header-logo

AUTHENTIC, READABLE, TRUSTED, HOLISTIC INFORMATION IN AYURVEDA AND YOGA

AUTHENTIC, READABLE, TRUSTED, HOLISTIC INFORMATION IN AYURVEDA AND YOGA

वाइटहेड्स के लक्षण, कारण, घरेलू उपचार और परहेज (Home Remedies for Whitehead)

वाइटहेड्स मुहांसों जैसे ही होते हैं। यह आपकी त्वचा पर उभरे होते हैं। जब त्वचा पर अतिरिक्त तेल या मृत कोशिकाओं के कारण रोम छिद्रों तक ताजी हवा नहीं पहुंच पाती है, तब वाइटहेड्स की समस्या पैदा होती है। व्हाईटहेड्स शरीर में पानी की कमी के कारण भी हो सकते हैं। व्हाइटहेड्स से बचने के लिए स्किन की देखभाल करना आवश्यक है। क्या आपको पता है कि आप घरेलू उपचार से भी वाइटहेड्स को हटा (home remedies to get rid of whiteheads) सकते हैं।

 

Whiteheads home remedies

जी हां, आप आयुर्वेदिक तरीकों का प्रयोग कर वाइटहेड्स की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। आइए सभी आयुर्वेदिक उपाय के बारे में जानते हैं।

Contents

वाइटहेड्स क्या है? (What is Whiteheads in Hindi?)

जब बैक्टीरिया, सीबम और मृत त्वचा के कारण त्वचा के रोमछिद्र अवरुद्ध हो जाते हैं, तब वाइटहेड्स की समस्या उत्पन्न हो जाती है। स्किन और चेहरे के नेचुरल ऑयल्स से छिद्र (Pores) के बन्द हो जाने से वाइटहेड्स होता है। वाइटहेड्स स्किन के नेचुरल ग्लो का नुकसान करके स्किन को खुरदरा एवं चमकहीन बना देते हैं। वाइटहेड्स स्किन के लिए अच्छे नहीं होते हैं। 

वाइटहेड्स होने के कारण (Whiteheads Causes)

शरीर में रोग वात, पित्त और कफ दोषों के अंसुतलन के कारण होता है। व्हाइटहेड्स होने का कारण पित्त दोष है। प्रकूपित दोष ओपन छिद्र (Pores) के मार्ग को अवरुद्ध करने का काम करता है। वाइटहेड्स एक कॉमन स्किन प्रॉब्लम है, जिसमें डेड स्किन और चेहरे के नेचुरल ऑयल्स के कारण स्किन के छिद्र बन्द होने लगते हैं। इससे स्किन ठीक से ताजी हवा नहीं ले पाती। यदि किसी महिला को व्हाइटहेड्स की समस्या अधिक है तो इसका कारण पीसीओएस (PCOS) भी हो सकता है।

वाइटहेड्स के लक्षण (Whiteheads Symptoms)

वाइटहेड्स, मुँहासे का ही एक प्रकार है। मुँहासे निम्नलिखित प्रकार के होते हैं।

  • सामान्य मुँहासे
  • गाँठ वाले मुँहासे
  • ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स वाले मुँहासे
  • बड़े मुँहासे

सामान्य मुँहासे

इस तरह के मुँहासे (Pimple) सबसे आसानी से ठीक होने वाले मुँहासे हैं। ये मुँहासे सफेद परत के साथ गुलाबी, और हल्की लालिमा लिए होते हैं। इसमें पस और तेल से भरे होते हैं।

गाँठ वाले मुँहासे

ये मुँहासे त्वचा के अन्दर होते हैं। ये चेहरे के किसी भी हिस्से पर हो सकते हैं। ये लाल और सफेद ब्लड सेल्स, बैक्टीरिया और ऑयल से भरे होते हैं। ये बहुत ही खतरनाक, दिखने में बड़े और दर्दनाक होते हैं। इन्हें ठीक होने में महीना भर लग जाता है।

व्हाइटहेड्स वाले मुँहासे

व्हाइटहेड्स तब बनते हैं जब सीबम या डेड स्किन सेल्स स्किन के छिद्र (Pores) बंद कर देते हैं। व्हाइटहेड्स स्किन के अन्दर होते हैं।

बड़े मुँहासे

ये मुँहासे आकार में बड़े होते हैं। ये बीच में पीले या सफेद होते हैं। 

whiteheads remedies

व्हाइटहेड्स होने की उम्र (When do Whiteheads Occur?)

