Asana for Yog Vishram: विश्राम हेतु योग आसान – Acharya Balkrishan Ji (Patanjali)

शवासन (योगनिद्रा) पीठ के बल सीधे भूमि पर लेट जायें। दोनों पैरों में लगभग एक फुट का अन्तर हो तथा दोनों हाथों को भी जंघाओं से थोड़ी दूरी पर रखते हुए हाथों को ऊपर की ओर खोलकर रखें। आँ...

What is Yoga: जानिये क्या है योग – Acharya Balkrishan Ji (Patanjali)

योग का स्वरूप योग शब्द वेदों, उपनिषदों, गीता एवं पुराणों आदि में अति पुरातन काल से व्यवहृत होता आया है। भारतीय दर्शन में योग एक अति महत्त्वपूर्ण शब्द है। आत्मदर्शन एवं समाधि से लेक...