact with sun. Inform your doctor if you are pregnant or breastfeeding.

स्पिरोपिर्फ टैबलेट के मुख्य इस्तेमाल

स्पिरोपिर्फ टैबलेट के लाभ

इडियोपैथिक पल्मनेरी फाइब्रोसिस में

इडियोपैथिक पल्मनेरी फाइब्रोसिस फेफड़ों की एक बीमारी है जिसमें फेफड़ों के उत्तक मोटे तथा कड़े हो जाते हैं और परिणामस्वरूप फेफड़ों में स्कार उत्तक बन जाता है. The scarring, or fibrosis, seems to result from a cycle of damage and healing that occurs in the lungs. These changes are irreversible and the affected person may experience shortness of breath or dry cough as initial symptoms. Spiropirf Tablet reduces the scarring or fibrosis and makes breathing easier. You may experience some bothersome side effects. Discuss with your doctor if you have any doubts.

स्पिरोपिर्फ टैबलेट के साइड इफेक्ट

इस दवा से होने वाले अधिकांश साइड इफेक्ट में डॉक्टर की सलाह लेने की ज़रूरत नहीं पड़ती है और नियमित रूप से दवा का सेवन करने से साइट इफेक्ट अपने आप समाप्त हो जाते हैं. अगर साइड इफ़ेक्ट बने रहते हैं या लक्षण बिगड़ने लगते हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह लें

स्पिरोपिर्फ के सामान्य साइड इफेक्ट

  • अनिद्रा (नींद में कठिनाई)
  • सिर दर्द
  • चक्कर आना
  • थकान
  • साइनस के कारण सूजन
  • भूख में कमी
  • श्वसन तंत्र के उपरी हिस्से में संक्रमण
  • वजन घटना

स्पिरोपिर्फ टैबलेट का इस्तेमाल कैसे करें

इस दवा की खुराक और अनुपान की अवधि के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें. इसे साबुत निगल लें. इसे चबाएं, कुचलें या तोड़ें नहीं. स्पिरोपिर्फ टैबलेट को भोजन के साथ लेना बेहतर होता है.

स्पिरोपिर्फ टैबलेट कैसे काम करता है

स्पिरोपिर्फ टैबलेट एक एंटीफाईब्रोटिक दवा है. It works by reducing fibrosis (scarring) and swelling in the lungs. This makes breathing easier.

सुरक्षा संबंधी सलाह

अल्कोहल
डॉक्टर की सलाह लें
यह मालूम नहीं है कि स्पिरोपिर्फ टैबलेट के साथ एल्‍कोहल का सेवन करना सुरक्षित है या नहीं. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
गर्भावस्था
डॉक्टर की सलाह लें
गर्भावस्था के दौरान स्पिरोपिर्फ टैबलेट का इस्तेमाल करना असुरक्षित हो सकता है. हालांकि, इंसानों से जुड़े शोध सीमित हैं लेकिन जानवरों पर किए शोधों से पता चलता है कि ये विकसित हो रहे शिशु पर हानिकारक प्रभाव डालता है. आपके डॉक्टर पहले इससे होने वाले लाभ और संभावित जोखिमों की तुलना करेंगें और उसके बाद ही इसे लेने की सलाह देंगें. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
स्तनपान
डॉक्टर की सलाह लें
स्तनपान के दौरान स्पिरोपिर्फ टैबलेट के उपयोग के बारे में जानकारी उपलब्ध नहीं है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
ड्राइविंग
असुरक्षित
स्पिरोपिर्फ टैबलेट से सतर्कता में कमी आ सकती है, नजर धुंधली हो सकती है या आपको नींद आने और चक्कर आने की शिकायत हो सकती है. इन लक्षणों के महसूस होने पर वाहन न चलाएं.
किडनी
सावधान
किडनी से जुड़ी बीमारी से पीड़ित मरीज सावधानी के साथ स्पिरोपिर्फ टैबलेट का इस्तेमाल करें. स्पिरोपिर्फ टैबलेट की खुराक बदलने की ज़रूरत पड़ सकती है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
किडनी की गंभीर बीमारी और डायलिसिस वाले मरीज़ों को स्पिरोपिर्फ टैबलेट इस्तेमाल करने की सलाह नहीं दी जाती.
लिवर
सावधान
लीवर की बीमारी से पीड़ित मरीजों को सावधानीपूर्वक स्पिरोपिर्फ टैबलेट का इस्तेमाल करना चाहिए. स्पिरोपिर्फ टैबलेट की खुराक बदलने की ज़रूरत पड़ सकती है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
लिवर की गंभीर बीमारी से पीड़ित मरीजों को स्पिरोपिर्फ टैबलेट का इस्तेमाल करने की सलाह नहीं दी जाती है.

