ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर

डॉक्टर की पर्ची ज़रूरी है

परिचय

ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर एंटी-डायबिटिक ड्रग्स के नाम से जानी जाने वाली दवाओं की श्रेणी से संबंधित है. यह दो दवाओं का कम्‍बीनेशन है जो वयस्‍कों में टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस के लक्षणों को असरदार ढ़ंग से नियंत्रित करता है. यह डायबिटीज के लोगों में ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है.

ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर को खाने के साथ लेना चाहिए. अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए इसे हर रोज एक नियमित रूप से एक ही समय पर लें. आपका डॉक्टर यह निर्णय लेगा कि आपके लिए कौन सी खुराक सबसे अच्छी है और यह समय-समय पर बदल सकती है इस अनुसार कि यह आपके खून में शुगर के स्तर के अनुसार कैसे काम कर रही है.

अगर आप अच्छा महसूस कर रहे हैं या आपके ब्लड शुगर का स्तर नियंत्रित है, तो भी इस दवा का सेवन करते रहें. अगर आप अपने डॉक्टर से परामर्श किए बिना इसे लेना बंद करेंगे, तो आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है और आपको किडनी को नुकसान, अंधापन, तंत्रिका समस्याओं और अंगों के नुकसान का जोखिम हो सकता है.. याद रखें कि यह दवा, इलाज का केवल एक हिस्सा है जिसमें आपके डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह के अनुसार स्वस्थ आहार और नियमित व्यायाम भी शामिल होना चाहिए. आपकी जीवनशैली डायबिटीज को नियंत्रित करने में एक बड़ी भूमिका निभाती है.

ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर का सबसे सामान्य साइड इफेक्ट ब्लड ग्लूकोज स्तर में गिरावट (हाइपोग्लाइसेमिया) है. सुनिश्चित करें कि आप लो ब्लड ग्लूकोज लेवल के लक्षणों जैसे कि पसीना आना, चक्कर आना, सिरदर्द और कंपकंपी को पहचानते हैं, और आपको पता है कि इससे कैसे निपटना है.. इसकी रोकथाम के लिए, हमेशा नियमित रूप से भोजन करना और ग्लूकोज का तेज़ी से काम करने वाला स्रोत जैसे कि शुगर वाले खाद्य पदार्थ या फलों का जूस अपने साथ रखना जरूरी है.. शराब पीने से आपका ब्लड शुगर के स्तर में कमी का जोखिम भी बढ़ सकता है और इसलिए इससे बचना चाहिए. इस दवा को लेने पर देखे जाने वाले अन्य साइड इफेक्ट में स्वाद में बदलाव, मिचली आना , डायरिया (दस्त), पेट में दर्द , सिर दर्द और श्वसन तंत्र के उपरी हिस्से में संक्रमण शामिल हैं. इस दवा से कुछ लोगों का वजन बढ़ सकता है.

इस दवा को लेने से पहले, अगर आपको कभी हृदय रोग था तो अपने डॉक्टर को बताएं. यह उपयुक्त नहीं हो सकता है. गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इसे लेने से पहले डॉक्टर से भी परामर्श करना चाहिए. आपके ब्लड शुगर लेवल की नियमित रूप से जांच होनी चाहिए और आपके डॉक्टर आपके ब्लड सेल काउंट और लिवर फंक्शन की निगरानी के लिए ब्लड टेस्ट की सलाह भी दे सकते हैं.

Benefits of Glifit-M Tablet SR

टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस में

ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर एक कॉम्बिनेशन दवा है जो आपके शरीर के द्वारा बनाए जाने वाले इन्सुलिन की मात्रा को (अग्नाशय में) बढ़ाती है. इसके बाद इंसुलिन आपके ब्लड ग्लूकोज़ लेवल को कम करने के लिए काम करता है. आमतौर पर इसे दिन में एक बार लिया जाता है. निर्धारित अवधि तक इसका सेवन जारी रखें.
ब्लड ग्लूकोज के लेवल को कम करना डायबिटीज को नियंत्रित करने का प्रमुख हिस्सा है. अगर आप इन स्तरों को नियंत्रित कर सकते हैं, तो आपमें डायबिटीज के कारण होने वाली गंभीर जटिलताओं जैसे कि किडनी का नुकसान, आंखों में नुकसान, तंत्रिका संबंधी समस्याएं और हाथ-पैरों का नुकसान आदि जैसे जोखिमों की संभावनाएं कम हो जाएगी. उचित आहार और व्यायाम के साथ इस दवा का नियमित सेवन आपको स्वस्थ और सामान्य जीवन जीने में मदद करेगा.

