ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट

डॉक्टर की पर्ची ज़रूरी है
निर्माता
स्टोरेज के निर्देश
30°c . से कम तापमान पर स्टोर करें

Product introduction

ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट एंटी-डायबिटिक ड्रग्स के नाम से जानी जाने वाली दवाओं की श्रेणी से संबंधित है. यह दो दवाओं का एक कॉम्बिनेशन है जिसका उपयोग वयस्कों में टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस के इलाज के लिए किया जाता है. यह डायबिटीज के लोगों में ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है.

ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट को खाने के साथ लेना चाहिए. अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए इसे हर रोज एक नियमित रूप से एक ही समय पर लें. आपका डॉक्टर यह निर्णय लेगा कि आपके लिए कौन सी खुराक सबसे अच्छी है और यह समय-समय पर बदल सकती है इस अनुसार कि यह आपके खून में शुगर के स्तर के अनुसार कैसे काम कर रही है.

अगर आप अच्छा महसूस कर रहे हैं या आपके ब्लड शुगर का स्तर नियंत्रित है, तो भी इस दवा का सेवन करते रहें. अगर आप अपने डॉक्टर से परामर्श किए बिना इसे लेना बंद करेंगे, तो आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है और आपको किडनी को नुकसान, अंधापन, तंत्रिका समस्याओं और अंगों के नुकसान का जोखिम हो सकता है.. याद रखें कि यह दवा, इलाज का केवल एक हिस्सा है जिसमें आपके डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह के अनुसार स्वस्थ आहार और नियमित व्यायाम भी शामिल होना चाहिए. आपकी जीवनशैली डायबिटीज को नियंत्रित करने में एक बड़ी भूमिका निभाती है.

ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट का सबसे सामान्य साइड इफेक्ट ब्लड ग्लूकोज स्तर में गिरावट (हाइपोग्लाइसेमिया) है. सुनिश्चित करें कि आप लो ब्लड ग्लूकोज लेवल के लक्षणों जैसे कि पसीना आना, चक्कर आना, सिरदर्द और कंपकंपी को पहचानते हैं, और आपको पता है कि इससे कैसे निपटना है.. इसकी रोकथाम के लिए, हमेशा नियमित रूप से भोजन करना और ग्लूकोज का तेज़ी से काम करने वाला स्रोत जैसे कि शुगर वाले खाद्य पदार्थ या फलों का जूस अपने साथ रखना जरूरी है.. शराब पीने से आपका ब्लड शुगर के स्तर में कमी का जोखिम भी बढ़ सकता है और इसलिए इससे बचना चाहिए. Other side effects that may be seen on taking this medicine include taste changes, nausea, diarrhea, stomach pain, headache, and upper respiratory tract infection. इस दवा से कुछ लोगों का वजन बढ़ सकता है.

इस दवा को लेने से पहले, अगर आपको कभी हृदय रोग था तो अपने डॉक्टर को बताएं. यह उपयुक्त नहीं हो सकता है. गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इसे लेने से पहले डॉक्टर से भी परामर्श करना चाहिए. आपके ब्लड शुगर लेवल की नियमित रूप से जांच होनी चाहिए और आपके डॉक्टर आपके ब्लड सेल काउंट और लिवर फंक्शन की निगरानी के लिए ब्लड टेस्ट की सलाह भी दे सकते हैं.

ग्लायकोज़ाइड एम टैबलेट के मुख्य इस्तेमाल

ग्लायकोज़ाइड एम टैबलेट के लाभ

टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस का इलाज

ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट एक दवा है जो उच्च ब्लड ग्लूकोज (शर्करा) के स्तरों को नियंत्रित करने में मदद करती है. यह आपके शरीर से मूत्र के माध्यम से अतिरिक्त ग्लूकोज निकालने में मदद करता है. यह हार्मोन इंसुलिन के प्रति शरीर की प्रतिक्रिया को बेहतर बनाता है, जो हमारे शरीर में ब्लड ग्लूकोज (शुगर) लेवल को नियंत्रित करने के लिए जिम्मेदार है.. इंसुलिन, आपके ब्लड ग्लूकोज़ लेवल को कम करने में मदद करता है और खाना खाने के बाद उसके बढ़ने की रोकथाम करता है.
निर्धारित अवधि तक इसका सेवन जारी रखें. ब्लड ग्लूकोज के लेवल को कम करना डायबिटीज को नियंत्रित करने का प्रमुख हिस्सा है. अगर आप इन स्तरों को नियंत्रित कर सकते हैं, तो आपमें डायबिटीज के कारण होने वाली गंभीर जटिलताओं जैसे कि किडनी का नुकसान, आंखों में नुकसान, तंत्रिका संबंधी समस्याएं और हाथ-पैरों का नुकसान आदि जैसे जोखिमों की संभावनाएं कम हो जाएगी. उचित आहार और व्यायाम के साथ इस दवा का नियमित सेवन आपको स्वस्थ और सामान्य जीवन जीने में मदद करेगा.