वैकल्पिक ब्रांड्स

यह जानकारी सिर्फ सूचना के उद्देश्य से है. कृपया कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लें.
स्पिरोपिर्फ टैबलेट
₹20.35/Tablet
₹20.24/Tablet
1% बचाएं
पिरफेनेक्स टैबलेट
सिप्ला लिमिटेड
₹23.14/Tablet
14% costlier
फिबोरेस्प टैबलेट
ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड
₹23.85/Tablet
17% costlier
पिरफेटैब टैबलेट
ज़ायडस कैडिला
₹25.41/Tablet
25% costlier
फाइब्रोडोन टैबलेट
लूपिन लिमिटेड
₹25.66/Tablet
26% costlier

ख़ास टिप्स

  • स्पिरोपिर्फ टैबलेट फेफड़ों के दाग और सूजन को कम करता है, और आपके लिए साँस लेना आसान बनाता है.
  • It is best to take this medicine with food and at the same time each day.
  • This medication may make you more sensitive to sun. Use sunscreen and wear protective clothing when outdoors.
  • स्पिरोपिर्फ टैबलेट से इलाज के दौरान सिगरेट पीना या धूम्रपान करना बंद कर दें नहीं तो इलाज के प्रभाव पर असर पड़ सकता है.
  • It may cause dizziness or sleepiness. जब तक आप यह नहीं जानते कि यह आपको कैसे प्रभावित करता है, तब तक गाड़ी चलाने या एकाग्रता की आवश्यकता के लिए कुछ न करें.
  • इससे वजन घटना हो सकता है.. Monitor your weight regularly.
  • Your doctor may check your liver function regularly. Inform your doctor if you develop abdominal pain, loss of appetite, darkened urine or yellowing of the eyes or skin (jaundice).

फैक्ट बॉक्स

रासायनिक वर्ग
Pyridones Derivative
लत लगने की संभावना
No
चिकित्सीय वर्ग
RESPIRATORY

पेशेंट कंसर्न

arrow
Can idiopathic pulmonary fibrosis be cured?
Dr. Manju Singh
Homeopathy
I would like to suggest you that please consult with your nearest homeopathy doctor because your case require detail case taking.
My mother is suffering from Interstitial Lungs disease since 4 yrs.She is on home oxygen since 3 yrs from then for atleast 14-16 hrs.Currently she is getting treatment from AIIMS,New Delhi and the medecines given are as under:- Pirfenidone (600mg-Thrice a day) Sildenafil (25mg-Thrice a day) Tab Uprise D3 for calcium-60000 units (Once a month) Tab DDR60-Once a day. The treatment has been for exactly 1 yrs and 3 months from now but the disease is still on a progressive mode.She is not improving.My family is very worried. Please help out with proper treatment for this disease.This disease is also known as Idiopathic Pulmonary Fibrosis (IPF). Best Regards Mayur PATIENT
Dr. Aanchal Maheshwari
Ayurveda
Case has to be correlated with Ayurveda, for this case has to be seen in person before starting the treatment as correlation of case with Ayurveda need to be done
arrow
Do you have any questions related to Spiropirf Tablet

यूजर का फीडबैक


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्र. स्पाइरोपिर्फ टैबलेट के इलाज के दौरान मुझे क्या मॉनीटरिंग की आवश्यकता होगी?

