Categories: घरेलू नुस्खे

डैंड्रफ या रूसी से छुटकारा दिलाते हैं ये घरेलू नुस्खे : Home remedies for Dandruff

आजकल प्रदूषण या समय के अभाव के कारण सही तरह से बाल का देखभाल करने का समय नहीं मिलना या तरह-तरह के नए हेयर स्टाइल और हेयर प्रोडक्ट इस्तेमाल करने के कारण लोगों को रूसी होने की परेशानी झेलनी पड़ती है।आम तौर पर लोग रूसी की परेशानी (dandruff home remedies in hindi) से राहत पाने के लिए घरेलू नुस्ख़े अपनाते हैं, क्योंकि रूसी के कारण बाल भी झड़ने लगते हैं। रूसी के घरेलू नुस्ख़ों के बारे में जानकारी लेने से पहले चलिये रूसी के बारे और भी बातें जान लेते हैं।

रूसी क्या है ( What is Dandruff)

हमारे शरीर में उपस्थित कफ और वात दोष के असंतुलित हो जाने पर सिर की त्वचा पर सफेद पपड़ी जैसी फफूंदी जमने लगती है जिसे रूसी (dandruff home remedies in hindi) कहते हैं।

रूसी होने के कारण (Causes Of Dandruff)

आयुर्वेद के अनुसार हमारे शरीर में वात-पित्त-कफ दोष पाये जाते हैं। अगर दोष असंतुलित हो जाये तो हमारे शरीर में बहुत सारी बीमारियां पैदा होने लगती हैं। इसी प्रकार रूसी में मुख्यत पित्त और कफ दोष के असंतुलित हो जाने के कारण यह रक्त में मिलकर खून को गन्दा कर देते हैं। सिर के रोम छिद्र (Pores) को बंद कर देते हैं। जिससे सिर की त्वचा रूखी होने लगती है और सिर पर पपड़ी जमने लगती है। जिसे रूसी कहते हैं। लेकिन रूसी होने के बहुत सारे कारण होते हैं। अब आप जानना चाहेंगे कि घर पर ही कौन-कौन से उपाय कर आप रूसी का इलाज (How to Remove Dandruff from Hair Permanently at Home in Hindi) कर सकते हैं। है ना? आइए अागे इनके बारे में विस्तार से जानते हैं।

विटामिन की कमी

हमारे शरीर में बहुत सारे जीवीय तत्व पाये जाते हैं जो कि हमारे शरीर की वृद्धि के लिये बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। जो व्यक्ति अच्छे से खान-पान नहीं करते हैं अथवा जो लोग खाने में जीवनीय तत्व की मात्रा बहुत कम लेते हैं। जो लोग बाहर का जंक फूड जैसे पिज्जा, बर्गर, मैदे से बनी हुई चीजों का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं और हरी सब्जियाँ जैसे; लौकी, तरोई, परवल आदि बहुत कम मात्रा में लेते हैं जिसकी वजह से जीवनीय तत्व की कमी हो जाती है। रूसी में मुख्यत (VitaminBComplex) जीवनीय तत्व की कमी की वजह से होने लगती है।

उम्र

यौवनावस्था (15-18) वर्ष की उम्र में हमारे शरीर का विकास बहुत तेज गति से होता है जिसकी वजह सामान्यत: हार्मोन्स असंतुलित हो जाता है। जिससे कुछ लोगों की सिर की त्वचा ज्यादा तैलीय होने लगती है जिसके कारण बालों में रूसी होने लगती है। कुछ लोगों में हार्मोन्स असंतुलित होने के कारण सिर की त्वचा रूखी होने लगती है। जिसके कारण सिर की त्वचा पर फफूंदी जैसी पपड़ी जमने लगती है।

मानसिक तनाव

आजकल लोग मानसिक तनाव में ज्यादा रहते हैं जिस कारण से हमारे शरीर में मौजूद स्ट्रेस हार्मोन का स्राव सामान्य से ज्यादा होने लगता है। जिस कारण से रूसी हो जाती है।

