Categories: घरेलू नुस्खे

गुर्दे की पथरी के लक्षण, कारण और घरेलू इलाज : Symptoms, Causes and Home Remedies for Kidney Stone

गुर्दे की पथरी या किडनी स्टोन को नेफ्रोलिथिआरीस (Nephrolithiaris) भी कहते है। गुर्दे की पथरी एक क्रिस्टलीय खनिज पदार्थ है जो गुर्दे या मूत्र पथ में कही भी हो सकती है। एक छोटा पत्थर बिना लक्षण के मूत्र के साथ बाहर निकल जाता है। लेकिन अगर पथरी 5 एमएम से ज्यादा का हो तो यह मूत्रमार्ग में रुकावट पैदा करता है, जिससे परिणामस्वरूप दर्द और उल्टी जैसे लक्षण उत्पन्न होते है। विभिन्न कारक इन पत्थरों के विकास के जोखिम का बढ़ा सकते है।

अनुवांशिकी और पर्यावरणीय कारकों के संयोजन के कारण अधिकांश पथरियाँ बनती है। जोखिम कारक में मूत्र में कैल्शियम का उच्च स्तर, मोटापा, कुछ खाद्य पदार्थ, कुछ दवाएं, कैल्शियम की खुराक, गाउट और पर्याप्त तरल पदार्थ न मिलना शामिल है। यूरीन में मौजूद कैमिकल यूरिक एसिड, फॉस्फोरस, कैल्शियम, ऑक्जालिक एसिड मिलकर पथरी बना देते है।

गुर्दे की पथरी मिनरल्स और नमक से बनी एक ठोस जमावट होती है। इनका माप छोटे से लेकर बड़ा हो सकता है। यह गुर्दे  में या मूत्रपथ में पाई जाती है। मूत्रपथ में गुर्दे, मूत्रवाहिनी (Ureter), मूत्राशय (Bladder), मूत्रमार्ग, (urethra) होते है। इसमें बहुत ज्यादा दर्द होता है। लेकिन गुर्दे की पथरी के इलाज (Pathri ka ilaj) के बारे में जानने से पहले वह क्यों होता है पहले इसके बारे में जानते हैं।

Contents

किडनी स्टोन या गुर्दे की पथरी क्या है (What is Kidney Stone)

आयुर्वेद में पथरी को अश्मरी कहा गया है, इसमें वात दोष मूत्राशय में आये हुए शुक्र सहित मूत्र को या पित्त के साथ कफ को सूखा देता है तब पथरी बन जाती है। जब यह अश्मरी मूत्र मार्ग में आ जाती है तब मूत्र त्याग में अत्यधिक रुकावट एवं असहनीय पीड़ा उत्पन्न करती है। इसके कारण अंडकोष से लेकर लिङ्ग मूत्राशय एवं पार्श्व में पीड़ा होती है। वात के कारण जब यह अश्मरी टुकड़े-टुकड़े होकर मूत्र मार्ग से निकलती है तब इसे आयुर्वेद में शर्करा कहा गया है।

किडनी स्टोन चार प्रकार के होते हैं-

  • कैल्शियम स्टोन
  • यूरिक एसिड स्टोन
  • स्ट्रूविटा स्टोन
  • सिस्टिन स्टोन

इनमें से कैल्शियम स्टोन और यूरिक एसिड स्टोन आम तौर पर सबसे ज्यादा पाये जाते हैं।

किडनी स्टोन या गुर्दे में पथरी क्यों होती है (Causes of Kidney Stone)

आजकल गुर्दे में पथरी होना जैसा सामान्य हो गया है। इसके लक्षण नजर आते ही तुरंत पथरी का इलाज (Pathri ka ilaj) करना चाहिए. आइये जानते हैं किडनी की पथरी किन कारणों से होती है।

  • कम मात्रा में पानी पीना इसका एक मुख्य कारण है
  • यूरीन में केमिकल की अधिकता
  • शरीर में मिनरल्स की कमी
  • डिहाइड्रेशन
  • विटामिन डी की अधिकता
  • जंक फूड का अति सेवन।

किडनी स्टोन होने के लक्षण (Symptoms of Kidney Stone)

वैसे तो गुर्दे में पथरी होने से दर्द होता है लेकिन इसके साथ ही कई और लक्षण होते हैं-