व्हाटटहेड्स इन उम्र वर्ग को होता हैः-

  • शरीर में हार्मोन्स का बदलाव होने पर व्हाटटहेड्स की समस्या होती है।
  • किशोरावस्था, गर्भावस्था और मीनोपॉस के समय हार्मोन्स में बदलाव होने पर यह होता है।
  • व्हाटटहेड्स की शुरुआत 11 वर्षा से 25 वर्ष के बीच की आयु में हो सकता है।
  • 12 से लगभग 25 वर्ष की आयु में 85-90 प्रतिशत लोगों को व्हाइटहेड्स होने की सम्भावना होती है।
  • कुछ दवाएं जैसे- बर्थ कण्ट्रोल और मानसिक रोगों की विशेष दवाएँ भी व्हाइटहेड्स को बढ़ावा दे सकती हैं।

व्हाइटहेड्स की समस्या से छुटकारा के लिए घरेलू उपाय (Home R
emedies for Whiteheads Treatment in Hindi)

व्हाइटहेड्स के लिए घरेलू उपचार के रूप में आप ये उपाय कर सकते हैंः-

व्हाइटहेड्स से छुटकारा के लिए टमाटर का इस्तेमाल (Tomato: Home Remedy to Cure Whiteheads in Hindi)

टमाटर में विटामिन-सी होता है। आप चेहरे पर टमाटर का गूदा रगड़ें। व्हाइटहेड्स पर टमाटर मलने के बाद पाँच मिनट तक रहने दें। इसके बाद सामान्य पानी से धो लें।

Tomato benefits for whiteheads

और पढ़ेंः टमाटर के फायदे और नुकसान

 

भाप से व्हाइटहेड्स से मुक्ति (Steam: Home Remedies to Treat Whiteheads in Hindi)

अगर आपकी नाक या उसके ऊपर, या फिर आस-पास के हिस्से में व्हाइटहेड्स हो रहे हैं, तो इसे स्टीम या भाप  से आसानी से हटा सकते हैं।इसके लिए आप एक कप गर्म पानी का प्रयोग करें। कप से निकलने वाली भाप को व्हाइट्स पर आने दें। बाद में तौलिए से पोंछ लें।

ब्राउन शुगर और शहद से व्हाइटहेड्स की समस्या का इलाज (Brown Sugar and Honey: Home Remedies for Whiteheads Treatment in Hindi)

जब आप त्वचा को रगड़ेंगे तो इससे स्किन के अवरुद्ध मार्ग खुल जाते हैं। इसके लिए आपको ब्राउन शुगर और शहद की आवश्यकता होगी। ब्राउन शुगर और शहद का मिश्रण बना लें। इसे थोड़ी-थोड़ी मात्रा में चेहरे पर लगाएं। इसके बाद हल्के हाथ से 5-7 मिनट तक मालिश करें। इसके बाद गर्म पानी से धो लें।

दही का उपयोग कर व्हाइटहेड्स को हटाएं (Curd: Home Remedy for Whiteheads Treatment in Hindi)

दही चेहरे को कोमल और नम बनाती है। दही और ओटमील को मिलाकर चेहरे पर लगाएं। इससे व्हाइटहेड्स में लाभ होता है।

Curd home remedy for whiteheads

और पढ़ेंः दही के औषधीय गुण

 

टी ट्री ऑयल से व्हाइटहेड्स से छुटकारा (Tea Tree Oil: Home Remedies to Treat Whiteheads in Hindi )

टी ट्री ऑयल एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होने की वजह से त्वचा के लिए बेहद लाभकारी माना जाता है। व्हाइटहेड्स की समस्या होने पर टी ट्री ऑयल का प्रयोग करें। प्रभावित हिस्से में 2-3 बूँद लगाकर मसाज करें। इसके बाद इसे 15 मिनट तक रहने दें, और फिर साफ कर लें।