ग्लायकोज़ाइड एम टैबलेट के साइड इफेक्ट

इस दवा से होने वाले अधिकांश साइड इफेक्ट में डॉक्टर की सलाह लेने की ज़रूरत नहीं पड़ती है और नियमित रूप से दवा का सेवन करने से साइट इफेक्ट अपने आप समाप्त हो जाते हैं. अगर साइड इफ़ेक्ट बने रहते हैं या लक्षण बिगड़ने लगते हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह लें

ग्लायकोज़ाइड एम के सामान्य साइड इफेक्ट

  • हाइपोग्लाइसीमिया (लो ब्लड ग्लूकोज लेवल)
  • सिर दर्द
  • मिचली आना
  • चक्कर आना
  • डायरिया (दस्त)
  • पेट फूलना (गैस बनना)

ग्लायकोज़ाइड एम टैबलेट का इस्तेमाल कैसे करें

इस दवा की खुराक और अनुपान की अवधि के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें. इसे साबुत निगल लें. इसे चबाएं, कुचलें या तोड़ें नहीं. ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट को भोजन के साथ लेना बेहतर होता है.

ग्लायकोज़ाइड एम टैबलेट किस प्रकार काम करता है

ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट दो एंटीडायबिटिक दवाओं ग्लिक्लाज़ाइड और मेटफॉर्मिन से मिलकर बना है. ग्लिक्लाज़ाइड एक सल्फोनील्यूरिया है जो अग्न्याशय से निकलने वाले इंसुलिन की मात्रा को बढ़ाकर ब्लड ग्लूकोज को कम करने का काम करता है. मेटफार्मिन एक बिग्वानाइड है जो लीवर में ग्लूकोज उत्पादन को कम करके काम करता है, आंतों से ग्लूकोज अवशोषण में देरी करता है और इंसुलिन के प्रति शरीर की संवेदनशीलता बढ़ाता है.

सुरक्षा संबंधी सलाह

अल्कोहल
असुरक्षित
ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट के साथ शराब पीना सुरक्षित नहीं है.
गर्भावस्था
डॉक्टर की सलाह लें
गर्भावस्था के दौरान ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट का इस्तेमाल असुरक्षित है क्योंकि इससे बच्चे को खतरा होने के निश्चित साक्ष्य मिले हैं. कुछ जानलेवा परिस्थितियों में डॉक्टर इस दवा के सेवन की सलाह तब देते हैं, जब इससे होने वाले लाभ जोखिम की तुलना में अधिक हो. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
स्तनपान
डॉक्टर की सलाह लें
ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट स्तनपान के दौरान इस्तेमाल के लिए संभवतः असुरक्षित है. मानवो पर किए गए अध्ययनों से पता चलता है कि यह दवा मां के दूध में मिश्रित हो सकती है और बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती है.
ड्राइविंग
सावधान
यदि आपका रक्त शर्करा बहुत कम या बहुत अधिक है तो ड्राइव करने की आपकी क्षमता प्रभावित हो सकती है. इन लक्षणों के महसूस होने पर वाहन न चलाएं.
किडनी
सावधान
किडनी की बीमारियों से पीड़ित मरीजों में ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट का इस्तेमाल सावधानी के साथ किया जाना चाहिए. ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट की खुराक में बदलाव की आवश्यकता हो सकती है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट लेने की सलाह उन मरीजों को नहीं दी जाती है जिनको गंभीर रूप से गुर्दे की बीमारी है. इस दवा का सेवन करते समय किडनी फंक्शन टेस्ट की नियमित निगरानी की सलाह दी जाती है.
लिवर
सावधान
लिवर की बीमारियों से पीड़ित मरीजों में ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट का इस्तेमाल सावधानी से किया जाना चाहिए. ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट की खुराक में बदलाव की आवश्यकता हो सकती है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट आमतौर पर लिवर से जुड़ी हल्‍की से मध्‍यम बीमारी वाले मरीजों में कम खुराक के साथ शुरू की जाती है और इसका इस्तेमाल लिवर से जुड़ी गंभीर बीमारी के मरीजों में नहीं किया जाता है.