  • मूत्र त्याग के समय दर्द

  • पीठ के निचले हिस्से, पेट में दर्द और ऐंठन

  • मूत्र में रक्त आना

  • जी मिचलाना और उल्टी आना

  • दुर्गन्धयुक्त पेशाब

  • बार-बार पेशाब आना परंतु खुलकर पेशाब न आना

  • बुखार, पसीना निकलना आदि

और पढ़ेंपीठ के निचले हिस्से में दर्द से छुटकारा पाने के घरेलू उपाय

किडनी स्टोन या गुर्दे की पथरी से बचने के उपाय (How to prevent Kidney Stone)

किडनी में पथरी होने पर जल्द से जल्द पथरी का इलाज (Pathari ka ilaj) कराना चाहिए.  गुर्दे में पथरी न हो इसके लिए आहार और जीवनशैली में कुछ बदलाव लाने चाहिए। जैसे-

  • ऐसे व्यक्ति जो कैल्शियम ऑक्जालेट गुर्दे की पथरी से पीड़ित होते है उन्हें ऑक्जालेट से भरपूर आहार नहीं लेने चाहिये। ऐसे आहार हैं- मूंगफली, पालक, चुकन्दर, शीशम के बीज, चॉकलेट, जिमीकंद (Sweet Potatoes)।
  • अधिक मात्रा में प्रोटीन न लें।
  • सोडियम की अधिक मात्रा न लें। जंक फूड, डिब्बा बंद खाना और नमक के बहुत अधिक सेवन से बचें।
  • पालक, साबुत अनाज आदि में ऑक्सलेट पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। इसका सेवन न करें।
  • टमाटर के बीज, बैंगन के बीज, कच्चा चावल, उड़द और चने का अधिक सेवन करने से स्टोन की समस्या बढ़ जाती है। अधिक से अधिक पानी पिएँ और कोल्ड ड्रिंक का सेवन न करें, इसमें मौजूद फॉस्फोरिक एसिड स्टोन के खतरे को और बढ़ाता है।
  • शरीर में यूरिक एसिड को बढ़ने न दें इसलिये मांसाहार का सेवन बिल्कुल भी न करें।

और पढ़े: पथरी में कृष्णसारिवा के फायदे

गुर्दे की पथरी निकालने के घरेलू उपाय (Home Remedies for Kidney Stone)

गुर्दे की पथरी निकालने के लिए लोग सबसे पहले घरेलू उपाय ही आजमाते हैं।  तो चलिये जानते हैं कि वे घरेलू उपाय कौन-कौन से हैं-

सौंफ का मिश्रण गुर्दे की पथरी निकालने में करता है मदद (Fennel seed mixture help to treat Kidney stone)

सौंफ मिश्री, सूखा धनिया, इनको 50-50 ग्रा. मात्रा में लेकर रात को 11/2 कप ठंडा पानी मिलाकर पीने से पथरी पेशाब के रास्ते बाहर निकल जाती है।

और पढ़ें : सौंफ के फायदे

तुलसी गुर्दे की पथरी के इलाज में लाभकारी (Tulsi help to treat and remove Kidney stone)

तुलसी का इस्तेमाल करना किडनी स्टोन दूर करने का काफी प्रचलित घरेलू उपाय (Kidney stone ke gharelu upay) है. इसके लिए प्रतिदिन 5-7 तुलसी के पत्तों को चबाकर खाएँ। इसमें एसिटिक एसिड एवं अन्य जरूरी तेल होते है जो पथरी को तोड़कर पेशाब के रास्ते बाहर निकालते है। यह दर्द निवारक की तरह भी काम करती है।

और पढ़ें : तुलसी के फायदे और नुकसान

चौलाई की सब्जी खायें और गुर्दे की पथरी से राहत पाएं (Amaranth helps to get relief from Kidney stone)

चौलाई की सब्जी गुर्दे की पथरी से निजात दिलाती है। यह पथरी को गलाने का रामबाण इलाज (Pathri ka ilaj) है।

और पढ़ेंपथरी की समस्या में निर्मली के फायदे

बेलपत्र खाने से गुर्दे की पथरी से मिल सकती है निजात (Bel patra beneficial in Kidney stone)

2-3 बेलपत्र को पानी के साथ पीस लें और इसमें एक चुटकी काली मिर्च मिलाकर खाएँ। दो सप्ताह तक इसका सेवन करने से गुर्दे की पथरी निकल आती है।