अंडे का प्रयोग कर व्हाइटहेड्स की समस्या से राहत (Egg: Home Remedy to Treat Whiteheads in Hindi)

अण्डे के सफेद भाग को शहद के साथ मिलाकर चेहरे पर लगाएँ, और मसाज करें। यह व्हाइटहेड्स से छुटकारा दिलाता है।

लहसुन से व्हाइटहेड्स की समस्या का उपचार (Garlic: Home Remedy for Whiteheads Treatment in Hindi)

लहसुन की कली को पीसकर व्हाइटहेड्स से प्रभावित स्थान पर लगाएं। इसे 5-10 मिनट बाद चेहरे को धो लें। यह फायदा देता है।

Garlic benefits in whiteheads

और पढ़ेंः लहसुन के फायदे और नुकसान

 

चन्दन से व्हाइटहेड्स की समस्या का उपचार (Chandan: Home Remedies to Get Rid of Whiteheads in Hindi)

1 टी स्पून चन्दन पाउडर को 2 टी स्पून डिस्टिल वॉटर में मिलाएं। इसे सिर और ठोढी पर लगाएं। 5-10 मिनट तक चेहरे पर लगा रहने दें। इसके बाद गुनगुने पानी से धो लें।

और पढ़ेंः चंदन के फायदे और नुकसान

 

व्हाइटहेड्स से छुटकारा के लिए बेसन का उपयोग (Besan: Home Remedy for Whiteheads Treatment in Hindi)

1/2 टी स्पून बेसन लें। इसमें 1 टी स्पून पानी मिलाएं। इसे प्रभावित जगह पर लगाएं। व्हाइटहेड्स से जल्दी छुटकारा मिलेगा।

मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग कर व्हाइटहेड्स को हटाएं (Multani Soil: Home Remedies to Get Rid of Whiteheads in Hindi)

मुल्तानी मिट्टी ऑयली त्वचा के लिए एक जादुई उपचार है। इसके नियमित रूप से लगाने से व्हाइटहेड्स की समस्या दूर हो जाएगी।

चावल से व्हाइटहेड्स की समस्या का उपचार (Rice: Home Remedies to Get Rid of Whiteheads in Hindi)

चावल का पाउडर व्हाइटहेड्स से राहत दिलाने में काफी मददगार होता है। आप इसका उपयोग किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह लेकर करें।

Rice powder benefits

और पढ़ेंः चावल से होने वाले अनेक फायदे

 

बेकिंग सोडा और शहद का उपयोग कर व्हाइटहेड्स को हटाएं (Baking Soda: Home Remedies to Treat Whiteheads in Hindi)

बेकिंग सोडा और शहद का मिश्रण बना लें। इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं, और व्हाइटहेड्स से छुटकारा पाएं।

और पढ़ेंः शहद के औषधीय गुण

 

आलू से व्हाइटहेड्स की समस्या का इलाज (Get Rid of Whiteheads with Potato in Hindi)

व्हाइटहेड्स से छुटकारा पाने के लिए आप आलू के फेस मास्क का उपयोग करें। इसके लिए आप कुछ कच्चे आलू लें। इनका पेस्ट बनाकर 30 मिनट तक चेहरे पर लगाकर रखें, और फिर चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।

Potato benefits for whiteheads

और पढ़ेंः आलू के अनेक लाभ

 

चेहरे से व्हाइटहेड्स हटाने के लिए अन्य घरेलू उपाय (Other Home Remedies to Cure Whiteheads in Hindi)

  • चीनी और जैतून का तेल मिलाकर मिश्रण बनाएँ। इस मिश्रण से 5 मिनट तक मसाज करने के बाद ठण्ड़े पानी के साथ धोएँ। यह नुस्खा व्हाइटहेड़ से छुटकारा पाने में रामबाण (Home Remedies for Cure Whiteheads) है।
  • दालचीनी चूर्ण को नींबू रस के साथ मिलाकर चेहरे पर लगाएँ। इस प्रयोग से चेहर पर चमक आती है, तथा व्हाटहेड़ दूर होते हैं।
  • शहद को चीनी के साथ मिलाकर रखें। इस लेप को चेहरे पर 20 मिनट तक लगाकर रखें। इसे हल्के हाथों से रगड़ें इससे व्हाटहेड़ बहुत आसानी से निकल जाते हैं।