आजकल लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो गई है क्योंकि खाने-पीने में पूरी तरह से पोषण नहीं मिलता, बाहर का संक्रामक खाना जैसे- आइक्रिम, कोल्ड ड्रिंक, पिज्जा, बर्गर आदि खाने से हमारे शरीर को पूरी तरह से पोषण नहीं मिल पाता है जिसके कारण इम्युनिटी कमजोर हो जाती है। जिसके कारण हार्मोनल असंतुलित हो जाता है, जिसके कारण बालों में रूखापन हो जाता है और सिर पर मृत कोशिकाएं यानि डेड सेल्स सफेद रंग में जमने लगते हैं जिसमें खुजली भी होने लगती है खुजलाने पर पपड़ी जैसी सिर से गिरने लगती है। ज्यादा मात्रा में मीठा खाने से जैसे (चॉकलेट, पेस्ट्री, चीनी) आदि खाने से भी रूसी होने लगती है।

पर्यावरण बहुत दूषित होने लगा है जैसे; धूल, मिट्टी, साधनों से निकला धुँआ, तेज धूप आदि कारणों की वजह से सिर की त्वचा के रोम छिद्र बन्द हो जाते हैं जिससे त्वचा रूखी हो जाती है। रूसी का यह भी एक महत्वपूर्ण कारण है।

लम्बे समय हाई स्टेरॉयड दवा का सेवन करना

जब कोई व्यक्ति हाई स्टेरॉयड मेडिसन ज्यादा लम्बे समय तक लेता है तो उसका इम्युनिटी सिस्टम कमजोर हो जाता है जिसके कारण हार्मोन असंतुलित हो जाते हैं जिसकी वजह से भी रूसी हो जाती है।

हानिकारक केमिकल युक्त हेयर कलर का प्रयोग करना

कई बार अमोनिया युक्त हेयर कलर का इस्तेमाल लम्बे समय तक बालों में करने से सिर की त्वचा रूखी हो जाती है जिसके कारण बालों में रूसी (Dandruff)  हो जाती है।

रूसी से बचने के उपाय (dandruff home remedies in hindi)

वैसे तो रूसी आम समस्या है लेकिन इससे बचने के लिए लोग घरेलू नुस्ख़े ही अपनाते हैं। लेकिन कुछ जीवनशैली में और रोजमर्रा के दिनचर्या में फेरबदल करने पर रूसी होने से बचा जा सकता है। चलिये ऐसे ही तरीकों के बारे में आगे जानते हैं।

और पढ़ें: रूसी से बचने में गुड़हल का प्रयोग

सिर की सफाई से करें रूसी का उपचार (Head Cleaning Dandruff Home Remedy in Hindi)

एकत्रित हुई मृत कोशिकाओं और परतों को हटाने के लिए अपने बालों और सिर को अच्छी तरह साफ करें। बालों को धोने के लिए कटेकोनाजोल, सेलेनियम सल्फाइड या जिंक से युक्त शैम्पू का प्रयोग कर सकते हैं। सिर की सतह पर मौजूद परतों को हटाने के लिए बारीक कंघे से अपने बालों को ब्रश करना चाहिए, ऐसा करने से रक्त परिसंचरण मे भी सुधार आएगा।

मालिश से रूसी का इलाज (Dandruff Home Remedy with Massage in Hindi)

नारियल या जैतून के तैल को गर्म करने से सिर की मालिश करने से रक्त परिसंचरण में सुधार होता है जब रक्त के संचलन में सुधार होता है, तो रूसी नियंत्रित होती है।

और पढ़ेजैतून के फायदे

मौसम के बदलाव से बचे (Dandruff Home Remedy like Save Yourself with Weather Changing Influence in Hindi)