Side effects of Glifit-M Tablet SR

इस दवा से होने वाले अधिकांश साइड इफेक्ट में डॉक्टर की सलाह लेने की ज़रूरत नहीं पड़ती है और नियमित रूप से दवा का सेवन करने से साइट इफेक्ट अपने आप समाप्त हो जाते हैं. अगर साइड इफ़ेक्ट बने रहते हैं या लक्षण बिगड़ने लगते हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह लें

ग्लाईफिट-एम के सामान्य साइड इफेक्ट

  • हाइपोग्लाइसीमिया (लो ब्लड ग्लूकोज लेवल)
  • स्वाद में बदलाव
  • मिचली आना
  • डायरिया (दस्त)
  • पेट में दर्द
  • सिर दर्द
  • श्वसन तंत्र के उपरी हिस्से में संक्रमण

How to use Glifit-M Tablet SR

इस दवा की खुराक और अनुपान की अवधि के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें. इसे साबुत निगल लें. इसे चबाएं, कुचलें या तोड़ें नहीं. ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर को भोजन के साथ लेना बेहतर होता है.

How Glifit-M Tablet SR works

ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर दो एंटीडायबिटिक दवाओं का मिश्रण है: ग्लाइम्पिराइड और मेट्फोर्मिन. ग्लिमेंपिराइड एक सल्फोनील्यूरिया है जो अग्न्याशय से निकलने वाले इंसुलिन की मात्रा को बढ़ाकर ब्लड ग्लूकोज को कम करने का काम करता है. मेटफार्मिन एक बिग्वानाइड है जो लीवर में ग्लूकोज उत्पादन को कम करके काम करता है, आंतों से ग्लूकोज अवशोषण में देरी करता है और इंसुलिन के प्रति शरीर की संवेदनशीलता बढ़ाता है.

सुरक्षा संबंधी सलाह

अल्कोहल
असुरक्षित
ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर के साथ शराब पीना सुरक्षित नहीं है.
गर्भावस्था
डॉक्टर की सलाह लें
गर्भावस्था के दौरान ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर का इस्तेमाल करना असुरक्षित हो सकता है.. हालांकि, इंसानों से जुड़े शोध सीमित हैं लेकिन जानवरों पर किए शोधों से पता चलता है कि ये विकसित हो रहे शिशु पर हानिकारक प्रभाव डालता है. आपके डॉक्टर पहले इससे होने वाले लाभ और संभावित जोखिमों की तुलना करेंगें और उसके बाद ही इसे लेने की सलाह देंगें. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
स्तनपान
डॉक्टर की सलाह पर सुरक्षित
स्तनपान के दौरान ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर का इस्तेमाल संभवतः सुरक्षित है. मानव पर किए गए सीमित शोध से यह पता चलता है कि दवा से बच्चे को कोई गंभीर जोखिम नहीं पहुंचता है.
ड्राइविंग
सावधान
यदि आपका रक्त शर्करा बहुत कम या बहुत अधिक है तो ड्राइव करने की आपकी क्षमता प्रभावित हो सकती है. इन लक्षणों के महसूस होने पर वाहन न चलाएं.
किडनी
सावधान
किडनी की बीमारियों से पीड़ित मरीजों में ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर का इस्तेमाल सावधानी के साथ किया जाना चाहिए. ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर की खुराक में बदलाव की आवश्यकता हो सकती है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर लेने की सलाह उन मरीजों को नहीं दी जाती है जिनको गंभीर रूप से गुर्दे की बीमारी है. इस दवा का सेवन करते समय किडनी फंक्शन टेस्ट की नियमित निगरानी की सलाह दी जाती है.
लिवर
सावधान
लिवर की बीमारियों से पीड़ित मरीजों में ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर का इस्तेमाल सावधानी से किया जाना चाहिए. ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर की खुराक में बदलाव की आवश्यकता हो सकती है. कृपया अपने डॉक्टर से सलाह लें.
ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर आमतौर पर लिवर से जुड़ी हल्‍की से मध्‍यम बीमारी वाले मरीजों में कम खुराक के साथ शुरू की जाती है और इसका इस्तेमाल लिवर से जुड़ी गंभीर बीमारी के मरीजों में नहीं किया जाता है.