स्पिरोपिर्फ टैबलेट से उपचार शुरू करने से पहले आपका डॉक्टर आपके लिवर फंक्शन की जांच करेगा. यह टेस्ट पहले 6 महीनों के लिए मासिक रूप से दोहराया जाएगा और फिर यह हर तीन महीनों के बाद किया जाएगा. इसके अतिरिक्त, आपका डॉक्टर आवधिक रूप से आपके फेफड़ों के फंक्शन की निगरानी करेगा ताकि स्पिरोपिर्फ टैबलेट का जवाब देखा जा सके.

प्र. स्पाइरोपिर्फ टैबलेट के साथ उपचार जारी रखना क्यों महत्वपूर्ण है?

एक बार खो जाने पर आपके फेफड़े के कार्य को संरक्षित करके रोग की प्रगति को नियंत्रित करना महत्वपूर्ण है. इसलिए, अपने डॉक्टर द्वारा निर्धारित स्पाइरोपिर्फ टैबलेट के साथ शुरू करने और उपचार जारी रखने की सलाह दी जाती है. ऐसा करने से मौजूदा फेफड़े की कार्यक्षमता को बनाए रखने में मदद मिल सकती है.

प्र. स्पाइरोपिर्फ टैबलेट के साइड इफेक्ट क्या हैं?

स्पाइरोपिर्फ टैबलेट के अधिकांश साइड इफेक्ट में सूर्य की रोशनी, मिचलाना, थकान, दस्त, अपच या दुष्ट पेट, भूख की हानि, और सिरदर्द के प्रति त्वचा संवेदनशीलता शामिल है. अन्य आम दुष्प्रभावों में गले या वायुमार्ग के संक्रमण, मूत्राशय में संक्रमण, वजन कम होना, नींद न आना, चक्कर आना, नींद आना, स्वाद में बदलाव, गर्म पानी आना, सांस की तकलीफ और खांसी शामिल हैं।. इसके अतिरिक्त, किसी को एसिड रिफ्लक्स, उल्टी, पेट फूलना, पेट में दर्द और बेचैनी, दिल में जलन, कब्ज, त्वचा की समस्याएं जैसे खुजली वाली त्वचा, त्वचा की लालिमा या लाल त्वचा, सूखी त्वचा, त्वचा पर चकत्ते, मांसपेशियों में दर्द, जोड़ों में दर्द जैसी समस्याएं हो सकती हैं। / जोड़ों में दर्द, कमजोरी, सीने में दर्द और धूप की कालिमा. यह संभव है कि स्पाइरोपिर्फ टैबलेट ब्लड टेस्ट का उपयोग करने के बाद लिवर एंजाइम का स्तर बढ़ सकता है.

प्र. क्या स्पिरोपिर्फ टैबलेट स्टेरॉयड है?

नहीं, स्पिरोपिर्फ टैबलेट स्टेरॉयड नहीं है. यह दवाओं के समूह पाय्रिडाइनस के अंतर्गत आता है. इसका उपयोग वयस्कों में इडियोपैथिक पल्मोनरी फाइब्रोसिस (ipf ) के इलाज के लिए किया जाता है. आईपीएफ में, फेफड़ों के ऊतकों को समय के साथ क्षत-विक्षत और सूज जाता है, जिससे सांस लेने में समस्या होती है. यह दवा आपको बेहतर सांस लेने के लिए इन प्रभावों को कम करने में मदद करती है.

प्र. मुझे कैसे पता चलेगा कि स्पिरोपिर्फ टैबलेट मेरे लिए सही है?

केवल आप और आपका डॉक्टर ही निर्णय कर सकता है कि स्पाइरोपिर्फ टैबलेट आपके लिए सही है या नहीं. डॉक्टर आपकी स्थिति का मूल्यांकन करने के बाद ही स्पिरोपिर्फ टैबलेट की सलाह देंगे. उपचार और सहनशीलता के प्रति आपकी प्रतिक्रिया के आधार पर, आपको दवा जारी रखनी चाहिए.

क्यू. अगर मेरी बीमारी स्थिर है तो क्या मैं स्पाइरोपिर्फ टैबलेट को रोक सकता हूं?

इडियोपैथिक पल्मोनरी फाइब्रोसिस एक प्रगतिशील बीमारी है, हालांकि इसकी प्रगति अप्रत्याशित है. डॉक्टर की सलाह के बिना दवा बंद न करें. बीमारी की प्रगति को धीमी करने के लिए स्पिरोपिर्फ टैबलेट लेना जारी रखें.