अपने बाल और सिर को मौसम से बचाए। सूरज की किरणों और गर्मी आपके सिर में तेल का उत्पादन बढ़ा सकती है, जिससे रूसी की समस्या बढ़ती है, इसलिए सूरज की किरणों और खराब मौसम के सीधे सम्पर्क से बचने के लिए सिर को ढकें।

जीवनशैली में परिवर्तन (Dandruff Home Remedy means Change Your Lifestyle in Hindi)

तनाव कम करने, संतुलित आहार खाने और शरीर को साफ रखने से आपको रूसी को रोकने में मदद मिल सकती है, यहाँ तक की व्यायाम करने से भी आपको तनाव में राहत मिलती है, जिससे रूसी को रोका जा सकता है, इसलिए नियमित रूप से कुछ प्राणायाम एवं योग करना आवश्यक है।

सूरज की किरणें (Dandruff Home Remedy with Sun Light in Hindi)

सूर्य की किरणों में गीले बालों को सूखाना चाहिए क्येंकि सूर्य की किरणों में विटामिन्स तत्व पाये जाते हैं जो रूसी को कम करने में मदद करते हैं।

स्वीमिंग करते समय कैप का इस्तेमाल

स्वीमिंग पूल में तैरते समय हमेशा सिर पर कैप लगाना चाहिए (Home remedies for Dandruff)  क्योंकि स्वीमिंग पूल के पानी में क्लोरिन पाया जाता है जो कि बालों के लिए बहुत हानिकारक होता है।

तेल का इस्तेमाल ना करें

रूसी में तारपीन युक्त तैल का उपयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि यह बालों के रूखेपन को बढ़ा देते हैं।

दूसरे के कंघी और तौलिये का इस्तेमाल न करें

किसी अन्य व्यक्ति का तौलियाँ या कंघी का कभी उपयोग नहीं करना चाहिए।

खान-पान में क्या बदलाव कर आप घर में ही डैंड्रफ का इलाज कर सकते हैं (how to remove dandruff from hair permanently at home in hindi)

-तैल, मिर्च-मसाले वाला खाना ज्यादा नहीं खाना चाहिए क्योंकि यह वात दोष को बढ़ाकर सिर की त्वचा को रूखा कर देते हैं।

-कॉफी, चाय का सेवन बहुत कम मात्रा में करना चाहिए।

-हरी सब्जी जैसे लौकी, तरोई, परवल, टिण्डे आदि का सेवन करना चाहिए क्योंकि इनमें विटामिन बी कॉम्प्लेक्स के तत्व पाये जाते हैं जो रूसी को कम करने में मदद करते हैं।

-लहसुन की एक या दो कली का सेवन खाली पेट रोज करना चाहिए क्योंकि लहसुन में एंटी फंगल एजेंट पाये जाते हैं जो रूसी को कम करने में मदद करते हैं।

-मूंगफली का सेवन करना चाहिए क्योंकि इसमें जिंक और विटामिन बी कॉम्प्लेक्स अधिक पाये जाते हैं।

-तिल तैल का उपयोग बालों में मालिश के रूप में तथा खाने में सब्जी आदि बनाने के रूप में करना चाहिए क्योंकि तिलतैल में अधिक मात्रा में ओमेगा पाया जाता है।

और पढ़े: रूसी में कोदो के फायदे

इन शैंपू का इस्तेमाल न करें

सोडियम ल्यूरियल सल्फेट (Sodium Louryl Sulfate (S.L.S)) इस कैमिकल से बने शैम्पू का इस्तेमाल ज्यादा करने पर सिर की त्वचा रूखी हो जाती है। जिसके कारण सिर में खुजली होने लगती है।

कोकामिडोरोपी बीटेन (Cocamidoropy Betaine) इस कैमिकल से बने शैम्पू का इस्तेमाल ज्यादा करने पर आँखों तथा सिर पर खुजली होने लगती है।