वैकल्पिक ब्रांड्स

यह जानकारी सिर्फ सूचना के उद्देश्य से है. कृपया कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर से परामर्श लें.
ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर
₹6.0/Tablet SR
ग्लाय्‌साइर्सट-G2 टैबलेट सीनियर
इन्नोवेटिव फार्मास्युटिकल्स
₹4.73/Tablet SR
21% cheaper
ज़ायवैना m2 टैबलेट एसआर
कन्वर्ज बायोटेक
₹5.7/टैबलेट सीनियर
5% cheaper
₹5.8/टैबलेट सीनियर
3% cheaper
Glimtek-M2 टैबलेट सीनियर
एमफैटिक फार्मास्यूटिकल्स प्राइवेट लिमिटेड
₹5.9/Tablet SR
2% cheaper
₹6.3/Tablet SR
5% costlier

ख़ास टिप्स

  • जब आप इस दवा का सेवन कर रहे हों तो अपने ब्लड शुगर लेवल की नियमित जांच करें. 
  • यदि आप इसे अन्य एंटीडायबिटीज दवाओं, शराब के साथ इस्तेमाल करते हैं या अगर आप भोजन में देरी करते हैं या नहीं खाते हैं तो इसके कारण आपको हाइपोग्लाइसीमिया (लो ब्लड शुगर लेवल) हो सकता है. 
  • अगर आप कोई सर्जरी कराने जा रहे हैं जिसमें जनरल एनेस्थेटिक का प्रयोग होगा, तो डॉक्टर को अपने डायबिटीज के इलाज के बारे में बताएं.
  • यदि ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर लेने से आपको गहरी और तेज सांस लेने की परेशानी, लगातार मतली, उल्टी और पेट दर्द जैसा अनुभव हो रहा है तो लैक्टिक एसिडोसिस नामक एक दुर्लभ लेकिन गंभीर स्थिति के कारण हो सकता है, जो रक्त में लैक्टिक एसिड की अधिकता के वजह से होता है.
  • आपका डॉक्टर नियमित रूप से आपका लिवर फंक्शन चेक कर सकता है. अगर आपको पेट दर्द, भूख न लगना, या आंख या त्वचा का पीला (पीलिया) होना जैसे लक्षण दिखें तो अपने डॉक्टर को बताएं.

फैक्ट बॉक्स

लत लगने की संभावना
नहीं
चिकित्सीय वर्ग
ANTI DIABETIC

पेशेंट कंसर्न

arrow
Diabetes mellitus type 2 ,thirst
Dr. Sanjay Bhatt
Physician
A person can control his or her sugar levels by doing regular exercise and walk or regular aerobic exercises at least 30 to 45 minutes per day.MEDICAL NUTRITIONAL THERAPY THAT IS TO MAINTAIN CALORIES INTAKE AS PER BMI .TAKE HELP OF DIABETIC EDUCATOR. VISIT YOUR DOCTOR AND FOLLOW ALL WHAT DOCTOR SUGGESTED.IN TIME ALL ROUTINE INVESTIGATIONS SHOULD BE DONE.you should not treat it as disease but a start of a healthy life.Uncontrolled sugar levels for long time leads to lower limb weakness which is neuropathy and which is followed by foot ulcers and other complications like kidney or heart problems .online prescription is not allowed without seeing pt.so contact doctor nearby for any change or dose adjustment or visit my clinic at gurgaon sector 52 RdCity snergy multi speciality clinic near SRS MARKET
Diabetes mellitus type 2 required only ayurvedic medicine
Dr. Sanjay Bhatt
Physician
Go for allopathic medicine
arrow
क्या आप ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर से संबंधित कोई सवाल पूछना चाहते हैं?

यूजर का फीडबैक


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्र. ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर के लिए सुझाए गए स्टोरेज की शर्तें क्या हैं?

इस दवा को कंटेनर में रखें या उसके पैक को कठोर रूप से बंद कर दिया गया है. पैक या लेबल पर उल्लिखित निर्देशों के अनुसार इसे स्टोर करें. इस्तेमाल न किए गए दवा का निपटान. यह सुनिश्चित करें कि पालतू जानवरों, बच्चों और अन्य लोगों द्वारा इसका सेवन न किया जाए.