अगर आप ग्लायकोज़ाइड एम टैबलेट लेना भूल जाएं तो?

अगर आप ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट निर्धारित समय पर लेना भूल गए हैं तो जितनी जल्दी हो सके इसे ले लें. हालांकि, अगर अगली खुराक का समय हो गया है तो छूटी हुई खुराक को छोड़ दें और नियमित समय पर अगली खुराक लें. खुराक को डबल न करें.

सभी विकल्प

यह जानकारी सिर्फ सूचना के उद्देश्य से है. कृपया कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लें.
ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट
₹6.26/Tablet
ज़िल्मेट 30mg/500mg टैबलेट
एफडीसी लिमिटेड
₹2.69/tablet
57% cheaper
Gliclastar-M 30 Tablet
Zinnia Life Sciences
₹3.25/tablet
48% cheaper
₹4.71/tablet
25% cheaper
ग्लाय‌सिडैय एम 30mg/500mg टैबलेट
धड़कता है फार्मास्युटिकल्स
₹5/tablet
20% cheaper
Optrigliz M 30mg/500mg Tablet
Optrica Pharma Private Limited
₹6/tablet
4% cheaper

ख़ास टिप्स

  • जब आप इस दवा का सेवन कर रहे हों तो अपने ब्लड शुगर लेवल की नियमित जांच करें. 
  • यदि आप इसे अन्य एंटीडायबिटीज दवाओं, शराब के साथ इस्तेमाल करते हैं या अगर आप भोजन में देरी करते हैं या नहीं खाते हैं तो इसके कारण आपको हाइपोग्लाइसीमिया (लो ब्लड शुगर लेवल) हो सकता है. 
  • अगर आप कोई सर्जरी कराने जा रहे हैं जिसमें जनरल एनेस्थेटिक का प्रयोग होगा, तो डॉक्टर को अपने डायबिटीज के इलाज के बारे में बताएं.
  • यदि ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट लेने से आपको गहरी और तेज सांस लेने की परेशानी, लगातार मतली, उल्टी और पेट दर्द जैसा अनुभव हो रहा है तो लैक्टिक एसिडोसिस नामक एक दुर्लभ लेकिन गंभीर स्थिति के कारण हो सकता है, जो रक्त में लैक्टिक एसिड की अधिकता के वजह से होता है.
  • आपका डॉक्टर नियमित रूप से आपका लिवर फंक्शन चेक कर सकता है. अगर आपको पेट दर्द, भूख न लगना, या आंख या त्वचा का पीला (पीलिया) होना जैसे लक्षण दिखें तो अपने डॉक्टर को बताएं.

फैक्ट बॉक्स

लत लगने की संभावना
नहीं
चिकित्सीय वर्ग
ANTI DIABETIC

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्र. ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट क्या है?

ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट दो दवाओं का मिश्रण हैःग्लिक्लाज़ाइड और मेटफार्मिन. इस दवा का इस्तेमाल टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस (डीएम) के इलाज में किया जाता है. यह उचित आहार और नियमित व्यायाम के साथ लिए गए वयस्कों में ब्लड ग्लूकोज के स्तर में सुधार करता है. ग्लिक्लाज़ाइड अग्नाशय से इंसुलिन का स्त्रवण बढ़ाता है और इस प्रकार ब्लड ग्लूकोज के स्तरों को कम करता है. मेटफार्मिन लिवर में ग्लूकोज उत्पादन को कम करके और इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करके काम करता है. यह कॉम्बिनेशन टाइप 1 डीएम के इलाज के लिए दर्शाया गया है.

प्र. ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट के साइड इफेक्ट क्या हैं?

ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट का इस्तेमाल सामान्य दुष्प्रभाव से जुड़ा हुआ है. These side effects may include hypoglycemia (low blood sugar level), altered taste, nausea, stomach pain, diarrhea, headache and upper respiratory tract infection. इसके इस्तेमाल से गंभीर लेकिन दुर्लभ दुर्लभ प्रभाव जैसे लैक्टिक एसिडोसिस भी हो सकते हैं. दीर्घकालिक उपयोग पर, इससे विटामिन B12 की कमी भी हो सकती है.

प्र. क्या ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट के इस्तेमाल से हाइपोग्लाइसेमिया हो सकता है?