ट्राइडोसन (Tridosan) इस कैमिकल से बने शैम्पू का इस्तेमाल ज्यादा करने पर शरीर में उपस्थित हार्मोन्स असंतुलित हो जाते हैं। जिसके कारण सिर की त्वचा रूखी और बेजान हो जाती है।

पॉली सोरबेट (Polysorbate) इस कैमिकल से बने शैम्पू का इस्तेमाल ज्यादा करने पर त्वचा का पीएच लेवल असंतुलित होने लगता है जिसके कारण सिर की त्वचा में रूखी हो जाती है और बाल रूखे व बेजान हो जाते हैं।

रूसी से छुटकारा पाने के घरेलू नुस्ख़े (Home remedies for Dandruff)

रूसी के खुजली और शर्मिंदगी से बचने के लिए घरेलू नुस्ख़े सबसे ज्यादा काम आते हैं। क्योंकि अगर सही तरीके से किया गया तो घरेलू नुस्ख़े के साइड इफेक्ट्स बहुत कम होते हैं। चलिये ऐसे ही घरेलू नुस्ख़ों के बारे में जानते हैं।

नीम तेल रूसी दूर में फायदेमंद (Dandruff Solution with Neem in Hindi)

रूसी होने पर नीम का तैल लगाना बहुत लाभकारी साबित हुआ है क्योंकि नीम के तैल प्रकृति विटामिन ‘ई’ पाया जाता है जो बालों के रूखेपन को कम करता है तथा सिर की रूसी  को जड़ से खत्म कर देता है। क्योंकि नीम एक प्रकृति ‘एन्टी फंगल’ का भी काम करती है। चलिये जानते हैं कि कैसे रूसी से जल्दी कैसे निजात (how to get rid of dandruff fast) पाया जा सकता है।

नीम के तैल मे यदि 1 गिरी कर्पूर की कूटकर मिला कर लगाये तो दो हफ्ते के अन्दर रूसी खत्म हो जाती है। क्योंकि कर्पूर में शीत होती है जो सिर की खुजली को कम करने में मदद करती है।

नीम के सूखे पत्तों को बारीक पीस लें तथा उसमें जैतून का तैल मिलाकर बालों की जड़ों में लगाए। 1 घण्टे बाद बालों को शैम्पू से धो लें। यह नुस्खा रूसी व सिर में होने वाली खुजली को दूर करता है।

टीट्री ऑयल रूसी दूर करने में सहायक (Dandruff Solution with Teatree oil in Hindi)

ट्रीटी ऑयल (चाय की पत्ती से बना तैल) की कुछ बूँदे नारियल के तेल (Home remedies for Dandruff) के साथ मिलाकर लगानी चाहिए क्योंकि टीट्री ऑयल में एन्टीबैक्टिरीयल गुण पायी जाती हैं क्योंकि रूसी बैक्टिरीयल संक्रमण की वजह से भी होती है इसलिए टीट्री ऑयल का उपयोग रूसी (Dandruff) में करते हैं।

तिल का तेल रूसी से दिलाये राहत (Dandruff Solution with Sesame oil in Hindi)

तिल तैल एक प्राकृतिक तेल  (Natural Oil) है, तिल तेल का उपयोग रूसी में करना चाहिए क्योंकि इसमें 74 प्रतिशत फैटी एसिड पाया जाता है जो बालों को मुलायम तथा रुखेपन को कम करने में मदद करती है। इसके अलावा इसमें विटामिन ई तथा विटामिन सी भी पाया जाता है। तिल का तेल सूर्य के हानिकारक किरणों से बालों को बचाता (Home remedies for Dandruff) है।

नारियल का तेल रूसी दूर करने में फायदेमंद (Dandruff Solution with Coconut oil in Hindi)

200 मि.ली. नारियल के तैल (dandruff home remedies coconut oil) में 5 ग्राम कपूर का पाउडर को मिलाकर लगाने से तीन हफ्तों में रूसी खत्म हो जाती है।