और पढ़े – जैतून के फायदे

व्हाइटहेड्स की समस्या के दौरान आपका खान-पान (Your Diet in Whiteheads Problem)

व्हाइटहेड्स को ठीक करने के लिए खान-पान में बदलाव लाना बहुत जरूरी होता है। व्हाइटहेड्स की समस्या के दौरान आपका खान-पान ऐसा होना चाहिएः-

  • खूब पानी पिएं, जिससे आपकी त्वचा में नमी बनी रहे। कम से कम रोजाना 1 से 2 लीटर तक पानी का सेवन  करें।
  • हरी पत्तेदार सब्जियाँ, ताजे फल और सूप का सेवन करें।
  • लम्बे समय तक कब्ज रहने, और पेट साफ ना होने से व्हाइटहेड्स हो सकते हैं। इसलिए रोज 1-5 लीटर पानी का सेवन रोज करें।

व्हाइटहेड्स की समस्या के दौरान आपकी जीवनशैली (Your Lifestyle in Whiteheads Problem)

व्हाइटहेड्स की समस्या के दौरान आपकी जीवनशैली ऐसी होनी चाहिएः-

  • त्वचा को ठण्डे पानी से धोएँ, और स्वच्छ तौलिए से पोंछ लें।
  • तैलीय स्किनकेयर प्रोडक्ट्स के प्रयोग से बचे, साथ ही तैलीय या चिपचिपे हेयर प्रोडक्ट्स का उपयोग ना करें।
  • तेल सोखने वाले ब्लॉटिंग पेपर से अपनी स्किन के अतिरिक्त तेल को सोखें।
  • जब त्वचा के छिद्र (Pores) में बैक्टीरिया, तेल एवं धूल फंस जाते हैं, तो व्हाइटहेड्स होने लगते हैं। इसलिए जितना हो सके चेहरे को साफ रखें।
  • हफ्ते में एक बार क्रब करना जरूरी है। इससे डेड स्किन साफ होती है, और व्हाइटहेड्स की सफाई हो जाती है।

व्हाइटहेड्स के दौरान परहेज (Avoid These in Whiteheads)

  • मसालेदार भोजन का त्याग करें।
  • तैलीय चीजों को अपने चेहरे से दूर रखें।
  • व्हाइटहेड्स को ना छूएं और ना दबाएं। 
  • ज्यादा धूप से अपनी त्वचा का बचाव करें।
  • त्वचा पर दिन में 2 बार कच्चा आलू घिसने से काफी लाभ होता है।
  • मेकअप को पूरी तरह साफ करें।

व्हाइटहेड्स से जुड़े सवाल-जवाब (FAQ Relate Whiteheads)

 

उपरोक्त उपाय से फायदा नहीं मिलने का क्या कारण हो सकता है?

यदि उपरोक्त उपाय से फायदा ना मिले तो निम्नलिखित कारण हो सकते हैंः-

  • पित्त का अधिक दोष, जिसकी वजह से अवरुद्ध मार्ग खुल नहीं पाते और त्वचा शुद्ध सांस नहीं ले पाती। इससे व्हाइटहेड्स की समस्या और गम्भीर हो जाती है।
  • उपाय के दौरान परहेज ना करने से फायदा नहीं मिलता है।

व्हाइटहेड्स में कब डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए?

यदि घरेलू उपचार से व्हाइटहेड्स ठीक ना हो तो तुरन्त किसी अच्छे त्वचा विशेषज्ञ से सलाह लें। अगर इसका इलाज समय रहते ना किया जाये तो यह बढ़ जाने पर मुँहासों का रूप ले लेते हैं। यदि एक बार बड़े मुँहासों का रूप ले लिया तो वह दाग छोड़ देते हैं जिनसे बाद में छुटकारा पाना मुश्किल हो जाता है।