हां, ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट का इस्तेमाल हाइपोग्लाइसेमिया (ब्लड शुगर के स्तर घटना) का कारण बन सकता है. हाइपोग्लाइसेमिया के लक्षणों में उबकाई, सिरदर्द, जलनशीलता, भूख, पसीना, चक्कर आना, तेज दिल की दर और चिंताजनक या आकर्षक महसूस होना शामिल है. यह अक्सर होता है कि अगर आप अपना खाना, शराब पीते हैं, अधिक व्यायाम करते हैं या इसके साथ अन्य एंटीडायबिटीज दवाओं को लेते हैं, तो इससे अधिक समय लगता है. इसलिए, ब्लड शुगर लेवल की नियमित निगरानी महत्वपूर्ण है. हमेशा ग्लूकोस टैबलेट्स, हनी या फ्रूट जूस आपके साथ रखें.

प्र. क्या ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट के इस्तेमाल से लैक्टिक एसिडोसिस हो सकता है?

हां, ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट का इस्तेमाल करने से लैक्टिक एसिडोसिस हो सकता है. यह एक मेडिकल एमरज़ेंसी है जो रक्त में लैक्टिक एसिड के बढ़ते स्तर के कारण होती है. यह माला (मेटफार्मिन संबंधित लैक्टिक एसिडोसिस) के रूप में भी जाना जाता है. यह मेटफार्मिन के इस्तेमाल से जुड़ा एक दुर्लभ दुर्लभ प्रभाव है. यह किडनी से जुड़ी बीमारी, पुराने उम्र के रोगियों या जिनको शराब की बड़ी मात्रा लगती है उनके रोगियों में बचाया जाता है. Symptoms of lactic acidosis may include muscle pain or weakness, dizziness, tiredness, feeling of cold in arms and legs, difficulty in breathing, nausea, vomiting, stomach pain or slow heart rate. अगर आपको ये लक्षण हैं, तो ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट लेना बंद करें और तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श करें.

प्र. क्या ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट के इस्तेमाल से विटामिन B12 की कमी हो सकती है?

हां, ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट का लंबे समय तक इस्तेमाल करने से विटामिन बी-12 की कमी हो सकती है. यह कमी होती है क्योंकि दवा पेट में विटामिन B12 के अवशोषण के साथ हस्तक्षेप करती है. अगर इलाज नहीं किया जाता है, तो इससे एनीमिया और नर्व समस्याएं हो सकती हैं और रोगी को हाथों और पैरों, कमजोरी, मूत्रमार्ग की समस्याएं, मानसिक स्थिति में बदलाव और बैलेंस बनाए रखने में समस्या हो सकती है (एटैक्सिया). ऐसी समस्याओं से बचने के लिए, कुछ शोधकर्ता हर वर्ष में कम से कम एक बार बाहरी स्रोतों से विटामिन B12 का सेवन करने का सुझाव देते हैं.

प्र. क्या कोई विशिष्ट शर्तें हैं जिनमें ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट नहीं लिया जाना चाहिए?

ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट का उपयोग इस दवा के किसी भी घटक या उत्साह के लिए ज्ञात एलर्जी वाले रोगियों में नहीं किया जाना चाहिए. यह मध्यम से गंभीर गुर्दे की बीमारी या मधुमेह कीटोएसिडोसिस सहित अंतर्निहित मेटाबोलिक एसिडोसिस के साथ रोगियों में भी बचा जाता है.

प्र. क्या ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट लेते समय शराब का सेवन करना सुरक्षित है?

नहीं, ग्लायकोज़ाइड एम 30mg/500mg टैबलेट के साथ शराब लेना सुरक्षित नहीं है. यह आपके लो ब्लड शुगर लेवल (हाइपोग्लाइसीमिया) को कम कर सकता है और लैक्टिक एसिडोसिस की संभावना बढ़ा सकता है.

जानकारी साझा करना चाहते हैं?