हल्के गर्म तेल के मालिश से रूसी होती है कम (How to Remove Dandruff from Hair Permanently at Home with Hot oil massage in Hindi)

बालों में तेल लगाने से पहले तेल को हल्का गुनगुना करके लगाना चाहिए क्योंकि गुनगुना तेल बालों की जड़ में अच्छे से पहुँचता है और बालों में उपस्थित रूसी को भी कम (Home remedies for Dandruff)  करता है।

दही का मिश्रण रूसी करे दूर (How to Remove Dandruff from Hair Permanently at Home with Curd in Hindi)

शैंपू करने के बाद बालों की जड़ों में दही (how to apply curd on hair for dandruff) अच्छी तरह लगाकर 15 मिनट तक छोड़ दें। उसके बाद फिर से बाल को धो लें।

सूखे संतरे का छिलका रूसी दूर करने में लाभकारी ( How to Remove Dandruff from Hair Permanently at Home with Dry orange peel in Hindi)

5 से 6 चम्मच नींबू के रस में आवश्यकतानूसार सूखे संतरे के छिलके का पाउडर मिलाकर पेस्ट बना लें और उसको बालों की जड़ों मे लगायें (Home remedies for Dandruff)  और फिर सूखने के बाद बाल को धो लें।

और पढ़ेंऑयली स्किन में संतरे के छिलका के फायदे

डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए (When to see a doctor)

वैसे तो रूसी आम बीमारी है लेकिन रूसी अगर बार-बार होने लगे या ज्यादा दिनों तक रहे तो बिना देर किये डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

आचार्य श्री बालकृष्ण

आचार्य बालकृष्ण, आयुर्वेदिक विशेषज्ञ और पतंजलि योगपीठ के संस्थापक स्तंभ हैं। चार्य बालकृष्ण जी एक प्रसिद्ध विद्वान और एक महान गुरु है, जिनके मार्गदर्शन और नेतृत्व में आयुर्वेदिक उपचार और अनुसंधान ने नए आयामों को छूआ है।

Share
Published by
आचार्य श्री बालकृष्ण

Recent Posts

गले की खराश और दर्द से राहत पाने के लिए आजमाएं ये आयुर्वेदिक घरेलू उपाय

मौसम बदलने पर अक्सर देखा जाता है कि कई लोगों के गले में खराश की समस्या हो जाती है. हालाँकि…

6 months ago

कोरोना से ठीक होने के बाद होने वाली समस्याएं और उनसे बचाव के उपाय

अभी भी पूरा विश्व कोरोना वायरस के संक्रमण से पूरी तरह उबर नहीं पाया है. कुछ महीनों के अंतराल पर…

7 months ago

डेंगू बुखार के लक्षण, कारण, घरेलू उपचार और परहेज (Home Remedies for Dengue Fever)

डेंगू एक गंभीर बीमारी है, जो एडीस एजिप्टी (Aedes egypti) नामक प्रजाति के मच्छरों से फैलता है। इसके कारण हर…

8 months ago

वायु प्रदूषण से होने वाली समस्याएं और इनसे बचने के घरेलू उपाय

वायु प्रदूषण का स्तर दिनोंदिन बढ़ता ही जा रहा है और सर्दियों के मौसम में इसका प्रभाव हमें साफ़ महसूस…

8 months ago

Todari: तोदरी के हैं ढेर सारे फायदे- Acharya Balkrishan Ji (Patanjali)

तोदरी का परिचय (Introduction of Todari) आयुर्वेद में तोदरी का इस्तेमाल बहुत तरह के औषधी बनाने के लिए किया जाता…

2 years ago

Pudina : पुदीना के फायदे, उपयोग और औषधीय गुण | Benefits of Pudina

पुदीना का परिचय (Introduction of Pudina) पुदीना (Pudina) सबसे ज्यादा अपने अनोखे स्वाद के लिए ही जाना जाता है। पुदीने…

2 years ago