प्र. क्या ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर के इस्तेमाल से लैक्टिक एसिडोसिस हो सकता है?

हां, ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर का इस्तेमाल करने से लैक्टिक एसिडोसिस हो सकता है. यह एक मेडिकल एमरज़ेंसी है जो रक्त में लैक्टिक एसिड के बढ़ते स्तर के कारण होती है. इसे माला (मेटफार्मिन-असोसिएटिड लैक्टिक एसिडोसिस) के नाम से भी जाना जाता है. यह मेटफार्मिन के इस्तेमाल से जुड़ा एक बहुत ही दुर्लभ साइड इफेक्ट है और इसलिए इसे किडनी की बीमारी वाले मरीजों, वयोवृद्ध मरीजों और बहुत अधिक शराब पीने वाले मरीजों के लिए हानिकारक माना जाता है. लैक्टिक एसिडोसिस के लक्षणों में मांसपेशियों में दर्द या कमजोरी, चक्कर आना, थकान, हाथों और टांगों में ठंड लगना, सांस लेने में कठिनाई, मिचली आना , उल्टी, पेट में दर्द या दिल की धड़कन धीमी होना शामिल हो सकते हैं. अगर आपको ये लक्षण हैं, तो ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर लेना बंद करें और तुरंत अपने डॉक्टर से परामर्श करें.

प्र. ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर क्या है?

ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर इन दो दवाओं ग्लिमेंपिराइड और मेटफॉर्मिन से मिलकर बना है. इस दवा का इस्तेमाल टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस (डीएम) के इलाज में किया जाता है. यह उचित आहार और नियमित व्यायाम के साथ लिए गए वयस्कों में ब्लड ग्लूकोज के स्तर में सुधार करता है. ग्लिमेंपिराइड अग्नाशय से इंसुलिन का स्त्रवण बढ़ाता है और इस प्रकार ब्लड ग्लूकोज के स्तरों को कम करता है. मेटफार्मिन लिवर में ग्लूकोज उत्पादन को कम करके और इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करके काम करता है. यह कॉम्बिनेशन टाइप 1 डीएम के इलाज के लिए दर्शाया गया है.

प्र. ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर के साइड इफेक्ट क्या हैं?

ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर के इस्तेमाल से हाइपोग्लाइसेमिया (कम ब्लड शुगर स्तर), स्वाद में परिवर्तन, मिचली आना , पेट में दर्द , डायरिया (दस्त), सिर दर्द और श्वसन तंत्र के उपरी हिस्से में संक्रमण जैसे साइड इफेक्ट हो सकते हैं. इसके इस्तेमाल से गंभीर लेकिन दुर्लभ दुर्लभ प्रभाव जैसे लैक्टिक एसिडोसिस भी हो सकते हैं. दीर्घकालिक उपयोग पर इससे विटामिन B12 की कमी भी हो सकती है.

Q. Can the use of Glifit-M 2 Tablet SR lead to Vitamin B12 deficiency

हां, ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर का लंबे समय तक इस्तेमाल करने से विटामिन बी-12 की कमी हो सकती है. यह पेट में विटामिन B12 के अवशोषण के साथ हस्तक्षेप करता है. अगर इलाज नहीं किया जाता है, तो इससे एनीमिया और तंत्रिका की समस्याएं हो सकती हैं और रोगी हाथों और पैरों, कमजोरी, मूत्रमार्ग की समस्याओं, मानसिक स्थिति में बदलाव और बैलेंस बनाए रखने में समस्या (एटैक्सिया) का अनुभव हो सकता है. ऐसी समस्याओं से बचने के लिए, कुछ शोधकर्ता हर वर्ष में कम से कम एक बार बाहरी स्रोतों से विटामिन B12 का सेवन करने का सुझाव देते हैं.

प्र. क्या ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर के इस्तेमाल से हाइपोग्लाइसेमिया हो सकता है?

