रिवामेर 6 MG कैप्सूल (Rivamer 6mg Capsule in Hindi)

प्रिस्क्रिप्शन या डॉक्टर की पर्ची ज़रूरी है।

जानकारी

रिवामेर कैप्सूल का उपयोग (Uses of Rivamer Capsule in Hindi)

रिवामेर 6 MG कैप्सूल का इस्तेमाल अल्जाइमर रोग (मस्तिष्क विकार जो स्मृति और बौद्धिक क्षमता को प्रभावित करता है) और पार्किंसंस रोग (तंत्रिका तंत्र का एक विकार जिसके कारण आंदोलन और संतुलन में कठिनाई होती है) में मनोभ्रंश में किया जाता है

रिवामेर कैप्सूल के दुष्प्रभाव (Rivamer Capsule side effects in Hindi)

Common
  • उबकाई
  • उल्टी
  • दुर्बलता
  • भूख में कमी
  • Dyspepsia

रिवामेर कैप्सूल का इस्तेमाल कैसे करें (How to use Rivamer Capsule in Hindi)

इस दवा को उतनी ही मात्रा में और उतने ही समय तक लें जैसा आपके डॉक्टर ने बताया है। इसे साबूत निगल लें। इसे न चबाएं, कुचलें या तोड़ें। रिवामेर 6 MG कैप्सूल को भोजन के साथ लेना बेहतर होता है।

रिवामेर कैप्सूल कैसे काम करता है (How Rivamer Capsule works in Hindi)

रिवामेर 6 MG कैप्सूल मस्तिष्क में मौजूद एक रसायन एसीटाइलकोलाइन को अत्यधिक तेजी से टूटने से रोकता है। एसीटाइलकोलाइन तंत्रिकाओं द्वारा संकेत भेजने में अहम भूमिका निभाता है, जो एक ऐसी प्रक्रिया होती है जो अल्जाइमर रोग में विफल हो जाती है।
रिवास्टिगमाइन, कोलाइनेस्टरेज इन्हिबिटर नामक दवाओं की एक श्रेणी से सम्बन्ध रखता है। यह एइस्ताइलकोलाइनेस्टरेज और बुटाइराइलकोलाइनेस्टरेज एंजाइमों को अवरुद्ध करने का काम करता है और मस्तिष्क में एसिटाइलकोलाइन के स्तर को बढ़ने देता है जिससे अल्जाइमर रोग के लक्षण कम हो जाते हैं।

रिवामेर कैप्सूल से सम्बंधित चेतावनी (Rivamer Capsule related warnings in Hindi)

शराब
सावधान
गर्भावस्था
संभवतः सुरक्षित
गर्भावस्था के दौरान रिवामेर 6 MG कैप्सूल का इस्तेमाल करना संभवतः सुरक्षित है।
जानवरों पर किए गए अध्ययनों से पता चला है कि इसका गर्भ में पल रहे शिशु पर कोई बुरा असर नहीं पड़ता है। हालांकि, इस विषय पर सीमित मानव अध्ययन किए गए हैं। कृपया अपने डॉक्टर की सलाह लें।
स्तनपान
सावधान
रिवामेर 6 MG कैप्सूल को स्तनपान के दौरान इस्तेमाल करना संभवतः असुरक्षित है। इंसानों पर किए सीमित अध्ययनों से यह पता चलता है कि इस दवा का गर्भ में पल रहे शिशु पर बुरा असर पड़ सकता है।
ड्राइविंग
रिवामेर 6 MG कैप्सूल के इस्तेमाल से आपको चक्कर आना, नींद आना या फोकस में कमी जैसी समस्याएं हो सकती है। यदि ऐसा कुछ भी मसहूस होता है तो गाड़ी ना चलाएं।
गुर्दा
सुरक्षित
किडनी से जुड़ी बीमारियों से पीड़ित मरीजों के लिए रिवामेर 6 MG कैप्सूल का इस्तेमाल पूरी तरह सुरक्षित है। रिवामेर 6 MG कैप्सूल की खुराक को कम या ज्यादा ना करें।
लिवर
सुरक्षित
लीवर की बीमारियों से पीड़ित मरीजों के लिए रिवामेर 6 MG कैप्सूल का इस्तेमाल पूरी तरह सुरक्षित है। रिवामेर 6 MG कैप्सूल की खुराक को कम या ज्यादा ना करें।

अगर आप रिवामेर कैप्सूल की एक खुराक लेना भूल गए हैं तो क्या करें ?

If you miss a dose of रिवामेर 6 MG कैप्सूल, skip it and continue with your normal schedule. Do not double the dose.