और पढ़ें : बेल के औषधीय गुण

किडनी स्टोन से छुटकारा पाने में विटामिन बी है फायदेमंद (Vitamin B treat Kidney stone)

शोध के अनुसार विटामिन बी की 100-150एमजी की नियमित खुराक लेने से गुर्दे की पथरी से निजात मिलती है।

इलायची का मिश्रण गुर्दे की पथरी में फायदेमंद (Cardomam mixture helps in treatment of Kidney stone)

एक चम्मच इलायची, खरबूजे के बीज की गिरी और दो चम्मच मिश्री एक कप पानी में डालकर उबालें ठंडा होने के बाद सुबह-शाम पिएँ।

और पढ़ें : इलायची के फायदे और औषधीय गुण

पथरी के छोटे छोटे टुकड़े निकालने में सहायक है पानी  (Drinking plenty water may help to remove Kidney stone)

छोटे पथरी को अधिकांश रूप से किसी खास इलाज की जरूरत नहीं होती। एक दिन में 7-8 गिलास पानी पीकर पथरी निकल जाती है।

और पढ़ें : कब और कितनी मात्रा में पानी पीना सेहत के लिए है फायदेमंद

नींबू और ऑलिव ऑयल का मिश्रण किडनी स्टोन से दिलाता है छुटकारा (Lemon and olive oil mixture help to get rid from Kidney stone)

4  चम्मच नींबू का रस व समान मात्रा में ऑलिव ऑयल मिलाएँ। इसे जरूरत के हिसाब से पानी के साथ पिएँ। इसको दिन में 2-3 बार करें। तीन दिन इसे लगातार करें यदि पथरी बाहर निकल जाती है तो इसे आगे न दोहराएँ।

सेब का सिरका गुर्दे की पथरी के इलाज में लाभकारी (Apple cider vinegar treat Kidney Stone)

सेब के सिरके में क्षार के गुण होते है यह किडनी स्टोन को घुलने में मदद करता है। 1 कप गुनगुने पानी 2 चम्मच विनेगर व 1 चम्मच शहद मिलाकर दिन में बार-बार पिएँ।

अनार का जूस गुर्दे के पथरी में है फायदेमंद (Pomegranate : Home remedies for Kidney Stone in Hindi)

प्रतिदिन अनार का जूस पिएँ। अनार में मौजूद पोटाशियम उन मिनरल क्रिसटल्सको बनने से रोकता है जिनके कारण पथरी बनती है। यह अपने क्षारीय गुण के कारण पथरी को बनने से रोकता है और यह मूत्र में एसिड के स्तर को ठीक रखता है। यह पथरी की रोकथाम के लिए सबसे अच्छा घरेलू उपाय  माना जाता है.

और पढ़ें : अनार के फायदे और नुकसान

तरबूज किडनी से पथरी निकलाने में करता है मदद (Watermelon helps to cure from Kidney Stone)

तरबूज में पोटैशियम होता है जो किडनी को मजबूत बनाने में सहायक होते है। ये यूरीन में एसिड लेवल को समान रखता है। पोटाशियम के साथ इसमें पानी की मात्रा भी अधिक होती है। इसे खाने से शरीर में पानी बढ़ता है व पथरी यूरीन के द्वारा निकल जाती है। इसके अलावा तरबूज के रस में एक चौथाई चम्मच धनिया पाउडर डालकर सेवन करें। दिन में दो-तीन बार ऐसा करें।

राजमा किडनी स्टोन के इलाज में लाभकारी (Rajma se kare kidney ki Pathri ka ilaj in Hindi)

राजमा को भिगोकर उसे उबाल लें। इस पानी को ठंडा कर के इसे दिन में कई बार पिएँ।

प्याज का पानी किडनी से पथरी निकालने में फायदेमंद (Onion juice : Home remedies for Kidney Stone)

2 प्याज को एक गिलास पानी में डालकर धीमी आँच में उबालें पकने पर उसे ठण्डा कर लें अब प्याज को पीस लें और छानकर रस निकालकर 1-2 दिन तक पिएँ।

कॉर्न हेयर या कॉर्न सिल्क (मकई) गुर्दे के पथरी के इलाज में फायदेमंद (Corn hair helps to get remove from Kidney Stone)