हां, ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर का इस्तेमाल हाइपोग्लाइसेमिया (ब्लड शुगर के स्तर घटना) का कारण बन सकता है. हाइपोग्लाइसेमिया के लक्षणों में उबकाई, सिरदर्द, जलनशीलता, भूख, पसीना, चक्कर आना, तेज दिल की दर और चिंताजनक या आकर्षक महसूस होना शामिल है. यह अक्सर होता है कि अगर आप अपना खाना, शराब पीते हैं, अधिक व्यायाम करते हैं या इसके साथ अन्य एंटीडायबिटीज दवाओं को लेते हैं, तो इससे अधिक समय लगता है. इसलिए, ब्लड शुगर लेवल की नियमित निगरानी महत्वपूर्ण है. हमेशा ग्लूकोज टैबलेट्स, हनी या फ्रूट ज्यूस जैसे शुगर का तुरंत स्रोत रखें.

प्र. क्या ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर लेते समय शराब का सेवन करना सुरक्षित है?

नहीं, ग्लाईफिट-एम 2 टैबलेट सीनियर को शराब के साथ लेना सुरक्षित नहीं है, क्योंकि इससे आपका ब्लड शुगर का स्तर कम हो सकता है और हाइपोग्लाइसेमिया का कारण बन सकता है. यह लैक्टिक एसिडोसिस की संभावना भी बढ़ा सकता है.

संबंधित प्रोडक्ट

जानकारी साझा करना चाहते हैं?

Disclaimer:

1mg's sole intention is to ensure that its consumers get information that is expert-reviewed, accurate and trustworthy. However, the information contained herein should NOT be used as a substitute for the advice of a qualified physician. The information provided here is for informational purposes only. This may not cover all possible side effects, drug interactions or warnings or alerts. Please consult your doctor and discuss all your queries related to any disease or medicine. We intend to support, not replace, the doctor-patient relationship.

रिफरेंस

  1. Glimepiride + Metformin. Karachi, Pakistan: Sanofi-Aventis Pakistan Ltd. [Accessed 23 Jan. 2019] (online) Available from:External Link
  2. Metformin Hydrochloride Prolonged Release & Glimepiride Tablets I.P. Ankleshwar: Sanofi India Limited; 2018. [Accessed 08 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  3. Glimepiride. Bridgewater, New Jersey: Sanofi-Aventis U.S. LLC.; 2009. [Accessed 08 Apr. 2019] (online) Available from:External Link
  4. Metformin hydrochloride. Princeton, New Jersey: Bristol-Myers Squibb Company. [Accessed 08 Apr. 2019] (online) Available from:External Link

निर्माता/मार्केटर का एड्रेस

एम.आई. एस्टेट जी.डी. अंबेकर मार्ग, वडाला, मुंबई , महाराष्ट्र, इंडिया
मूल देश: भारत

Best Price
₹51
MRP60  15% की छूट पाएं
सभी कर शामिल
₹499 से अधिक के ऑर्डर पर सर्वश्रेष्ठ मान्य कीमत है
1 स्ट्रिप में 10 टैबलेट एसआर
बिक चुके हैं

INDIA’S LARGEST HEALTHCARE PLATFORM

150M+
Visitors
25M+
Orders Delivered
1000+
Cities
Get the link to download App
Reliable

All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies. All labs listed on the platform are accredited

Secure

1mg uses Secure Sockets Layer (SSL) 128-bit encryption and is Payment Card Industry Data Security Standard (PCI DSS) compliant

Affordable

Find affordable medicine substitutes, save up to 50% on health products, up to 80% off on lab tests and free doctor consultations.

India's only LegitScript and ISO/IEC 27001 certified online healthcare platform

Know More About 1mgdownArrow

Access medical and health information

1mg provides you with medical information which is curated, written and verified by experts, accurate and trustworthy. Our experts create high-quality content about medicines, diseases, lab investigations, Over-The-Counter (OTC) health products, Ayurvedic herbs/ingredients, and alternative remedies.

Order medicines online

Get free medicine home delivery in over 1000 cities across India. You can also order Ayurvedic, Homeopathic and other Over-The-Counter (OTC) health products. Your safety is our top priority. All products displayed on 1mg are procured from verified and licensed pharmacies.

Book lab tests

Book any lab tests and preventive health packages from certified labs and get tested from the comfort of your home. Enjoy free home sample collection, view reports online and consult a doctor online for free.

Consult a doctor online

Got a health query? Consult doctors online from the comfort of your home for free. Chat privately with our registered medical specialists to connect directly with verified doctors. Your privacy is guaranteed.