दवा के विकल्प

For informational purposes only. Consult a doctor before taking any medicines.
रिवामेर 6 MG कैप्सूल
₹10.8/Capsule
Exelon 6mg Capsule
Novartis India Ltd
₹66.96/Capsule
520% costlier
₹10.77/Capsule
same price
Rivasun 6mg Capsule
Sunrise Remedies Pvt Ltd
₹10.5/Capsule
save 3%

विशेषज्ञ की सलाह

  • निम्नलिखित स्थानों पर यथास्थान रखकर कम से कम 30 सेकेंड तक कसकर दबाकर प्रतिदिन एक पैच लगाएं: बायीं ऊपरी बांह या दाहिनी ऊपरी बांह, छाती पर ऊपर बायीं ओअर (स्तन को छोड़कर), ऊपरी बायीं पीठ या ऊपरी दायीं पीठ, निचली बायीं पीठ या निचली दायीं पीठ।
  • त्वचा पर एक ही जगह 14 दिन में दो बार नए पैच का इस्तेमाल न करें।
  • पैच इस्तेमाल करने से पहले अपनी त्वचा को साफ, सूखा और बालरहित कर लें, उसपर कोई पाउडर, तेल, मॉइश्चराइजर या लोशन न हो क्योंकि ऐसा होने से आपका पैच त्वचा पर ठीक से नहीं चिपकेगा, और यह भी ध्यान रखें कि त्वचा पर कोई घाव, चकत्ता और/या जलन न हो। पैच के टुकड़े न करें।
  • पैच को किसी भी बाह्य ताप स्रोत (जैसे कि, तीखी घूप, साउना, सोलैरियम) के संपर्क में अधिक देर तक न रखें। नहाने, तैरने या शॉवर लेने जैसी किसी भी शरीरिक गतिविधि के दौरान ध्यान रखें कि पैच ढीला न हो।
  • 24 घंटे के बाद नए पैच से बदल दें। यदि आपने कई दिनों तक पैच का इस्तेमाल न किया हो तो अपने डॉक्टर से सलाह लेने से पहले इसे न लगाएं।
  • यदि आपको निम्नलिखित मेडिकस स्थितियों का सामना करना पड़ रहा हो तो सावधानी बरतें: अनियमित हृदय गति, पेट का सक्रिय अल्सर, पैनक्रियाज का सूजन, पेशाब में दिक्कत, उद्वेग, दमाअ या सांस की गंभीर समस्या, कंपकपी, शरीर के वजन में कमी, मितली जैसी गैस्ट्रोइंटेस्टिनल प्रतिक्रिया, उलटी और डयरिया होना, लिवर की समस्या, सर्जरी की योजना, पागलपन या अल्जाइमर या पर्किंसन रोग के बिना मानसिक क्षमता में कमी की स्थिति।
  • गाड़ी ड्राइव या मशीन का परिचालन न करें क्योंकि रिवैस्टिग्माइन लेने की वजह से मूर्छा या गंभीर उलझन की स्थिति पैदा हो सकती है।
  • यदि आप गर्भवती हैं, गर्भधारण की योजना बना रही हैं तो अपने डॉक्टर को सूचित करें।

अन्य दवाइयों के साथ पारस्परिक प्रभाव

रिवामेर को निम्नलिखित में से किसी भी दवा के साथ लेने पर उनमें से किसी का प्रभाव बदल सकता है और इससे कुछ अनचाहे दुष्प्रभाव हो सकते हैं।
ब्रांड्स: Tipitosin, Valthamet Bromide, Valosin
जानलेवा
ब्रांड्स: Bigspas
जानलेवा
ब्रांड्स: Cholipan, Hyozen, Buscotag
जानलेवा
ब्रांड्स: Atroped, Atronir, Mydrat-J
जानलेवा
ब्रांड्स: Ibscim
जानलेवा
ब्रांड्स: Antrenyl
जानलेवा
ब्रांड्स: Spasmopriv
जानलेवा
ब्रांड्स: Trimspa
जानलेवा
ब्रांड्स: Cevadil, Cyclospasmol
जानलेवा
ब्रांड्स: Arlidin
जानलेवा

उपभोक्ता प्रतिक्रिया


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q. Does pilocarpine increase or decrease heart rate?
Pilocarpine can decrease the heart rate. However, it does not increase the heart rate
Q. Does pilocarpine cause weight gain/increase blood pressure?
Pilocarpine increases blood pressure. However, no clinically relevant effect on weight has been reported with the use of pilocarpine
Q. Does pilocarpine help dry eyes?
Yes, pilocarpine helps dry eyes by increasing the production of tears
Q. Does pilocarpine work?
Pilocarpine acts by increasing the activity of chemical acetylcholine, thereby, increasing the secretion from various glands including salivary glands and tear glands. Due to its cholinergic effect, it also constricts the pupil of the eye and improves the outflow of aqueous humor (fluid in within the eye) contributing to reduction in eyeball pressure
Q. Does pilocarpine cause blurred vision/hair loss?
Yes, pilocarpine causes blurred vision. But it does not cause hair loss
Q. How does pilocarpine affect heart rate?
Pilocarpine decreases heart rate by increasing the effect of a chemical called as acetylcholine
Q. How does pilocarpine lower intraocular pressure?
Pilocarpine lowers intraocular pressure by constricting the ciliary muscle of the eyes, therefore increasing the outflow of fluid (aqueous humor) from posterior part of the eye.

संबंधित आयुर्वेदिक सामग्रियां

Information last updated by Dr. Varun Gupta, MD Pharmacology on 6th Sep 2018.
The medicine details are for information purpose only. Consult a doctor before taking any medicine.
निर्माता/विक्रेता का पता
90, Delhi - Jaipur Road, Sector 32, Gurugram, Haryana 122001
MRP
108
10 capsules in 1 strip
बिक गया