प्र. स्पाइरोपिर्फ टैबलेट लेते समय मुझे क्या करना चाहिए?

स्पाइरोपिर्फ टैबलेट लेते समय आपको सूर्य का एक्सपोजर प्रतिबंधित करना चाहिए. सूरज की रोशनी के संपर्क में आने के लिए रोजाना सनब्लॉक पहनें और अपनी बाहों, पैरों और सिर को ढकें. इसके साथ-साथ, धूम्रपान से बचें क्योंकि यह स्पाइरोपिर्फ टैबलेट के प्रभाव को कम करता है.

क्यू . फुफ्फुसीय फाइब्रोसिस की उत्तरजीविता दर क्या है?

पल्मोनरी फाइब्रोसिस वाले मरीजों का मीडियन सर्वाइवल 2-3 वर्ष है, लेकिन कुछ लोग अधिक समय तक जीवित रहते हैं. जिन कारकों को संक्षिप्त अस्तित्व के लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है, वे हैं वृद्धावस्था, धूम्रपान का इतिहास और शरीर का निचला द्रव्यमान सूचकांक. अन्य कारक रेडियोलॉजिकल और शारीरिक दुर्बलता और फेफड़ों की अन्य जटिलताओं या स्थितियों के विकास के कारण अधिक गंभीर बीमारी हो सकते हैं.

संबंधित प्रोडक्ट

Want to share the information?

Disclaimer:

1mg's sole intention is to ensure that its consumers get information that is expert-reviewed, accurate and trustworthy. However, the information contained herein should NOT be used as a substitute for the advice of a qualified physician. The information provided here is for informational purposes only. This may not cover all possible side effects, drug interactions or warnings or alerts. Please consult your doctor and discuss all your queries related to any disease or medicine. We intend to support, not replace, the doctor-patient relationship.

रिफरेंस

  1. Medscape. Pirfenidone. [Accessed 01 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  2. Pirefenidone. Brisbane, California: InterMune, Inc.; 2014. [Accessed 01 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  3. Central Drugs Standard Control Organisation (CDSCO). [Accessed 01 Apr. 2019] (online) Available from:External Link

निर्माता/मार्केटर का एड्रेस

ए-10, 3rd फ्लोर, एआरटी गि‌ल्ड हाउस, फीनिक्स मार्केट सिटी एनेक्स, एलबीएस मार्ग, कुर्ला (वेस्ट), मुंबई - 400070
Best Price
₹172.97
MRP203.5  15% की छूट पाएं
सभी कर शामिल
Best price is valid on orders above ₹499
1 स्ट्रिप में 10 टेबलेट्स
बिक चुके हैं

INDIA’S LARGEST HEALTHCARE PLATFORM

150M+
Visitors
25M+
Orders Delivered
1000+
Cities
Get the link to download App
Reliable

All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies. All labs listed on the platform are accredited

Secure

1mg uses Secure Sockets Layer (SSL) 128-bit encryption and is Payment Card Industry Data Security Standard (PCI DSS) compliant

Affordable

Find affordable medicine substitutes, save up to 50% on health products, up to 80% off on lab tests and free doctor consultations.

India's only LegitScript and ISO/IEC 27001 certified online healthcare platform
Know More About 1mgdownArrow
Access medical and health information

1mg provides you with medical information which is curated, written and verified by experts, accurate and trustworthy. Our experts create high-quality content about medicines, diseases, lab investigations, Over-The-Counter (OTC) health products, Ayurvedic herbs/ingredients, and alternative remedies.

Order medicines online

Get free medicine home delivery in over 1000 cities across India. You can also order Ayurvedic, Homeopathic and other Over-The-Counter (OTC) health products. Your safety is our top priority. All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies.

Book lab tests

Book any lab tests and preventive health packages from certified labs and get tested from the comfort of your home. Enjoy free home sample collection, view reports online and consult a doctor online for free.

Consult a doctor online

Got a health query? Consult doctors online from the comfort of your home for free. Chat privately with our registered medical specialists to connect directly with verified doctors. Your privacy is guaranteed.