Disclaimer:

टाटा 1mg's का एकमात्र उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि उसके उपभोक्ताओं को एक्सपर्ट द्वारा जांच की गई, सटीक और भरोसेमंद जानकारी मिले. यहां उपलब्ध जानकारी को चिकित्सकीय परामर्श के विकल्प के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए. यहां दिए गए विवरण सिर्फ़ आपकी जानकारी के लिए हैं. यह संभव है कि इसमें स्वास्थ्य संबधी किसी विशेष समस्या, लैब टेस्ट, दवाओं और उनके सभी संभावित दुष्प्रभावों, पारस्परिक प्रभाव और उनसे जुड़ी सावधानियां एवं चेतावनियों के बारे में सारी जानकारी सम्मिलित ना हो। किसी भी दवा या बीमारी से जुड़े अपने सभी सवालों के लिए डॉक्टर से संपर्क करें. हमारा उद्देश्य डॉक्टर और मरीज के बीच के संबंध को मजबूत बनाना है, उसका विकल्प बनना नहीं.

रिफरेंस

  1. Gottwald-Hostalek U, Schlachter J, Geloneze B. Combination Therapy with Metformin plus Gliclazide in Patients with Type 2 Diabetes. J Dia Res Ther. 2016;2(3). [Accessed 08 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  2. Gliclazide. Dupnitsa, Bulgaria: Balkanpharma-Dupnitsa AD; 2016. [Accessed 08 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  3. Metformin hydrochloride. Princeton, New Jersey: Bristol-Myers Squibb Company. [Accessed 08 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  4. Gliclazide+Metformin [Product Monograph]. Solan, Himachal Pradesh: Panacea Biotec Limited; 2019. [Accessed 23 Sept. 2021] (online) Available from:External Link
  5. American Diabetes Association. 9. Pharmacologic Approaches to Glycemic Treatment: Standards of Medical Care in Diabetes-2020. Diabetes Care. 2020;43(Suppl 1): S98-S110. [Accessed 23 Sept. 2021] (online) Available from:External Link
  6. Central Drugs Standard Control Organisation (CDSCO). [Accessed 13 Mar. 2019] (online) Available from:External Link

निर्माता/मार्केटर का एड्रेस

No. 10, 2nd Cross, Maravaneri, Salem - 636007, Tamil Nadu.
मूल देश: भारत

The list of available options shown with the same composition has been prepared upon the advice of registered medical practitioners, pharmacists affiliated with TATA 1MG. TATA 1MG does not promote any pharmaceutical product of any particular company, and all recommendations are based on the medical opinion, advisories from specialist medical and pharmaceutical professionals.
MRP
62.6
सभी कर शामिल
1 स्ट्रिप में 10 टेबलेट्स
बिक चुके हैं
मुझे सूचित करें
Available substitutes
Available substitutes
Same salt composition:ग्लिक्लाजाइड (30एमजी), मेटफॉर्मिन (500एमजी)
https://onemg.gumlet.io/epf1dtoymcv3sbkzuspl.png
Same salt composition
https://onemg.gumlet.io/qkdhgo7ram1mle08cya9.png
Verified by doctors
https://onemg.gumlet.io/ehvn8wef9oaoewteak8d.png
Popularly bought
https://onemg.gumlet.io/xnv1s7snefeql2hkalfr.png
Trusted quality
Why buy substitutes from 1mg?question-mark

INDIA’S LARGEST HEALTHCARE PLATFORM

260m+
Visitors
31m+
Orders Delivered
1800+
Cities
Get the link to download App
Reliable

All products displayed on Tata 1mg are procured from verified and licensed pharmacies. All labs listed on the platform are accredited

Secure

Tata 1mg uses Secure Sockets Layer (SSL) 128-bit encryption and is Payment Card Industry Data Security Standard (PCI DSS) compliant

Affordable

Find affordable medicine substitutes, save up to 50% on health products, up to 80% off on lab tests and free doctor consultations.

India's only LegitScript and ISO/ IEC 27001 certified online healthcare platform

Know more about Tata 1mgdownArrow

Access medical and health information

Tata 1mg provides you with medical information which is curated, written and verified by experts, accurate and trustworthy. Our experts create high-quality content about medicines, diseases, lab investigations, Over-The-Counter (OTC) health products, Ayurvedic herbs/ingredients, and alternative remedies.

Order medicines online

Get free medicine home delivery in over 1800 cities across India. You can also order Ayurvedic, Homeopathic and other Over-The-Counter (OTC) health products. Your safety is our top priority. All products displayed on Tata 1mg are procured from verified and licensed pharmacies.

Book lab tests

Book any lab tests and preventive health packages from certified labs and get tested from the comfort of your home. Enjoy free home sample collection, view reports online and consult a doctor online for free.

Consult a doctor online

Got a health query? Consult doctors online from the comfort of your home for free. Chat privately with our registered medical specialists to connect directly with verified doctors. Your privacy is guaranteed.