कॉर्न हेयर या कॉर्न सिल्क (मकई) के सेवन से किडनी स्टोन ठीक होता है। इसके सेवन से यूरिन ज्यादा आता है और पथरी छोटे-छोटे कणों के द्वारा बाहर निकल जाती है।

और पढ़ें : मक्के के आटे के फायदे और उपयोग

व्हीट ग्रास गुर्दे से पथरी निकालने में फायदेमंद (Wheat grass beneficial in Kidney Stone)

व्हीट ग्रास को पानी में उबालकर ठण्डा कर लें इसके नियमित सेवन से गुर्दे की पथरी और गुर्दे से जुड़ी दूसरी बिमारियों में काफी आराम मिलता है।

खजूर गुर्दे की पथरी होने के खतरे को करता है कम (Dates help to prevent from Kidney Stone formation)

खजूर को रात भर पानी में भिगाकर सुबह खाए इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा होती है। गुर्दे की पथरी होने के खतरे को कम करता है।

खीरे का सेवन किडनी स्टोन निकालने में लाभकारी (Cucumber : Home remedies for Kidney Stone in Hindi)

खीरे का सेवन करें इसमें पथरी निकलने में आसानी होती है।

ये घरेलू उपाय (kidney stone ke gharelu upay) लाभकारी तो होते हैं लेकिन अगर पथरी बड़ी हो या स्थिति गंभीर हो तो पथरी का इलाज (Pathri ka ilaj) कराएं, सिर्फ घरेलू उपायों पर निर्भर ना रहें.

डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए (When to see a Doctor)

गुर्दे की पथरी का दर्द बहुत ही असहनीय और देर तक बना रहता है। दर्द के साथ जी मिचलाना और उल्टी जैसे लक्षण भी दिखाई दे सकते है। गुर्दे की पथरी के कारण गुर्दे या मूत्रपथ में संक्रमण भी हो सकता है अतः दर्द उठने पर ही तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क कर जाँच कराए एवं पथरी होने पर तुरंत इलाज (Pathri ka ilaj) करवाएं।

आचार्य श्री बालकृष्ण

आचार्य बालकृष्ण, आयुर्वेदिक विशेषज्ञ और पतंजलि योगपीठ के संस्थापक स्तंभ हैं। चार्य बालकृष्ण जी एक प्रसिद्ध विद्वान और एक महान गुरु है, जिनके मार्गदर्शन और नेतृत्व में आयुर्वेदिक उपचार और अनुसंधान ने नए आयामों को छूआ है।

Share
Published by
आचार्य श्री बालकृष्ण

Recent Posts

गले की खराश और दर्द से राहत पाने के लिए आजमाएं ये आयुर्वेदिक घरेलू उपाय

मौसम बदलने पर अक्सर देखा जाता है कि कई लोगों के गले में खराश की समस्या हो जाती है. हालाँकि…

8 months ago

कोरोना से ठीक होने के बाद होने वाली समस्याएं और उनसे बचाव के उपाय

अभी भी पूरा विश्व कोरोना वायरस के संक्रमण से पूरी तरह उबर नहीं पाया है. कुछ महीनों के अंतराल पर…

8 months ago

डेंगू बुखार के लक्षण, कारण, घरेलू उपचार और परहेज (Home Remedies for Dengue Fever)

डेंगू एक गंभीर बीमारी है, जो एडीस एजिप्टी (Aedes egypti) नामक प्रजाति के मच्छरों से फैलता है। इसके कारण हर…

9 months ago

वायु प्रदूषण से होने वाली समस्याएं और इनसे बचने के घरेलू उपाय

वायु प्रदूषण का स्तर दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है और सर्दियों के मौसम में इसका प्रभाव हमें साफ़ महसूस…

9 months ago

Todari: तोदरी के हैं ढेर सारे फायदे- Acharya Balkrishan Ji (Patanjali)

तोदरी का परिचय (Introduction of Todari) आयुर्वेद में तोदरी का इस्तेमाल बहुत तरह के औषधी बनाने के लिए किया जाता…

2 years ago

Pudina : पुदीना के फायदे, उपयोग और औषधीय गुण | Benefits of Pudina

पुदीना का परिचय (Introduction of Pudina) पुदीना (Pudina) सबसे ज्यादा अपने अनोखे स्वाद के लिए ही जाना जाता है। पुदीने…

2 years ago